WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

एविएशन कोर्स- Aviation Course Full Details In Hindi 2024

वर्तमान समय में दुनिया भर में हवाई सफर काफी महत्वपूर्ण हो चुका है। इसीलिए इसको काफी आसान और Advance भी बनाया जा चुका है तथा हर दिन इसमें नई नई Technique का उपयोग हो रहा है, ऐसी स्थिति में यहां पर अनेक तरह के विभाग और अनेक प्रकार के क्षेत्र देखने को मिलते हैं। जिनके तहत विभिन्न प्रकार के पद निर्धारित किए गए हैं। इन सभी पदों पर योग्य उम्मीदवारों की नियुक्ति की जाती है तो अगर आप भी Aviation के क्षेत्र में करियर देखने की चाह रखते हैं, तो यह आपके लिए एक बेहतरीन मौका हो सकता है। आपको इसके लिए Aviation Course करना होगा‌ इस आर्टिकल में हम आपको Aviation Course के बारे में पूरी जानकारी बता रहे हैं।

एविएशन कोर्स क्या है? —

Aviation Course Full Details In Hindi

Aviation Course एक प्रशिक्षण कार्यक्रम होता है जो उन छात्रों के लिए है जो एविएशन के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में छात्रों को एक Skill Set और Technical Knowledge प्रदान किया जाता है जो उन्हें एविएशन उद्योग में काम करने में सक्षम बनाते हैं। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य एविएशन क्षेत्र में Skilled और तकनीकी संभावनाओं को उद्घाटित करना है। इस कोर्स को करने के बाद कोई भी छात्र एविएशन के क्षेत्र में अपने हुनर के आधार पर पद हासिल कर सकता है और आप भली-भांति जानते ही हैं कि वर्तमान समय में एविएशन के क्षेत्र में कितना बड़ा और कितना अच्छा स्कोप है।

एविएशन कोर्स किन-किन क्षेत्रों में होते हैं? —

जैसा कि आप भली-भांति जानते ही हैं कि एविएशन का क्षेत्र बहुत बड़ा है इसमें अनेक सारे Department आते हैं अनेक सारे क्षेत्र आते हैं। तो इन सभी छात्रों और विभागों को मिलाकर एक कोर्स एविएशन तैयार किया गया है, जिनमें निम्नलिखित एविएशन क्षेत्रों का अनुभव करवाया जाता है-

एविएशन इंजीनियरिंग: Aviation Engineering एक उच्च गुणवत्ता वाला तकनीकी कोर्स है, जो एयरक्राफ्ट की तकनीकी मरम्मत और परीक्षण से संबंधित होता है। इस कोर्स के माध्यम से उम्मीदवारों को एयरक्राफ्ट के संरचना, यांत्रिक विज्ञान, नवीनतम तकनीकी विकास और मरम्मत तकनीकों में सक्षमता प्राप्त होती है।

एयर होस्टेस कोर्स: Air Hostess या एयर स्टीवर्ड एक लोकप्रिय एविएशन कोर्स है जिसमें उम्मीदवारों को एयरलाइंस के सेवा क्षेत्र में काम करने के लिए तैयार किया जाता है। इस कोर्स में उम्मीदवारों को यात्री सुविधाओं, सुरक्षा के नियमों और सामाजिक और पेशेवर क्रियाकलापों के बारे में शिक्षा दी जाती है। इस कोर्स से उम्मीदवार एयर होस्टेस या एयर स्टीवर्ड के रूप में काम करने के लिए तैयार होते हैं।

एविएशन मैनेजमेंट कोर्स: Aviation Management Course उन उम्मीदवारों के लिए होता है जो एविएशन क्षेत्र में प्रबंधन करने के लिए तैयार होते हैं। इस कोर्स में उम्मीदवारों को एविएशन व्यवसाय के निर्माण, प्रबंधन, संचालन और विपणन के बारे में शिक्षा दी जाती है। इस कोर्स के अंतर्गत उम्मीदवारों को समाज और संचार माध्यमों के माध्यम से विपणन के बारे में भी शिक्षा दी जाती है। यह कोर्स एक अधिकांश स्तरों पर उपलब्ध है जैसे कि स्नातक और स्नातकोत्तर तक।

एयर ट्रैफिक कंट्रोल कोर्स: Air Traffic Control Course उन उम्मीदवारों के लिए होता है जो उड़ानों को नियंत्रित करने के लिए तैयार होते हैं। इस कोर्स में उम्मीदवारों को उड़ानों के रूट और उनकी संख्या, आपदा प्रबंधन, ट्रैफिक विन्यास, फ्लाइट कंट्रोल तकनीक, टेक्निकल शब्दों का उपयोग और एयर ट्रैफिक मैनेजमेंट के बारे में शिक्षा दी जाती है। इस कोर्स के अंतर्गत उम्मीदवारों को एयर ट्रैफिक कंट्रोल के लिए आवश्यक योग्यता प्राप्त करने के लिए ट्रेनिंग दी जाती है।

इंजीनियरिंग कोर्स: Engineering Course एक तकनीकी कोर्स होता है जो उड़ान उड़ाने वाले मशीनों के लिए उनके निर्माण, विकास और दुरुस्ती के बारे में शिक्षा देता है। इस कोर्स में उम्मीदवारों को उड़ानों में इस्तेमाल होने वाले मशीनों के रूप में इंजन, स्थानीय विमानन, एयरक्राफ्ट कंट्रोल और सुरक्षा सम्बंधी मुद्दों के बारे में शिक्षा दी जाती है।

पायलट कोर्स: Pilot Course उन उम्मीदवारों के लिए होता है जो विमान उड़ाने के लिए तैयार होते हैं। इस कोर्स में उम्मीदवारों को विमान उड़ाने की तकनीक, सुरक्षा सम्बंधित प्रक्रियाएं, उड़ान यात्रियों की रख-रखाव और उन्हें समय पर उनके गंतव्य पर पहुंचाने की शिक्षा दी जाती है। इस कोर्स के अंतर्गत उम्मीदवारों को एक अंतिम परीक्षा देनी होती है जिसके बाद वे उड़ान यात्रियों को सुरक्षित रूप से उड़ान देने के लिए पायलट बनने के लिए योग्य माने जाते हैं।

एविएशन कोर्स में शामिल होने के लिए क्या योग्यताएं होनी चाहिए? —

Aviation Course काफी महत्वपूर्ण कोर्स है। इसीलिए इस कोर्स हेतु कुछ योग्यताएं निर्धारित की गई है जिसके आधार पर कोई भी विद्यार्थी इस कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है और इसको उसको करने के बाद एविएशन में अपना करियर देख सकता है। तो इस कोर्स के लिए निर्धारित की गई योग्यताएं निम्नलिखित हैं —

  • इस कोर्स के लिए उम्मीदवार की आयु कम से कम 17 वर्ष होनी चाहिए।
  • एवियशन कोर्स के लिए विद्यार्थी का बारहवीं कक्षा पास होना जरूरी है।
  • कुछ शिक्षण संस्थान इस कोर्स के लिए स्नातक डिग्री की भी मांग करते हैं।
  • इस कोर्स को करने के लिए विद्यार्थी का शारीरिक और मानसिक रूप से पूर्ण स्वस्थ होना चाहिए।
  • Aviation Industry में आगे बढ़ने के लिए विद्यार्थी को अंग्रेजी भाषा का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।
  • विद्यार्थी के 12वीं कक्षा में कम से कम 50% अंक प्राप्त होने चाहिए।
  • विद्यार्थी को 12वीं कक्षा फिजिक्स और गणित विषय के साथ ही पास करनी होती है।
  • विद्यार्थी के पास सभी प्रकार के पहचान और शैक्षणिक योग्यता वाले दस्तावेज होने चाहिए।

एविएशन कोर्स की फीस क्या होती है? —

Aviation Course कितना महत्वपूर्ण है और इसकी विशेषता तो अब तक आप जान चुके हैं, तो अब हम यह भी जान लेते हैं कि इस कोर्स को कराने वाले कॉलेज या शिक्षण संस्थान कितनी फीस वसूलते हैं। तो हम आपको बता देते हैं कि इस कोर्स की फीस अलग-अलग शिक्षण संस्थान पर निर्भर करती है। इसके अलावा जगह के आधार पर भी निर्भर करती है। लेकिन सामान्य तौर पर इस कोर्स के लिए विद्यार्थियों को ₹100000 से लेकर ₹500000 तक खर्च करने होते हैं। इसके अलावा भी विभिन्न प्रकार के खर्च हो जाते हैं। इस कोर्स की सही फीस पता करने के लिए शिक्षण संस्थान का चयन करके जानना होगा।

एविएशन कोर्स में एडमिशन कैसे लें? —

Aviation Course में एडमिशन लेने के लिए आपको सबसे पहले यह देखना है कि भारत में एवियशन कोर्स कराने वाले शिक्षण संस्थान और कॉलेज कौन-कौन से हैं? इसकी लिस्ट हम आपको नीचे बता देंगे। उसके बाद आपको यह देखना है कि आप कौन से शिक्षण संस्थान या कॉलेज के तहत कोर्स करना चाहते हैं, अब आपको उस इंस्टीट्यूट्स के वेबसाइट पर जाकर Online Apply करना होगा। छात्रों को अपनी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर Interview के लिए बुलाया जाता है।

देशभर के अलग-अलग Institute अपनी Policy के आधार पर Student का Interview लेते हैं। कुछ शिक्षण संस्थान Eligibility Test भी ले सकते हैं‌ लेकिन सामान्य तौर पर इस Course के लिए Institute द्वारा एक Simple सा Interview ही लिया जाता है। लेकिन इस Interview में भी विद्यार्थियों से Aviation के क्षेत्र से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं‌। इसीलिए आपको इस कोर्स के तहत आवेदन करने से पहले इस विषय के बारे में थोड़ा बहुत जान लेना चाहिए और उसके बाद ही आवेदन करना चाहिए ताकि आप आसानी से Interview पास कर सकते हैं और Aviation कोर्स के लिए एडमिशन प्राप्त कर सकें।

भारत में Aviation Course के लिए सबसे Best Institute —

दुनिया भर की तरह भारत में अभी वर्तमान समय में काफी एवियशन कोर्स कराने वाले इंस्टिट्यूट है जिनमें से कुछ सर्वश्रेष्ठ इंस्टिट्यूट के नाम हम आपको नीचे बता रहे हैं। आप इनमें से किसी भी इंस्टिट्यूट का चयन करके अपने कैरियर को सफल बनाने के लिए एवियशन कोर्स हेतु आवेदन कर सकते हैं —

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ एविएशन टेक्नोलॉजी (दिल्ली)
  • इंडियन अविएशन एकेडमी (मुंबई)
  • राजस्थान विमान अकादमी (जोधपुर)
  • हिंदुस्तान अविएशन एकेडमी (उत्तर प्रदेश)
  • अविएशन ट्रेनिंग सेंटर (हैदराबाद)

Aviation Course के बाद Career Scope —

Aviation Course के बाद, छात्रों के पास अनेक Career Option होते हैं। यहां हम कुछ Career Option के बारे में बता रहे हैं —

पायलट (Pilot): एवियशन कोर्स करने के बाद आप एक पायलट बन सकते हैं। इस कोर्स के तहत करियर बनाने का सबसे लोकप्रिय ऑप्शन पायलट बनना है हालांकि इसके लिए आपको कुछ सालों तक मेहनत करनी होगी। कुछ वर्षों तक आपको अनुभव प्राप्त करना होगा उसके बाद ही आप पायलट बन पाएंगे।

कैबिन क्रू (Cabin Crew): एक एयरलाइन कैबिन क्रू बनना एक अन्य लोकप्रिय करियर ऑप्शन है। इसके लिए छात्रों को कुछ महीनों की कैबिन क्रू ट्रेनिंग दी जाती है जिसके बाद अभ्यर्थी किसी भी एयरलाइंस में केबिन क्रु मेंबर बंद कर काम कर सकता है। यह पद पायलट के बाद दूसरे नंबर पर आता है लोग इस पद को भी काफी पसंद कर रहे हैं।

इंजीनियरिंग (Engineer): एक एयरक्राफ्ट इंजीनियर बनना भी एक बहुत अच्छा करियर ऑप्शन हो सकता है। इसके लिए छात्रों को एक अच्छे एविएशन इंजीनियरिंग कोर्स का सम्पन्न होना आवश्यक होता है। अगर आप इस कोर्स के तहत इंजीनियरिंग का पदभार संभाल लेते हैं तो यह आपके लिए एक बेहतरीन करियर ऑप्शन हो सकता है।

एयर ट्रैफिक कंट्रोलर (Air Traffic Controller): एक एयर ट्रैफिक कंट्रोलर बनना भी एक बहुत लोकप्रिय करियर ऑप्शन हो सकता है। इसके लिए छात्रों को ट्रैफिक कंट्रोल करने के लिए अच्छी ट्रेनिंग दी जाती है जिसमें पास होने वाले अभ्यर्थियों को एयर ट्रेफिक कंट्रोलर में जगह मिल जाती है।

एयरक्राफ्ट मैन्टेनेंस इंजीनियर (Aircraft Maintenance Engineer): एयरक्राफ्ट की निरंतर रखरखाव के लिए एयरक्राफ्ट मैन्टेनेंस इंजीनियर बनना एक अन्य करियर ऑप्शन है। इसके लिए, छात्रों को एक अच्छे एविएशन मैन्टेनेंस इंजीनियरिंग कोर्स का सम्पन्न होना आवश्यक होता है। अगर आप भी अच्छी तरह से मेहनत करते हैं तो इस पद पर कायम हो सकते हैं।

एविएशन मैनेजमेंट (Aviation Management): एविएशन मैनेजमेंट भी एक अन्य लोकप्रिय करियर ऑप्शन है। इसमें, छात्रों को एयरलाइन मैनेजमेंट, एयरक्राफ्ट मैनेजमेंट, एयरपोर्ट मैनेजमेंट, एयरकार्गो मैनेजमेंट और अन्य फील्ड्स में काम करने के लिए ट्रेनिंग दी जाती है।

इन सभी करियर ऑप्शन में, एविएशन कोर्स से छात्रों को समझ और ज्ञान की आवश्यकता होती है जो एविएशन इंजीनियरिंग, एयर ट्रैफिक कंट्रोलिंग, एयरक्राफ्ट मैन्टेनेंस इंजीनियरिंग और एविएशन मैनेजमेंट में सक्षमता विकसित करने में मदद करता है।

People Also Read:-

भारत की सबसे ज्यादा सैलरी देने वाली Top 10 Jobs की जानकारी.

इन पांच क्षेत्रों में है आने वाले समय में सबसे ज्यादा नौकरियां

Loco Pilot क्या होता है कैसे बनते हैं?

मेट्रो ड्राइवर क्या होता है कैसे बनते हैं फुल जानकारी?

Arts में पढ़ाई करने के बाद करियर कैसे बनाएं?

Conclusion

तो आज के इस लेख के माध्यम से हमने आपको बताया कि Aviation Course एक उम्मीदवार को विमान संचालन के लिए आवश्यक ज्ञान, कौशल और अनुभव प्रदान करता है। इस फील्ड में विभिन्न प्रकार के कोर्स उपलब्ध होते हैं जैसे कि प्राथमिक पायलट प्रमाणपत्र, कमर्शियल पायलट प्रमाणपत्र, एयर ट्रांसपोर्ट पायलट प्रमाणपत्र आदि। एविएशन कोर्स से संबंधित अध्ययन की समझ और उसकी पूरी तकनीक से संबंधित जानकारी इस आर्टिकल में आप और विस्तार पूर्वक प्राप्त कर सकते हैं। यह जानकारी आपके लिए जरूर ही उपयोगी साबित हुई होगी। अगर आपका इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं।