WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आयुर्वेदिक डॉक्टर कैसे बनें? 2024 में वैध बनने की पूरी जानकारी

भारत का आयुर्वेद से पुराना नाता है क्योंकि सदियों से ही भारत में आयुर्वेदिक तरीके से ही चिकित्सा पद्धति को चलाया जा रहा है और आयुर्वेदिक तरीके से ही चिकित्सा का कार्य किया जा रहा है। लेकिन अब बढ़ती टेक्नोलॉजी और विदेशी संसाधनों की वजह से सब कुछ अंग्रेजी हो चुका है जिनमें इलाज का तरीका और दवाइयां इत्यादि सब कुछ अंग्रेजी दी जाती है। अंग्रेजी शिक्षा से ही डॉक्टर बनते हैं। लेकिन आज भी भारत में आयुर्वेदिक डॉक्टर बड़ी मात्रा में है तथा दुनिया भर में आयुर्वेदिक डॉक्टर देखने के लिए मिल जाते हैं। अगर आप आयुर्वेद डॉक्टर बनना चाहते हैं। तो आपको किस तरह की पढ़ाई करनी होगी और किस प्रक्रिया के अंतर्गत आपने इस बारे में विस्तार से बताने वाले हैं।

आपको बता दें कि आयुर्वेद डॉक्टर बनने के लिए BAMS की डिग्री प्राप्त करनी होती है। BAMS यानी बैचलर ऑफ आयुर्वेद मेडिसिन एंड सर्जरी होती है। यह कोर्स साडे 5 वर्ष में पूरा हो जाता है जिसमें 1 साल का इंटरशिप भी शामिल है। आप अगर आयुर्वेदिक डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो 12वीं कक्षा पास करने के बाद भी इस कोर्स को कर सकते हैं। सबसे ज्यादा भारत में आयुर्वेद को महत्वता दी जा रही है। ऐसी स्थिति में आप बिना किसी कंपटीशन के भी आयुर्वेद डॉक्टर बंद कर एक बेहतरीन करियर विकल्प का चयन कर सकते हैं। यहां पर आपको अच्छी सैलरी मिलेगी और भारत के आयुर्वेदिक पद्धति को बढ़ावा भी मिलेगा।

Ayurved Kya Hai? —

अगर आप नहीं जानते तो पहले इस बारे में जान लीजिए कि आयुर्वेद क्या है? हम आपको बता देते हैं कि आयुर्वेद भारत के प्राचीन चिकित्सा पद्धति है जो सदियों से चली आ रही है। भारत में सदियों से जिस प्रकार से रोगों का बीमारियों का और हर तरह की समस्याओं का इलाज किया जाता है। उस शिक्षा पद्धति को आयुर्वेदिक चिकित्सा शिक्षा पद्धति कहते हैं इस चिकित्सा पद्धति के तहत विभिन्न प्रकार के पेड़ पौधे और जड़ी बूटियों के द्वारा निर्मित दवाइयां से इलाज किया जाता आ रहा है। यह भारतीय आयुर्विज्ञान की एक शाखा है जिसे विज्ञान की एक शाखा से संबंध देखा जाता है।

Ayurvedic Doctor Kaise Bane

आयुर्वेद शरीर को निरोग रखने के लिए और विभिन्न प्रकार के रोगों से मुक्ति पाने के लिए विभिन्न तरह के चिकित्सा प्रदान के तहत उपचार करता है। आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति के तहत हर तरह के इलाज संभव है जिसमें गंभीर से गंभीर बीमारियों से लेकर किसी भी प्रकार की सर्जरी और अंग ट्रांसपोर्ट का कार्य भी किया जाता है। इसमें काया चिकित्सालय तंत्र विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक उपचार और प्राचीन समय से चली आ रही चिकित्सा पद्धति भी शामिल है। हालांकि अब इस में बहुत कुछ बदलाव देखने को मिल रहा है। लेकिन आयुर्वेदिक डॉक्टर बनकर आप इस प्रक्रिया को आगे बढ़ा सकते हैं।

आयुर्वेदिक डॉक्टर बनने के लिए योग्यता —

आयुर्वेद डॉक्टर बनने के लिए BAMS की डिग्री प्राप्त होनी चाहिए। लेकिन इस डिग्री को प्राप्त करने के लिए तथा आयुर्वेदिक डॉक्टर बनने के लिए कौन-कौन सी योग्यता निर्धारित की गई है? जिसके आधार पर आप इस कोर्स को करके आयुर्वेदिक Doctor बन सकते हैं। तो आइए जानते हैं—

