ANM Course क्या है कैसे करें? | ANM Course details in Hindi 2022

आप सभी तो जानते ही हैं कि आज के समय में शिक्षा काफी ज्यादा महत्वपूर्ण हो गया है। बिना शिक्षा प्राप्त किए किसी भी क्षेत्र में तरक्की हासिल करना संभव नहीं होता है। यही कारण है कि भारत देश में भी शिक्षा की महत्वता बढ़ती जा रही है। वर्तमान समय में अलग-अलग क्षेत्र के अनुसार अलग-अलग तरह के कोर्स मौजूद है, जिनके माध्यम से अपने मनचाहे क्षेत्र में तरक्की हासिल करने का मौका मिलता है।

उन्ही अलग-अलग कोर्स में से एक ANM Course है। यह एक तरह का diploma course होता है, जिसे 12वीं पास करने के बाद किया जाता है। यह कोर्स Nursing के क्षेत्र में अपना करियर बनाने का मौका देता है। यह 2 साल का कोर्स होता है। यदि आप इस कोर्स को करना चाहते हैं, तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें। क्योंकि आज हम आप सभी को अपने इस आर्टिकल के माध्यम से ANM Course kya hai और इससे जुड़े हुए सभी तरह के महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में बताएंगे। तो आइए बिना समय गवाएं इस विषय के बारे में जानते हैं।

ANM का Full Form क्या है: (ANM full form in Hindi)

ANM का full form Auxiliary Nurse Midwifery होता है, जिसका हिंदी में अर्थ सहायक नर्स दाई होता है। यह एक तरह का कोर्स होता है, जिसे 12वीं पास विद्यार्थियों द्वारा किया जाता है। यह Nursing के क्षेत्र से जुड़ा हुआ एक बहुत ही अच्छा कोर्स होता है। जिसे पूरा कर लेने के बाद सहायक नर्स के रूप में कार्य करने का मौका मिलता है।

ANM कोर्स क्या है? (ANM Course kya hai)

ANM Course details in Hindi

ANM एक तरह का डिप्लोमा कोर्स होता है, जो कि केवल 2 साल का होता है। इस 2 साल के कोर्स को पूरा कर लेने के बाद 6 महीने का इंटर्नशिप भी पूरा करना होता है। यह कोर्स नर्सिंग क्षेत्र से जुड़ा हुआ एक बहुत ही अच्छा कोर्स होता है। इस कोर्स को पूरा कर लेने के बाद नर्स के पद पर नौकरी करने का मौका मिलता है।

ANM (Auxiliary Nurse Midwifery) जिसे हिंदी में सहायक नर्स दाई कहा जाता है। आपको इस कोर्स के नाम से ही समझ में आ रहा होगा कि इस कोर्स को पूरा कर लेने के बाद सहायक नर्स के पद की नियुक्ति होती है।

ANM Course Nursing क्षेत्र से जुड़ा हुआ दो साल का एक बेहतरीन diploma course है। इस कोर्स को केवल Science या Arts stream से 12वीं पास किए गए विद्यार्थियों द्वारा ही किया जा सकता है। इस कोर्स के अंतर्गत विद्यार्थियों को nursing से जुड़े हुए सभी तरह के कार्यों की training दी जाती है, जैसे कि- मरीजों की देखरेख करना, Doctor की मदद करना, इलाज के दौरान होने वाले सभी तरह के कार्यों को करना, टीका लगाने का काम, इत्यादि तरह के कार्य सिखाए जाते हैं। वैसे तो इस कोर्स को पुरुष या महिला कोई भी कर सकता है परंतु इस कोर्स को ज्यादातर महिलाओं द्वारा ही किया जाता है।

ANM कोर्स कैसे करें? (ANM Course details in Hindi 2022)

ANM कोर्स को करना कोई मुश्किल काम नहीं होता है, यह एक बहुत ही अच्छा और मजेदार कोर्स होता है। इस कोर्स को 12वीं पास विद्यार्थी द्वारा किया जाता है। इस कोर्स को करने के लिए 12वीं कक्षा में साइंस या आर्ट्स स्ट्रीम से कम से कम 45% marks होना जरूरी होता है। केवल 12वीं पास करने के बाद हि इस कोर्स को आसानी के साथ किया जा सकता है।

आज के समय में ऐसे बहुत सारे कॉलेज या संस्था मौजूद है, जहां पर direct admission की सुविधा मौजूद होती है। और ऐसे ही बहुत से कॉलेज या institute मौजूद है, जहां पर Entrance Exam के माध्यम से Admission लिया जाता है। बस आपको इस कोर्स को करने के लिए किसी भी कॉलेज या इंस्टीट्यूट में ऐडमिशन लेने होता है। उसके बाद इस कोर्स को क्लियर कर लेने के बाद 6 महीने का Internship भी पूरा करना होता है। जिसके दौरान आपको नर्स से जुड़े हुए सभी तरह के कार्य के बारे में सिखाया जाता है। इस कोर्स की अवधि पूरा हो जाने के बाद आप एक सहायक नर्स के पद के लिए योग्य होंगे।

ANM कोर्स के लिए योग्यता (Anm Course ke liye Qualification)

ANM Course Medical और Nursing के क्षेत्र से जुड़ा हुआ एक बहुत ही अच्छा Course होता है। इस कोर्स को करने के लिए कुछ विशेष योग्यताएं निर्धारित की गई होती हैं जिनके आधार पर ही इस कोर्स के लिए Admission दिया जाता है। जोकि निम्नलिखित है-

  1. उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं की कक्षा उत्तीर्ण करनी होती है।
  2. उम्मीदवार का 12वीं कक्षा में Arts या Science Stream होना अनिवार्य होता है।
  3. उम्मीदवार का 12वीं कक्षा में कम से कम 45% मार्क्स होना अनिवार्य है।
  4. इस कोर्स को करने के लिए उम्मीदवार कि न्यूनतम आयु 17 साल और अधिकतम आयु 35 साल होना चाहिए।

ANM कोर्स कितने साल का होता है?

ANM एक डिप्लोमा कोर्स होता है जो कि मात्र 2 वर्ष का होता है इस कोर्स को केवल 2 वर्ष के अंदर में हि पूर्ण किया जाता है। 2 साल की अवधि को पूरा कर लेने के बाद 6 महीने का इंटर्नशिप भी पूरा करना होता है।

ANM मेडिकल और नर्सिंग के क्षेत्र में किया जाने वाला एक Certificate और Diploma Course होता है। ANM Course की अवधि केवल 2 साल की ही होती है। जिसके अंतर्गत 6 महीने की Internship भी अनिवार्य रूप से शामिल होता है।

ANM कोर्स करने के लिए कितना Fees लगता है:-

आज के समय में किसी भी तरह के कोर्स को करने के लिए अच्छा खासा फीस देने की जरूरत होती है। ठीक इसी तरह से ANM कोर्स को करने के लिए भी कुछ फिस की जरूरत होती है। इस कोर्स को आप किसी भी गवर्नमेंट या प्राइवेट कॉलेज के माध्यम से कर सकते हैं। आपको बता दें कि इस कोर्स की फीस गवर्नमेंट और प्राइवेट दोनों कॉलेज में अलग-अलग होती है। प्राइवेट कॉलेज के मुकाबले गवर्नमेंट कॉलेज में इस कोर्स की फीस कम होती है।

एएनएम कोर्स कि फीस सभी सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज में अलग-अलग होती है। सरकारी कॉलेज में एडमिशन पाने के लिए एंट्रेंस एग्जाम दिलाना होता, जिसके अंतर्गत मेरिट लिस्ट के आधार पर सिलेक्शन किया जाता है। आपको बता दे कि सरकारी कॉलेज में आरक्षित वर्ग के लोगो के लिए फीस में छूट दी जाती है। सरकारी कॉलेज में आरक्षित वर्ग के लोगों को इस कोर्स को फ्री में करने की सुविधा दी जाती है। जबकि जनरल व ओबीसी वर्गों के लोगों के लिए फीस कम से कम 20,000 रूपए के आसपास हो सकती है। यदि बात करें प्राइवेट कॉलेज की फीस की तो आपको बता दें कि इस कोर्स को प्राइवेट कॉलेज में करने पर कम से कम ₹60000 से लेकर के ₹100000 तक का फीस लग सकता है।

People Also Read:-

Nursing Course क्या है, नर्स कैसे बने पूरी जानकारी?

BDS Course क्या है, (Dentist) दांतो का डॉक्टर कैसे बने?

M.S क्या है, Surgery Doctor कैसे बने पूरी जानकारी?

M.D क्या है, Medicine Doctor कैसे बनते हैं?

Veterinary Doctor (जानवरों का डॉक्टर) कैसे बने पूरी जानकारी?

ANM कोर्स के कार्य क्या होते हैं:-

जैसा कि हमने आपको बताया है कि ANM Medical और Nursing क्षेत्र से जुड़ा हुआ एक Course होता है। तो आपको इससे समझ में आ ही गया होगा कि इस कोर्स के कार्य क्या क्या होते हैं। ANM के अलग अलग तरह के कार्य होते हैं, जोकि निम्नलिखित है-

  1. मरीजों की देखभाल करना।
  2. Doctors के छोटे बड़े कार्य को करने में मदद करना।
  3. मरीजों का समय-समय पर Checkup करना और ख्याल रखना।
  4. मरीज़ों के Records को Maintain करना।
  5. Hospital का अच्छे से रखरखाव करना, इत्यादि।

ANM की सैलरी कितनी होती है (ANM Salary per month in Hindi)

ANM एक बहुत ही अच्छा और जाना माना कोर्स है, इस कोर्स को करने के बाद नर्स के पद पर नियुक्ति होती है। और आज के समय में एक नर्स की काफी अच्छी वैल्यू है, जिसके कारण इन्हें काफी अच्छा वेतन सुविधा भी मिलता है।

यदि एक एएनएम कर्मचारी के सैलरी की बात करें तो अलग-अलग अस्पतालों में इनका अलग-अलग सैलरी पैकेज देखने को मिलता है। फिर भी शुरुआती समय में एक एएनएम कर्मचारी की सैलरी कम से कम ₹10,000 से लेकर के ₹12,000 के आसपास होती है।

समय के साथ-साथ इनकी सैलरी में बढ़ोतरी भी देखने को मिलता है। और इसके साथ ही साथ एक सरकारी ANM कर्मचारी की सैलरी कम से कम 25,000 से ₹30,000 के आसपास हो सकती है।

भारत के Top ANM Colleges

  1. आईआईएमटी, मेरठ
  2. राजीव गाँधी पैरामेडिकल कॉलेज, दिल्ली
  3. साईं इंस्टिट्यूट ऑफ़ नर्सिंग, देहरादून
  4. श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय, देहरादून
  5. इंदिरा गांधी स्कूल और नर्सिंग कॉलेज
  6. असम डाउन टाउन यूनिवर्सिटी
  7. तीर्थंकर महावीर विश्वविद्यालय

ANM के बाद नौकरी (Jobs after ANM Course in Hindi)

  • ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्र
  • नर्सिंग होम
  • क्लिनिक
  • हॉस्पिटल
  • गैर सरकारी संगठन
  • एनजीओ
  • बृद्धावस्था घर
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूट
  • मेडिकल कॉलेज
  • नर्सिंग होम
  • ट्रामा सेंटर्स
  • हेल्थ केयर सेंटर्स

निष्कर्ष:-

आज हमने आप सभी को अपने इस आर्टिकल के माध्यम से ANM Course details in Hindi और इससे जुड़ी हुई सभी तरह के महत्वपूर्ण बातों के बारे में बताने का प्रयास किया है। आशा करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा, और आपको हमारे इस आर्टिकल के जरिए ANM Course विषय के बारे में काफी अच्छी जानकारी प्राप्त हुई होगी। अगर यह जानकारी आपके लिए मददगार लगी हो तो आप इसे अपने सोशल मीडिया पर Share जरूर करें इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

Leave a Comment