Bachelor of Fine Arts क्या होता है? | BFA Course Details in Hindi 2022

आज के समय में कला का महत्वपूर्ण योगदान है। आज के समय में कला को विशेष महत्व दिया जाता है। कला हमारी संस्कृति को प्रदर्शित करती है। इसीलिए कला क्षेत्र में आज के युवा एक बेहतरीन करियर विकल्प देख रहे हैं। कुछ वर्षों पहले कला केवल एक मनोरंजन तथा संस्कृति का ही माध्यम था लेकिन अब कल आने कैरियर का भी रूप धारण कर लिया है क्योंकि समाप्त होती संस्कृति का कला अब वर्तमान समय में जरूरी कार्यों और दैनिक जीवन का हिस्सा बन चुका है। इसीलिए Arts से संबंधित विभिन्न प्रकार के विषय का पाठ्यक्रम विद्यार्थियों को पढ़ाया जाता है और इससे संबंधित उन्हें करियर विकल्प चयन करने का ऑप्शन दिया जाता है।

आज के समय में युवा अपने बेहतरीन करियर के लिए तरह-तरह की पढ़ाई करता है और तरह-तरह की डिग्रियां हासिल करता है जिसके आधार पर कोई कार्य करके अथवा सरकारी नौकरी ज्वाइन करके एक सफल और बेहतरीन जीवन यापन करता है। इसी कड़ी में आज के समय में विभिन्न प्रकार की डिग्रियां और पाठ्यक्रम उपस्थित है। जहां पर कला संस्कृति का महत्वपूर्ण अंग माना जाता है। इसीलिए कला से संबंधित विषय का पाठ्यक्रम विद्यार्थियों को पढ़ाया जाता है उसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार की डिग्रियां दी जाती है। उन डिग्रियों के आधार पर विद्यार्थी आगे चलकर तरह-तरह की नौकरी कर सकता है और एक बेहतरीन करियर विकल्प देख सकता है।

अधिकांश लोग वर्तमान समय के अनुरूप Science और Technology के क्षेत्र में अध्ययन कर रहे हैं पढ़ाई कर रहे हैं और उन्हीं छात्रों में अपना करियर विकल्प चुनना चाहते हैं। वही हमारी संस्कृति और सभ्यता से संबंध रखने वाला कला विषय भी काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि इसी की बदौलत आज विलुप्त होती संस्कृति को फिर से उजागर किया जा रहा है। लोगों को जागरूक किया जा रहा है इसी कड़ी में Arts विषय से संबंधित Bachelor की Degree प्रदान की जाती है जिसे प्राप्त करने के बाद तरह-तरह की नौकरियां और तरह-तरह के कैरियर विकल्प देखने को मिलते हैं। तो आइए आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताते हैं कि Bachelor of Fine Art क्या होता है?

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स का अर्थ (Bachelor of Fine Arts in Hindi 2022)

Bachelor of Fine Arts क्या होता है? | BFA Course Details in Hindi 2022

Bachelor of Fine Art का अर्थ ‘ललित कला स्नातक‘ होता है। ललित कला का अर्थ कला से संबंधित नए-नए प्रकार पर अध्ययन करना और उनका निर्माण करना होता है। इस कड़ी में Visual Arts महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। कला जो पहले से चली आ रही है। उनसे संबंधित चित्र बनाना कला नृत्य Photography फिल्मों का निर्माण करना वास्तु कला इत्यादि विभिन्न प्रकार के अलग-अलग रंग रूप है। इन सभी प्रकार की कलाओं के तहत तरह-तरह के बैचलर डिग्री प्रदान की जाती है जिसे हिंदी में Graduation Course कहते हैं।

यह Course दर्शन शास्त्र, अर्थशास्त्र समाजशास्त्र, अंग्रेजी साहित्य, मनोविज्ञान, राजनीतिक विज्ञान, भूगोल इत्यादि तरह-तरह के Graduation कोर्स होते हैं। इन कोर्स को करने के बाद बड़ी बड़ी नौकरियां आसानी से मिल जाती हैं। भारत में उपस्थित बड़ी-बड़ी Universities इस तरह के Bachelor of Fine Arts का Course करवाती है। यह कोर्स 3 साल का होता है। इस कोर्स को करने के बाद आप तरह-तरह से अपनी रूचि के अनुसार कार्य कर सकते हैं और उस फील्ड में एक बेहतरीन करियर विकल्प चुन सकते हैं।

अगर आपको कला के सत्र में रुचि है। Arts बनाना आता है, Paintings का शौक है Graphics बनाना आता है या आज के Digital जमाने के आधार पर आप किसी प्रकार की कला का प्रदर्शन करते हैं, तब आप इस क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं। यहां पर आपको अपनी रूचि के अनुसार विभिन्न प्रकार के कोर्स मिल जाते हैं और उनको स्कोर करने के बाद आप को डिग्री प्रदान की जाती है। डिग्री मिलने के बाद आसानी से नौकरी मिल जाती है और इस प्रकार से आप अपनी रूचि के अनुसार कार्य भी कर सकते हैं और एक बेहतरीन करियर विकल्प चुन कर सकते हैं।

Bachelor of Fine Arts के लिए योग्यता (BFA Eligibility in Hindi 2022)

प्रत्येक सत्र में आगे बढ़ने के लिए खुद को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि क्या आपके पास उस विषय से संबंधित योग्यता है? अगर आपके पास उसी विषय से संबंधित किसी भी प्रकार की योग्यता है? तो आप जरूर उस विषय में सफल होंगे और आपको उस क्षेत्र में जरूर आगे बढ़ना चाहिए। Bachelor of fine art के लिए भी योग्यताएं निर्धारित की गई है, जिसके आधार पर कोई भी व्यक्ति इस Degree को हासिल कर सकता है। बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स की योग्यता निम्नलिखित हैं —

  • कला के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए Bachelor of Fine Art का कोर्स करने हेतु आपको इस क्षेत्र में रुचि होनी चाहिए।
  • कला के क्षेत्र की अच्छी समझ और सूझबूझ से काम करने की जिज्ञासा होनी चाहिए।
  • कला के क्षेत्र में अपनी Creativity से तथा कल्पना से तरह-तरह के आवश्यक कार्य कर रहे होते हैं।
  • इस क्षेत्र में हर रोज नए नए Experiment करने होते हैं। संस्कृति को बरकरार रखने वाले कला अध्याय को भी जीवित रखना होता है।
  • कला के क्षेत्र को मजबूत बनाने में आपकी रूचि होनी चाहिए।
  • अगर आपको किसी भी प्रकार की कला आती है तो आप इस कोर्स कर सकते हैं।
  • Sketching या Drawing बनाना आना चाहिए।
  • Visual Arts बनाना एवं कल्पनात्मक Arts का अनुभव होना चाहिए।
  • संचार एवं प्रस्तुति कला की जानकारी होनी चाहिए।

Animation Course क्या है कैसे करें?

फोटोग्राफी (Photography) में करियर कैसे बनाएं पूरी जानकारी?

ग्राफिक डिजाइनिंग (Graphic Designing) में करियर कैसे बनाएं पूरी जानकारी?

फैशन डिजाइनर (Fashion Designer) क्या होता है और कैसे बने?

Digital Marketing Course क्या है डिजिटल मार्केटिंग में करियर कैसे बनाएं?

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट का पाठ्यक्रम (BFA Syllabus in Hindi 2022)

प्रत्येक डिग्री के तहत विभिन्न प्रकार के विषय होते हैं। उन सभी विषय से मिलाकर यह कोर्स बनता है और उसको उसको पूर्ण करने के बाद उसे उसकी डिग्री मिल जाती है। ठीक उसी प्रकार कला के क्षेत्र में स्नातक की डिग्री प्रदान करने के लिए Bachelor of fine art का कोर्स करवाया जाता है। इस कोर्स के तहत विभिन्न प्रकार के पाठ्यक्रम को शामिल किया गया है जो कला विषय से संबंध रखते हैं। आप इन विषयों में से किसी भी प्रमुख विषय का चयन कर सकते हैं और अपनी रूचि के अनुसार उसमें आगे बढ़ सकते हैं। Bachelor of fine art के सिलेबस में शामिल किए गए Subjects के नाम निम्नलिखित है —

  • पर्यावरण का अध्ययन
  • मिट्टी के बर्तन और मिट्टी के पात्र
  • नाटक और रंगमंच
  • Computer Graphics
  • Design और संचार अभ्यास
  • चित्राना
  • Digital Arts
  • भारतीय सांस्कृतिक इतिहास
  • कपड़ा डिजाइन
  • सौंदर्यशास्त्र
  • भारतीय कला का इतिहास

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स Universities—

वर्तमान समय में कला के सत्र पर महत्वपूर्ण ध्यान रखते हुए इस सत्र को आगे बढ़ाने के लिए देश के कोने कोने में विभिन्न प्रकार के शिक्षण संस्थान में कला से संबंधित पाठ्यक्रम पढ़ाई जाता है और विभिन्न प्रकार की डिग्रियां प्रदान की जाती है इस सूची में बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स की Degree प्रदान करने वाले भारत के 10 शिर्ष शिक्षण संस्थान —

  • चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी, मेरठ
  • देश भगत यूनिवर्सिटी, गोबिंदगढ़
  • एमिटी यूनिवर्सिटी, नॉएडा
  • एमिटी यूनिवर्सिटी, गुडगाँव
  • ओस्मानिया यूनिवर्सिटी, हैदराबाद
  • अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, अलीगढ
  • चीत्कार यूनिवर्सिटी, पटियाला
  • मंगलायतन यूनिवर्सिटी, अलीगढ
  • सावित्रीबाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी, पुणे
  • बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी, वाराणसी

Bachelor of Fine Arts के बाद Job Profiles

वर्तमान समय में इस कोर्स की काफी ज्यादा demand बढ़ चुकी है क्योंकि आज के समय में प्रारंभिक कला के साथ-साथ अत्याधुनिक कला का भी उपयोग हो रहा है। आज के समय में digital युग में तरह-तरह की कला का उपयोग होता है। जिनमें Visual Arts, Graphic Ats, Animation, 2D, 3D, Editing, Paiting, Designing, Modeling, कला, studio, टेलीविजन, विज्ञापन, सिनेमा, प्रकाशन, बुटीक इत्यादि विभिन्न प्रकार के बड़े-बड़े क्षेत्र उत्पन्न हो रहे हैं। उनमें बड़ी मात्रा में कला का उपयोग होता है। इसीलिए Bachelor of fine art की डिग्री प्राप्त करने के बाद आपके सामने विभिन्न प्रकार की जॉब प्रोफाइल है।

Conclusion

Bachelor of fine arts यह एक प्रकार की डिग्री होती है जिसे हिंदी में ललित कला स्नातक डिग्री कहते हैं। इस कोर्स को करने के दौरान कला क्षेत्र से संबंधित विभिन्न प्रकार के पाठ्यक्रम का अध्ययन कराया जाता है जिनमें आज के समय का डिजिटल युग भी शामिल है। इस कोर्स को करने के बाद अपनी कला संस्कृति को जीवित रह पाते हैं, साथ ही आज के समय में हो रहे कला के उपयोग में कार्य कर ही अपना एक बेहतरीन करियर विकल्प चयन कर सकते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको पूरी जानकारी के साथ विस्तार से बता चुके हैं कि Bachelor of fine art क्या होता है? हमें उम्मीद है। यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका कला से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Leave a Comment