B.El.Ed exam की जानकारी हिंदी 2022 में | B.El.Ed exam Eligibility & Syllabus

B.El.Ed Exam की पूरी जानकारी आज के इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार से बताएंगे। अगर आप एक स्टूडेंट है तो आप इस बात को भलीभांति जानते ही होंगे कि भारत में विभिन्न प्रकार के Exam होते हैं। बता दें कि वर्तमान समय में भारत में विभिन्न प्रकार के विभाग तथा विश्वविद्यालय उपलब्ध हैं। यही वजह है कि विभिन्न पदों पर भर्ती के लिए अलग-अलग परीक्षाएं करवाई जाती हैं ताकि योग्यता वाले विद्यार्थी चुने जा सकें। कुछ परीक्षाएं कंपटीशन की वजह से भी कराई जाती है।

B.El.Ed Exam पास करने के बाद विद्यार्थी शिक्षक बन जाता है। अगर आपका भी शिक्षक बनने का सपना है, तो आप इस परीक्षा को जरूर पास करें। आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि यह परीक्षा 4 वर्ष में पास किया जाता है। जिसके बाद आप को सफलतापूर्वक अध्यापक बना दिया जाता है। हालांकि इस दौरान आपको अच्छे अंक प्राप्त करने होते हैं। ताकि marit list में आपका नाम आए। बता दें कि marit list में नाम आने वालों को ही चयनित किया जाता है। इसमें आरक्षण मिलने वाले छात्र भी कम अंकों के साथ ऊपरी Rank में शामिल हो जाते हैं।

Score पूरा करते समय आखिरी 1 वर्ष में स्कूलों में पढ़ाना होता है। 3 वर्ष तक लगातार अध्ययन करना है और उसके बाद 1 वर्ष स्कूलों में पढ़ाना होता है। इससे विद्यार्थी का शिक्षक की तरह व्यवहार और ज्ञान प्राप्त हो जाता है, जिससे कि वह आसानी से विद्यार्थियों को पढ़ा सके इस कोर्स को “Bachelor of Elementary Education” कहते हैं। यह कोर्स करने से विद्यार्थी शिक्षा का कौशल तथा शैक्षणिक योग्यता प्राप्त कर लेता है। अगर आप भी शिक्षा के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो यह कोर्स आपके लिए ही है। भारत के विभिन्न कॉलेजों द्वारा इस कोर्स को कराया जाता है। तो आइए इस कोर्स के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करते हैं।

B.El.Ed कोर्स क्या होता है? (B.El.Ed Course in Hindi 2022)

B.El.Ed का full form या अर्थ bachelor of elementary education (बैचलर ऑफ एलीमेंट्री एजुकेशन) होता है। यह एक प्राथमिक शिक्षक बनने का स्नातक डिग्री का कोर्स है। इस कोर्स को 4 वर्ष में पूर्ण करना होता है। 3 वर्ष तक इस कोर्स के अंतर्गत शिक्षक बनने का अध्ययन करवाया जाता है, जबकि आखिरी चौथे वर्ष में विद्यार्थी को शिक्षक के रूप में बच्चों को पढ़ाना सिखाया जाता है।

आखिरी वर्षों में फिजिकल रूप से बच्चों के साथ बातचीत करना, बच्चों को पढ़ाना, बच्चों को होमवर्क देना इत्यादि बच्चों के साथ तालमेल सिखाया जाता है। इस कोर्स को पूर्ण करने के बाद प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक बनाने के लिए स्नातक की डिग्री प्रदान की जाती है। इस कोर्स को पूर्ण करने के बाद मेरिट लिस्ट में अपना स्थान प्राप्त करके कोई भी विद्यार्थी प्राथमिक शिक्षक बन सकता है।

B.El.Ed की पात्रता (B.El.Ed Eligibility in Hindi 2022)

इस कोर्स को करने के लिए क्या पात्रता निर्धारित की गई है इस बारे में हम आपको बता रहे हैं। लेकिन उससे पहले यह जरूरी है कि क्या आप दिल से शिक्षक बनना चाहते हैं? क्योंकि अगर आप बिना मन के ही यह एग्जाम देंगे, तो कभी सफल नहीं हो पाएंगे। अगर आपकी रूचि शिक्षक बनना है? तभी आप इसमें सफल हो पाएंगे। B.El.Ed परीक्षा देने की पात्रता निम्नलिखित हैं —

  • विद्यार्थी किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास होना चाहिए।
  • 12वीं कक्षा में कम से कम 50% अंक प्राप्त होना अनिवार्य है।
  • विद्यार्थी 12वीं कक्षा कम से कम 4 विषय में पास होना चाहिए।
  • बारहवीं कक्षा गणित विज्ञान अंग्रेजी सामाजिक विज्ञान जैसे विषय से पास होने चाहिए।
  • इस कोर्स को करने के लिए प्रवेश परीक्षा पास करना अनिवार्य है।

D.El.ED/BSTC की पूरी जानकारी Hindi 2022 में?

सरकारी टीचर कैसे बने? पूरी जानकारी हिंदी 2022 में

बीए (B.A) के बाद महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी की पूरी जानकारी?

स्नातक (Graduation) के बाद 1 साल वाली Diploma Course कौनसे होते हैं?

दसवीं के बाद best Computer कोर्स कौन से होते हैं?

B.El.Ed Course के लिए Entrance Exam 2022

B.El.Ed कोर्स करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है यानी कि इस कोर्स को करने के लिए अपने योग्यता सिद्ध करने हेतु प्रवेश परीक्षा देनी होती है। इस परीक्षा को पास करना अनिवार्य होता है। अगर आप इस परीक्षा को पास करते हैं, तभी आपको यह कोर्स करने के लिए कॉलेज एडमिशन देता है। इसके अलावा राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित इस परीक्षा को आप अच्छे अंको से पास करते हैं, तो आपके आंखों के अनुसार आपको बेहतरीन कॉलेज उपलब्ध कराया जाता है।

यह परीक्षा अतिथि के कठोर नहीं होती है। लेकिन आसानी से इस परीक्षा को हर कोई पास भी नहीं कर सकता यही वजह है कि इस कोर्स को करने के लिए प्रवेश परीक्षा पास करने हेतु विद्यार्थी पढ़ाई करते हैं और अच्छे अंको से इस परीक्षा को पास करते हैं। इस परीक्षा को पास करने के बाद कॉलेज यहां शिक्षण संस्थान द्वारा निर्धारित किए गए सभी जरूरी दस्तावेज तथा फीस के आधार पर अपना एडमिशन करवाते हैं। एडमिशन करवाने के बाद 3 वर्ष तक अध्ययन किया जाता है और उसके बाद 1 वर्ष स्कूल में शिक्षक के तौर पर पढ़ाना सिखाया जाता है।

बी एल एड कोर्स करने की फीस (B.El.Ed Fees details in Hindi 2022)

इस कोर्स को भारत के विभिन्न कॉलेज तथा शिक्षण संस्थान करवाते हैं। आप अपनी इच्छा के अनुसार किसी भी कॉलेज अथवा शिक्षण संस्थान में इस कोर्स को करने के लिए आवेदन कर सकते हैं। जब आपका आवेदन प्रवेश परीक्षा के द्वारा स्वीकार किया जाता है, तब आपको यहां पर निर्धारित की गई फीस जमा करानी होती है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रत्येक कॉलेज और शिक्षण संस्थान की फीस अलग-अलग होती है। सरकारी शिक्षण संस्थान और कॉलेजों की फीस कब होती है, जबकि प्राइवेट कॉलेजों की फीस ज्यादा होती है।

आमतौर पर इस कोर्स को करवाने के लिए ₹20000 से लेकर डेढ़ लाख रुपए प्रति वर्ष के आधार पर फीस ली जाती हैं। इसके अलावा अगर आप सरकारी सरकारी संस्थानों से इस कोर्स को करते हैं तो प्रतिवर्ष ₹20000 तक ही फीस के रूप में आप से लिया जाता है। परंतु प्राइवेट कॉलेज में यह आंकड़ा 200000 से लेकर ढाई लाख तक भी पहुंच सकता है। कॉलेजों द्वारा उसकी लोकप्रियता शहर राज्य तथा विद्यार्थियों के अनुसार फीस निर्धारित की जाती है।

Top B.El.Ed Colleges in India

  • Aditi Mahavidyalaya, Delhi.
  • Gargi College, Delhi.
  • Lady Shriram College for Women, New Delhi.
  • Miranda House, Delhi.
  • Jesus and Mary College, Delhi.
  • Shyama Prasad Mukherji College For Women, New Delhi.
  • GSRM Memorial PG College, Lucknow.

B.El.Ed कोर्स का सिलेबस (B.El.Ed Syllabus 2022)

इस कोर्स का पाठ्यक्रम 19 विषयों पर आधारित है। इस कोर्स को 19 अलग-अलग विषयों से मिला कर बनाया गया है। पूरे 4 वर्ष के अंतराल में शिक्षक बनने वाले विद्यार्थी को शिक्षकों द्वारा इन सभी 19 अलग-अलग विषयों से संबंधित पाठ्यक्रम का अध्ययन करवाया जाता है। इनमें मुख्य रूप से भाषा की प्रकृति, मूल गणित, बाल विकास, सामाजिक विज्ञान, मुख्य प्राकृतिक, शैक्षणिक, संचार भाषा, सिद्धांत, जीव विज्ञान, राजनीतिक विज्ञान, गणित, रसायन विज्ञान, भौतिकी, अर्थशास्त्र, भूगोल, ट्यूटोरियल्स इत्यादि विभिन्न प्रकार के विषयों से संबंधित अध्ययन करवाया जाता है।

इन सभी विषयों का अध्ययन कराने के बाद एक विद्यार्थी लगभग पूर्ण रूप से शिक्षक बन जाता है। 3 वर्ष तक इस तरह का अध्ययन करवाने के बाद अंतिम चौथे वर्ष में विद्यार्थी को शिक्षक के रूप में स्कूल में बच्चों को पढ़ाना सिखाया जाता है, जिसमें विशेष रूप से बोलचाल की भाषा, कार्य करने की पद्धति, प्रक्रिया, पाठ्यक्रम का अध्ययन, विद्यार्थियों के साथ तालमेल इत्यादि सिखाया जाता है। 1 वर्ष में इस कोर्स के अंतर्गत विद्यार्थियों को पढ़ाना सीख जाता है जिसके बाद उन्हें प्रारंभिक शिक्षा के लिए स्नातक की डिग्री प्रदान की जाती है।

B.El.Ed कोर्स करने के बाद नौकरी –

इस कोर्स को करने के बाद विद्यार्थी स्नातक डिग्री के साथ एक शिक्षक बन जाता है। अच्छी तरह से परीक्षा पास करने के बाद मेरिट लिस्ट में अपना स्थान बनाकर सरकारी प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक बनकर अपना एक बेहतरीन करियर विकल्प चुना जाता है। इसके अलावा स्नातक की डिग्री के साथ में प्राइवेट विद्यालय में भी शिक्षक बन सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद विद्यार्थी अपना खुद का स्कूल भी खोल सकते हैं। विशेष रूप से शिक्षा के क्षेत्र में इस कोर्स को करने के बाद आपको विभिन्न प्रकार के कैरियर विकल्प देखने को मिलते हैं। शिक्षा सलाहकार, शिक्षा अकादमी, शिक्षा कोच इत्यादि विभिन्न प्रकार के पद प्राथमिक विद्यालय में उपलब्ध किए जाते हैं।

B.El.Ed कोर्स के बाद वेतन (B.El.Ed Job Salary 2022)

इस कोर्स को करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है। यह आपके नौकरी क्षेत्र तथा नौकरी पद पर निर्भर करता है। अगर आप सरकारी प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक बनते हैं तो आपको हर महीने ₹50000 से लेकर ₹60000 आसानी से मिल जाता है। लेकिन अगर आप किसी निजी विद्यालय में शिक्षक के तौर पर कार्य करते हैं, तो आप आसानी से हर महीने 30-35 हजार रुपए कमा सकते हैं। शिक्षक को प्राइवेट विद्यालय के बजाय सरकारी विद्यालय में अच्छा वेतन मिलता है। यही वजह है कि आज के समय के अधिकांश युवा शिक्षक बनना चाहते हैं।

Conclusion

अगर आपका सपना शिक्षक बनाने का है, तो आपको यह कोर्स अवश्य करना चाहिए क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक के तौर पर कार्यरत होने के लिए स्नातक की डिग्री प्रदान की जाती है, जिससे आप एक अपना बेहतरीन करियर विकल्प चुन सकते हैं। वर्तमान समय में अधिकांश युवा अपने शिक्षक बनने के सपने को साकार करने के लिए यह कोर्स करते हैं। भारत के विभिन्न क्षेत्रों में इस कोर्स को करवाने के शिक्षण संस्थान और कॉलेज उपलब्ध है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको पूरी जानकारी के साथ विस्तार से बता चुके हैं कि B.El.Ed कोर्स कैसे करें? तथा इस कोर्स के बारे में संपूर्ण जानकारी आप इस आर्टिकल में जान सकते हैं। अगर आपका कोई प्रश्न है? तो नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Leave a Comment