  • आयुर्वेदिक डॉक्टर बनाने के लिए कम से कम 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए।
  • किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा न्यूनतम अंकों के साथ पास कर सकते हैं।
  • 12 वीं कक्षा जीव विज्ञान रसायन विज्ञान या भौतिक विज्ञान इनमें से किसी भी विषय के अंतर्गत पास होनी चाहिए।
  • भारत के कुछ शिक्षण संस्थान प्रवेश परीक्षा का आयोजन करवाते हैं उन प्रवेश परीक्षा को पास करना होता है।
  • आयुर्वेदिक चिकित्सक बनाने के लिए इस कोर्स को करने की न्यूनतम आयु सीमा 17 वर्ष है।
  • आयुर्वेदिक डॉक्टर बनने के लिए अधिकतम आयु सीमा 25 वर्ष निर्धारित की गई है।

BAMS करने के क्या फायदे है? —

आयुर्वेदिक डॉक्टर बनने के लिए BAMS की डिग्री प्राप्त करनी होती है लेकिन इस डिग्री को प्राप्त करने से क्या फायदा होंगे इस बारे में जानकारी दे रहे हैं —

  • BAMS कोर्स करने के बाद आयुर्वेदिक डॉक्टर बनता है तो अच्छी सैलरी मिलती है।
  • इस कोर्स को करने के बाद आयुर्वेदिक डॉक्टर बजने पर आप अपना खुद का आयुर्वेदिक मेडिकल खोल सकते हैं।
  • इस कोर्स के बाद आयुर्वेदिक क्लीनिक में जूनियर डॉक्टर के रूप में कार्य कर सकते हैं।
  • आयुर्वेदिक डॉक्टर का कोर्स करने के बाद आप आयुर्वेद से संबंधित रिसर्च सेंटर में जुड़ कर काम कर सकते हैं।

BAMS Course क्या है? —

हमने अब तक यह तो जान लिया है कि आयुर्वेद डॉक्टर बनने के लिए BAMS का Course करना होता है। लेकिन क्या आपको पता है कि यह कोर्स क्या है तो आइए —

क्या आयुर्वेदिक चिकित्सा में एक स्नातक डिग्री का पाठ्यक्रम है जिसे पूर्ण करने के बाद आयुर्वेदिक डॉक्टर बनते हैं। यह एक प्रमाणित पाठ्यक्रम है जो आपको आयुर्वेदिक क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत बैचलर की डिग्री प्रदान करता है। यह कोर्स सेंट्रल काउंसलिंग आफ इंडियन मेडिसिन से ही मान्यता प्राप्त है। यह कोर्स टॉक्सिकोलॉजी, फार्मोकोलॉजी, एनाटॉमी, फिजियोलॉजी, डायग्नोसिस तथा विभिन्न प्रकार की बीमारियों तथा नाक, कान, गला इत्यादि से संबंधित दवाओं के सिद्धांत तथा फॉरेन मेडिसिन के बारे में अध्ययन करवाता है। दुनिया भर में इस पाठ्यक्रम की ओर झुकाव देखने को मिल रहा है।

वैध कैसे बने? / आयुर्वेदिक डॉक्टर कैसे बने? —

अब तक आपने जान लिया है कि आयुर्वेद डॉक्टर क्या होता है? आयुर्वेद डॉक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होता है तथा उस कोर्स की जानकारी भी प्राप्त कर ली है और आयुर्वेद डॉक्टर बनने की योग्यता क्या है? यह जानने के बाद अब हमें जानते हैं कि आयुर्वेद डॉक्टर कैसे बनते हैं? तो आइए आयुर्वेद डॉक्टर बनने की प्रक्रिया बताते हैं —

  • आयुर्वेद डॉक्टर बनने के लिए सबसे पहले किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं की कक्षा पास करनी होगी।
  • अब आयुर्वेद कॉलेज में डिग्री प्राप्त करने के लिए एडमिशन लेते समय एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे अंको से पास करना होगा।
  • आयुर्वेद डॉक्टर बनने के लिए आयुर्वेद कॉलेज में बैचलर की पढ़ाई पूरी करनी होगी।
  • बैचलर डिग्री पूरी करने के बाद आयुर्वेद के क्षेत्र में MD या MS के अंतर्गत मास्टर डिग्री प्राप्त करनी होती है।
  • डिग्री प्राप्त करने के बाद अनुभव के लिए कुछ दिन अस्पतालों में प्रैक्टिकली काम करना होता है।

भारत में शीर्ष आयुर्वेदिक संस्थान —

आयुर्वेदिक डॉक्टर बनने के लिए आपको आयुर्वेदिक चिकित्सा की पढ़ाई करने हेतु आयुर्वेदिक कॉलेज में दाखिला लेना होगा, तो सबसे पहले यह जान लीजिए कि भारत में आयुर्वेदिक संस्थान कौन कौन से है? जहां पर आप आयुर्वेद डॉक्टर की पढ़ाई कर सकते हैं। भारत में जो आयुर्वेद संस्थान उपस्थित हैं। उनमें से सिर्फ आयुर्वेद संस्थान के नाम कुछ इस प्रकार है —

  • All India institute of Ayurveda, New Delhi
  • Gujarat ayurvedic university, Jamnagar
  • National institute of Ayurveda, Jaipur
  • Ayurved post graduate training
  • research and education institute
  • Ayurved faculty
  • State ayurved College, tiruvantpuram
  • Poddar ayurved College, Mumbai
  • institute of medical sciences
  • SDM College of Ayurveda, Karnataka
  • BHU Varanasi
  • North eastern institute of Ayurveda and homeopathy, meghalay
  • DMK ayurved College
  • K l e University Karnataka

Ayurvedic डिग्री के लिए आवश्यक दस्तावेज़ —

प्रत्येक परीक्षा आवेदन में नौकरी या हर तरह के काम के लिए आज के समय में विभिन्न प्रकार के दस्तावेजों की आवश्यकता होती है, जो इस बात को प्रमाणित करते हैं कि आपके पास वह योग्यता है या इस तरह का अनुभव है। इसलिए अगर आप आयुर्वेदिक डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो आयुर्वेद डॉक्टर बनने के कोर्स हैतू कॉलेज में प्रवेश से पहले कुछ दस्तावेज इकट्ठा कर लें। यह दस्तावेजों की सूची नीचे देख सकते हैं —

  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • स्टेटमेंट आफ परपज
  • बैंक विवरण
  • अंग्रेजी भाषा सर्टिफिकेट
  • अपना रिज्यूम
  • सिफारिश पत्र
  • अंक तालिका

आयुर्वेद कॉलेज में आवेदन प्रक्रिया —

  • आयुर्वेदिक संस्थान में डिग्री प्राप्त करने हेतु यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करें।
  • रजिस्ट्रेशन करने के बाद अपना यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त करें।
  • यूजर नेम तथा पासवर्ड की मदद से लॉग ऑन करें।
  • अब ऑफिशियल वेबसाइट पर अपने कोर्स का चयन करें।
  • आवेदन फॉर्म को जमा करके ऑनलाइन शुल्क का भुगतान करें।
  • प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें।
  • परीक्षा देने के बाद अंकों के आधार पर मिलने वाले संस्थान में प्रवेश करें।
  • अब अच्छी तरह से मन लगाकर आयुर्वेद की पढ़ाई करें और डॉक्टर बन जाए।

आयुर्वेद डॉक्टर की सैलरी —

आयुर्वेद डॉक्टर की सैलरी आपके कार्यक्षेत्र और पद के आधार पर निर्भर करती है। इसके अलावा लोकेशन भी मायने रखती है और वर्षों का अनुभव भी शामिल है। अगर आप सरकारी सेक्टर में आयुर्वेद डॉक्टर बनते हैं तो शुरुआती समय में आपको आसानी से ₹50000 हर महीने मिल जाते हैं और उसके बाद अनुभव के साथ तथा पद के साथ आमतौर पर एक से डेढ़ लाख रुपए हर महीने दिए जाते हैं। इसके अलावा लोकेशन के अनुसार अथवा प्राइवेट अस्पताल में आपके अनुभव के आधार पर अधिक वेतन भी दिया जा सकता है।

People Also Read:-

मेडिकल लाइन में करियर कैसे बनाएं?

वेटरनरी डॉक्टर (पशुओं का डॉक्टर) कैसे बने पूरी जानकारी?

दांतों का डॉक्टर (Dental Doctor) कैसे बने?

B.Pharma क्या है कैसे करें?

Conclusion

आयुर्वेद डॉक्टर कैसे बनें? इस बारे में पूरी जानकारी आज के इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार पूर्वक बता चुके हैं। इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पढ़ने के बाद आप समझ जाएंगे कि आयुर्वेद डॉक्टर कैसे बनते हैं? आयुर्वेद डॉक्टर क्या होते हैं? कौन सा कोर्स करना होता है? और किस शिक्षा पद्धति के आधार पर आयुर्वेद डॉक्टर बना जा सकता है? इस बारे में पूरी जानकारी बताई हुई है। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो नीचे कमेंट करके बता सकते हैं। हम आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न का उत्तर समय पर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment