B.Pharma कैसे करें? B.Pharma Course से जुड़ी पूरी जानकारी।

स्कूल की शिक्षा पूरी करने के बाद विद्यार्थी अलग-अलग Degree व Diploma Course लेने के बारे में सोचता है। Medical Line में जाने वाले विद्यार्थियों के लिए B.Pharma और B.com जैसे लोकप्रिय डिप्लोमा कोर्स होते हैं। इनको करने के पश्चात विद्यार्थी फार्मेसी क्षेत्र में अपने करियर को सवार सकता है। B.Pharma विद्यार्थियों के लिए एक सफल कैरियर Medical LIne में बनाने के लिए उपलब्ध है।

जो विद्यार्थी शुरुआत से ही विज्ञान विषय से संबंध रखता है या फिर विज्ञान वर्ग की पढ़ाई में अधिक रुचि रखता है। उन विद्यार्थियों के लिए 12वीं कक्षा पास करने के बाद B.Pharma Course करने की एक अपॉर्चुनिटी होती है। आज के आर्टिकल में हम आपको B.Pharmacy Diploma कैसे करें और B.Pharma Course Details in Hindi के बारे में में जानकारी देंगे।

B.Pharmacy क्या होता है? (B.Pharma Course Details in Hindi 2023)

B.Pharma Course Details in Hindi

B.Pharma की full form Bachelor of Pharmacy होता है। यह एक प्रकार का diploma course है। जो 4 साल की अवधि के दौरान पूरा होता है। B.pharmacy की Degree भी होती है जो 4 साल में Under Graduation Degree Program के तहत आती है।

इस डिग्री कोर्ट के माध्यम से फार्मा उद्योग से संबंधित दवाओं के मैन्युफैक्चरर (Medicine Manufacturer) से लेकर Marketing और Retailer तक की सारी जानकारी उपलब्ध करवाई जाती है। ताकि विद्यार्थी B.Pharma करने के बाद किसी भी दवाई के Manufacturing का काम कर सकता है या फिर Medical या Pharmacy की दुकान खोलकर Retailing और Marketing का काम कर सकता है।

B Pharma (Bachelor of Pharmacy) करने के लिए जरूरी होगी योग्यता (b pharma eligibility)

जो विद्यार्थी बी फार्मा कोर्स करने के लिए इच्छा रखते हैं। उन विद्यार्थियों को सबसे पहले बी फार्मा करने के लिए न्यूनतम जरूरी योग्यता मापदंड को पूरा करना होता है। जो विद्यार्थी जरूरी मापदंड योग्यता को पूरा कर देते हैं। उन्हीं विद्यार्थियों को भी फॉर्म आवेदन करने और बी फार्मा का कॉलेज लेने की अनुमति होती है। बी फार्मा के लिए जरूरी योग्यता के बारे में जानकारी नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई है:

  • बी फार्मा कोर्स करने के लिए विद्यार्थी सबसे पहले 12वीं कक्षा में न्यूनतम 50% अंक होना अनिवार्य है।
  • 12वीं कक्षा में विद्यार्थी का विज्ञान वर्ग होना अनिवार्य है और विज्ञान वर्ग के दौरान भी Chemistry, Biology और Mathematics का होना जरूरी है।
  • विद्यार्थी 12वीं कक्षा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से की हुई अनिवार्य है अन्यथा आप बी फार्मा में आवेदन करने के योग्य नहीं होंगे।
  • बी फार्मा करने वाले उम्मीदवार की अंग्रेजी भाषा में अच्छी Skill होनी चाहिए।

B.Pharma के लिए होने वाले Entrance Exam

हमारे देश की जनसंख्या बहुत अधिक है और यहां हर किसी डिग्री व डिप्लोमा को लेने के लिए विद्यार्थियों की भीड़ रहती है। ऐसे में सरकार के द्वारा एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से सरकारी कॉलेज उन्हीं लोगों को उपलब्ध करवाया जाता है। जो पढ़ाई में अच्छे होते हैं। बी फार्मा के लिए एंट्रेंस एग्जाम कौन कौन से होते हैं। उसके बारे में नीचे जानकारी दी गई है।

  • यूपीएसईई (UPSEE)
  • जीपैट (GPAT)
  • एनईईटी (NEET)
  • बिटसैट (BITSET)
  • एमएचटी-सीईटी (MHT-CET)

B Pharma कोर्स के लिए एडमिशन की प्रक्रिया

जब विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास कर लेता है। तो विद्यार्थी को कॉलेज में एडमिशन लेने की चिंता होती है। कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए बी फार्मा एडमिशन प्रक्रिया से गुजरना होता है। जो कुछ इस प्रकार से है:

  • जो विद्यार्थी बी फार्मा कोर्स के लिए एडमिशन लेना चाहता है। उन विद्यार्थियों को सबसे पहले प्रवेश परीक्षा में आवेदन कर रहा होगा।
  • विद्यार्थियों को प्रवेश परीक्षा के पश्चात एक मेरिट के आधार पर चयनित किया जाएगा और उसी मेरिट के आधार पर उसने कॉलेज उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • प्राइवेट कॉलेज में आप डायरेक्ट 12वीं के बाद एडमिशन ले सकते हैं। लेकिन वहां डोनेशन देने की जरूरत पड़ती है।
  • सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम से गुजरना होता हैं।
  • फार्मा कॉलेज में एडमिशन मिलने के बाद आपको कॉलेज में डॉक्यूमेंट जमा करवाने होंगे और अपने आगे की पढ़ाई को शुरू करना होगा।

बी फार्मा कोर्स के बाद करियर स्कोप

बी फार्मा की डिग्री लेने के बाद पेरिस्कोप के बारे में बात की जाए तो बीफार्मा डिग्री लेने के बाद आप अपना मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस शुरू कर सकता हूं इतना ही नहीं इसके अलावा भी कई प्रकार के करके इसको इस डिप्लोमा को लेने के बाद मौजूद होते हैं। जिसकी जानकारी प्रदान करवा रहे हैं।

  1. बी फार्मा में करियर स्कोप के तौर पर सबसे पहले आप मेडिसिन की डिस्पेंसिग का काम कर सकते हैं।
  2. मेडिसिन की मैन्युफैक्चरिंग संबंधित काम कर सकते हैं।
  3. फील्ड में प्रोफेशनल की डिमांड बहुत अधिक होती है ऐसे में बीफार्मा करके आप प्रोफेशनल की नौकरी भी प्राप्त कर सकते हैं।
  4. बी फार्मा करने के बाद हॉस्पिटल में फार्मा सेंटर में मेडिकल कॉलेज में और फार्मा केंद्र में भी कार्य करने का मौका मिलता है। इसके अलावा बीफार्मा वाले विद्यार्थियों को गवर्नमेंट सेक्टर में भी गवर्नमेंट हॉस्पिटल और कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में फॉर्मेट के तौर पर जॉब मिलती है इतना ही नहीं वर्मा करने वाले विद्यार्थी ड्रग इंस्पेक्टर बनने का मौका प्राप्त कर सकते हैं।

बी फार्मा के बाद और मुख्य जॉब की सूची नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई है:

  • प्राइवेट हॉस्पिटल में फार्मासिस्ट
  • गवर्नमेंट फार्मासिस्ट
  • केमिस्ट
  • मेडिकल राइटर
  • क्लीनिकल रिसर्च एसोसिएट
  • ड्रग सेफ्टी एसोसिएट
  • ड्रग इंसपेक्टर
  • फार्मक्यूटिकल्स साइंटिस्ट
  • फार्मूलेशन डेवलपमेंट एसोसिएट
  • सेल्स एंड मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव
  • क्वालिटी एसोरेन्स एसोसिएट
  • हॉस्पिटल
  • नृसिंग होम
  • ट्रामा सेंटर
  • क्लीनिक
  • डिस्पेंसरी
  • फार्मक्यूटिकल्स कंपनी
  • सर्जिकल इक्विपमेंट कंपनी
  • मेडिकल वेबसाइट
  • मेडिकल कॉलेज

B Pharma कोर्स की फीस कितनी होती है? (b pharma fees)

बी फार्मा का कोर्स करने के लिए स्पीच अलग-अलग कॉलेज पर अलग-अलग निर्धारित होती है। सरकारी कॉलेज में बी फार्मा की और ₹10000 के आसपास प्रतिवर्ष होती है। लेकिन यही आप प्राइवेट कॉलेज में बी फार्मा का ऐडमिशन लेते हैं तो यहां पर आपको ₹60000 से लेकर ₹100000 प्रति वर्ष देना पड़ता है कि 4 साल की गवर्नमेंट कॉलेज की फीस बहुत कम है। अतः सभी विद्यार्थियों को एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेते हुए गवर्नमेंट कॉलेज से बीफार्मा करना चाहिए।

बी फार्मा के बाद सैलरी

जो विद्यार्थी बी फार्मा का कोर्स करते हैं  उन विद्यार्थियों को बी फार्मा कोर्स करने के बाद आकर्षक सैलरी प्रति महीना मिलती है। प्राइवेट क्षेत्र में इस डिप्लोमा को लेने के बाद आप ₹20000 प्रति महीना से लेकर ₹25000 प्रति महीना तक आराम से ले सकते हैं। लेकिन सरकारी क्षेत्र में ड्रग इस्पेक्टर के तौर पर नौकरी लेने पर आपको ₹70000 प्रति महीना सैलरी मिलती है। इतना ही नहीं गवर्नमेंट हॉस्पिटल और गवर्नमेंट हेल्थ केयर सेंटर में ₹40000 से ₹50000 तक की सैलरी मिलती है। यदि आप अपना खुद का बिजनेस शुरू करते हैं तो वहां पर सैलरी का कोई आकलन नहीं होता है।

People Also Read:-

मेडिकल क्षेत्र में करियर कैसे बनाएं?

GNM Course क्या होता है कैसे करें संपूर्ण जानकारी।

ANM Course क्या होता है ANM कैसे करें?

M.D कैसे करें Medicine Doctor कैसे बने पूरी जानकारी?

B Pharma के लिए भारत के बेहतरीन कॉलेज

बी फार्मा कोर्स करने के लिए हर विद्यार्थी का एक सपना होता है, कि वह भारत के सबसे बेहतरीन कॉलेज में अपना एडमिशन करवाए लेकिन कई लोगों को भारत के बेहतरीन बी फार्मा के लिए कौन से कॉलेज है। इसके बारे में जानकारी नहीं है बी फार्मा के लिए भारत के बेहतरीन कॉलेज की सूची नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई है।

  1. बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी
  2. जामिया मिलिया इस्लामिया
  3. दिल्ली यूनिवर्सिटी
  4. चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
  5. बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी
  6. पूना कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी
  7. आंध्र यूनिवर्सिटी
  8. गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी
  9. मणिपाल कॉलेज ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज
  10. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च मोहाली
  11. गोवा कॉलेज ऑफ फार्मेसी
  12. सीएसजेएमयू
  13. मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई

बी फार्मा के विषय (B.Pharma Syllabus 2023 Subject Name)

जो विद्यार्थी बीफार्मा कर रहे होते हैं। उन विद्यार्थियों को सब्जेक्ट के बारे में जानकारी लेना भी काफी महत्वपूर्ण होता है। विद्यार्थी के लिए बीफार्मा के सभी साल के सब्जेक्ट की सूची हम आपको नीचे कुछ इस प्रकार से दे रहे हैं:

B Pharmac First Year Subject

  • Pharmaceutics
  • Human Anatomy and Physiology
  • Chemistry
  • Pharmaceutical Inorganic
  • Remedial Mathematics
  • Remedial Biology
  • Biochemistry
  • Pharmaceutical Analysis
  • Pharmacy
  • Computer Applications in
  • Human Anatomy and Physiology
  • Pathophysiology
  • Pharmaceutical Organic Chemistry
  • Environmental Sciences

B Pharma Subjects Second Year Subject

  • Pharmaceutical Microbiology
  • Physical Pharmaceutics
  • Pharmaceutical Engineering
  • Medicinal Chemistry
  • Pharmaceutical Organic Chemistry
  • Pharmacognosy and
  • Phytochemistry
  • Pharmacology

B Pharmacy Third Year Subject

  • Pharmaceutical Jurisprudence
  • Industrial Pharmacy
  • Medicinal Chemistry
  • Pharmaceutical Biotechnology
  • Herbal Drug Technology
  • Medicinal Chemistry
  • Pharmacology

B Pharma Fourth Year Subject

  • Instrumental Methods of Analysis
  • Novel Drug Delivery System
  • Pharmacy Practice
  • Industrial Pharmacy
  • Biostatistics and Research
  • Methodology
  • Computer Aided Drug Design
  • Dietary Supplements and
  • Quality Control and Standardization of Herbals
  • Nutraceuticals
  • Cell and Molecular Biology
  • Pharmacovigilance
  • Experimental Pharmacology
  • Cosmetic Science
  • Advanced Instrumentation
  • Nutraceuticals
  • Pharmaceutical Regulatory Science
  • Social and Preventive Pharmacy
  • Dietary Supplements and Techniques
  • Practical Training
  • Project Work

निष्कर्ष

बी फार्मा कोर्स करने के लिए विद्यार्थी 12वीं कक्षा के बाद योग्य हो जाता है। बारहवीं कक्षा के बाद विद्यार्थी एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेते हुए सरकारी B.Pharma College में एडमिशन ले सकता है या फिर प्राइवेट कॉलेज में B.Pharma Course कर सकता है। फार्मेसी विभाग में बी फार्मा कोर्स काफी लोकप्रिय होता है। इस बी फार्मा कोर्स को करने के बाद विद्यार्थी सरकारी क्षेत्र लेकर प्राइवेट क्षेत्र में मैन्युफैक्चर बनने तक का सफर तय कर सकता है।

आज के आर्टिकल में हमने आपको B.Pharma Course क्या होता है। B.Pharma Course कैसे करें इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी। यदि किसी व्यक्ति को हमारी इस आर्टिकल से जुड़ा हुआ कोई भी सवाल है, तो वह हमें कमेंट के माध्यम से बता सकता है। हम आपके सवाल का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Comment