BBA Course Kya Hai? | BBA कोर्स कैसे करें से जुड़ी संपूर्ण जानकारी

विद्यार्थी अपने करियर में कई तरह के डिग्री व डिप्लोमा कोर्स कर के करियर को सफल बनाने के बारे में प्रयास करता है। विद्यार्थी अपने विषय वर्ग के आधार पर ही उच्च स्तर के पढ़ाई के बारे में सोचता है और उच्च स्तर की पढ़ाई को अपने ग्यारहवीं व बारहवीं कक्षा के विषय वर्ग के आधार पर ही तय करता है। जो विद्यार्थी बिजनेस से संबंधित कोर्स करना चाहते हैं।

यानी कि जो विद्यार्थी अपने भविष्य में बिजनेस को कैसे बढ़ाया जाए और बिजनेस से जुड़ी Economy और Marketing Strategies के बारे में डिग्री लेना चाहते हैं, तो उन विद्यार्थियों के लिए भी बीए की डिग्री बहुत ही ज्यादा उपयोगी साबित होती है। विद्यार्थी बीबीए की डिग्री लेकर अपने भविष्य को बिजनेस के क्षेत्र में सफल बना सकता है। आज के आर्टिकल में हम आपको BBA Course kya hai और BBA Course kaise kare? इसके बारे में डिटेल में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

बीबीए कोर्स क्या है? (BBA Course Kya Hai in Hindi 2022)

भारत में बहुत सारी यूनिवर्सिटी जो बीबीए कोर्स विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध करवाती है। बीबीए कोर्स जो 12वीं की पढ़ाई के बाद एक ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स है। इस कोर्स को करने के लिए विद्यार्थी को 6 सेमेस्टर यानी कि 3 साल तक पढ़ाई करनी होती है। बीबीए को उनका पूरा नाम बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन है। जिसे हिंदी में व्यवसाय प्रबंधन में ग्रेजुएशन कहा जाता है। बीबीए कोर्स करने के पश्चात विद्यार्थी बिजनेस से संबंधित कई क्षेत्रों में नौकरी हासिल कर सकता है और उसके बाद मास्टर डिग्री के तौर पर एमबीए की डिग्री लेकर अपने भविष्य को सुधार सकता है।

बीबीए कोर्स करने के लिए जरूरी योग्यताएं

जो विद्यार्थी बीबीए कोर्स करना चाहता है। उस विद्यार्थी के पास कुछ योग्यता होनी अनिवार्य है। क्योंकि योग्यता के आधार पर ही विद्यार्थी को बीबीए कोर्स में आवेदन मिलता है।

बीबीए कोर्स करने वाले उम्मीदवार के पास किसी भी विषय वर्ग के साथ 12वीं कक्षा में न्यूनतम 50% अंक होना अनिवार्य है। कई ऐसे सरकारी कॉलेज है, जो 60% न्यूनतम अंक पूछते हैं।

बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन डिग्री लेने वाले विद्यार्थी को किसी भी विषय वर्ग के साथ 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करनी है और बारहवीं कक्षा के बाद किसी कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम आयोजित होता है। तो उस एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेकर एडमिशन लेना होगा।

अन्यथा आप डायरेक्ट बारहवीं कक्षा के बाद बीबीए कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं।

BBA (बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन) कैसे करें?

BBA Course Kya Hai? | BBA कोर्स कैसे करें से जुड़ी संपूर्ण जानकारी

जो विद्यार्थी बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन करना चाहता है। उस विद्यार्थी के लिए नीचे कुछ चरण मौजूद करवाए गए हैं। उन चरणों को फॉलो करते हुए विद्यार्थी बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स कर सकता है।

सर्वप्रथम विद्यार्थी को बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन करने के लिए 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करनी होगी। 12वीं कक्षा में विद्यार्थी न्यूनतम 50% या न्यूनतम 60% अंक के साथ पास कर सकता है। कई कॉलेज जो 50% अंक के बावजूद भी आप को एडमिशन दे देते हैं। लेकिन कई कॉलेज में न्यूनतम मार्च के तौर पर 60% अंक होने अनिवार्य है।

बारहवीं कक्षा के पश्चात विद्यार्थी को बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के लिए कॉलेज में जाता है। कॉलेज मिलने के बाद उम्मीदवार को 3 साल की अवधि यानी कि 6 सेमेस्टर में अच्छे से पढ़ाई करते हुए इस कोर्स को पूरा करना है और बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट हासिल करना है।

BA के बाद महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी की पूरी जानकारी.

BBA Course कितने साल का होता है?

बीबीए कोर्स कितने साल का होता है। यह सवाल कई लोगों के मन में हमेशा खटकता रहता है। बीबीए कोर्स दो-तीन साल की अवधि के लिए कॉलेज के द्वारा प्रदान करवाया जाने वाला एक ग्रेजुएशन कोर्स है। जिसे विद्यार्थी 3 साल यानी कि 6 सेमेस्टर के दौरान पूरा कर सकता है। विद्यार्थी 6 सेमेस्टर के साथ इस उसका सर्टिफिकेट हासिल कर सकता है।

BBA कोर्स के Subjects List 2022

बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स करने वाले उम्मीदवारों को बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्टर किन किन विषयों के साथ हो सकता है। इसके बारे में जानकारी लेना बहुत ही ज्यादा जरूरी है, जो विद्यार्थी बी बी ए का कोर्स कर रहा है। उन विद्यार्थियों के लिए बीए में कौन-कौन से विषय होते हैं। उसकी सूची हम आपको नीचे प्रदान करवा रहे हैं।

  • Financial Accounting
  • Principles of Management
  • Quantitative Technique
  • Business Economics
  • Cost Accounting
  • Management Accounting
  • Statistics Management
  • Direct & Indirect Tax
  • Marketing Management
  • Business Mathematics
  • Security Analysis
  • Corporate Planning
  • Production and Material Management
  • International Marketing
  • Organizational Behavior
  • Operations Research
  • Industrial Relations
  • Personnel Management
  • Business Finance
  • Environmental Management
  • Human Resource Management
  • Sales and Distribution
  • Strategic Management

BBA कोर्स के बाद क्या करें?

जो विद्यार्थी बी बी ए का कोर्स कर लेता है, तो उसके पश्चात विद्यार्थी को आगे मास्टर डिग्री के तौर पर एमबीए की डिग्री लेने का एक सुनहरा मौका होता है। एमबीए की डिग्री लेने के बाद विद्यार्थी अपने आपको बिजनेस के क्षेत्र में काफी परफेक्ट बना सकता है और बिजनेस के कई विषयों को गहराई के साथ पढ़ सकता है।

जो विद्यार्थी बीबीए कोर्स करने के बाद डिग्री लेने की बजाय सीधा जॉब करना चाहता है, तो बीबीए कोर्स के बाद विद्यार्थी जॉब कर सकता है। लेकिन बीबीए कोर्स के बाद कौन-कौन से कोर्स किए जा सकते हैं। इसकी सूची हम आपको नीचे प्रदान करवा रहे हैंः

  • एमबीए (MBA)
  • पीजीडीएम (PGDM)
  • एलएलबी (LLB)
  • चार्टर्ड एकाउंटेंट (Charted Accountant)
  • बैंकिंग में पीजी डिप्लोमा (Banking PG Diploma)
  • एमएमएस (MMS)
  • वित्त प्रबंधन में मास्टर्स (Masters of Income Management )
  • डाटा साइंस में पीजी सर्टिफिकेशन (Data Science PG Certificate Course)
  • डिजिटल मार्केटिंग में मास्टर्स (Masters of Digital Marketing)

BBA कोर्स करने के बाद जॉब

जो उम्मीदवार बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन डिग्री लेने के बाद नौकरी की तलाश कर रहे हैं। उन विद्यार्थियों के लिए कई तरह की नौकरी डीबीए कोर्स करने के बाद उपलब्ध हो जाती है। विद्यार्थी बीबीए कोर्स करके नीचे दिए गए निम्नलिखित पदों पर नौकरी प्राप्त कर सकता हैः

  1. बिज़नेस डेवलपमेंट एग्जीक्यूटिव
  2. एग्जीक्यूटिव असिस्टेंट       
  3. मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव    
  4. यात्रा एवं पर्यटन मैनेजर     
  5. इवेंट मैनेजर 
  6. अकाउंट मैनेजर          
  7. ब्रांड मैनेजर          

BBA कोर्स की फीस कितनी होती है?

बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन डिग्री लेने वाले उम्मीदवार के मन में सबसे पहले कोर्स से संबंधित कई प्रकार के सवाल पैदा होते हैं। क्योंकि हर विद्यार्थी अपने बजट के अनुसार ही डिग्री का चयन करता है। कई ऐसे विद्यार्थी हैं, जिनके पास डिग्री लेने के लिए पैसे नहीं होते हैं। ऐसे में उन विद्यार्थियों को सबसे पहले खर्चे का आकलन लगाना होता है।

बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन करने के लिए कितना खर्चा आएगा इसके बारे में बात की जाए, तो बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन करने वाले उम्मीदवार को फीस के तौर पर 3 साल में कुल ₹100000 से लेकर ₹150000 तक खर्चा आता है। कई प्राइवेट कॉलेज में इससे अधिक भी हिसाब से वसूली जा सकते हैं।

BBA Course के लिए भारत के बेहतरीन कॉलेज

भारत की जनसंख्या के आधार पर भारत में लाखों की संख्या में विश्वविद्यालय में मौजूद होंगे लेकिन कई बार भारत के टॉप कॉलेज पर बात आकर अटक जाती है। भारत के टॉप बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कॉलेज की सूची हम आपको नीचे प्रदान करवा रहे हैंः

  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बैंगलोर
  • एमिटी इंटरनेशनल बिजनेस स्कूल, नोएडा
  • इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, नोएडा
  • विल्सन कॉलेज, मुंबई
  • शैलेश जे मेहता स्कूल ऑफ मैनेजमेंट (SJMSOM), मुंबई
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग, महाराष्ट्र
  • एस. पी. जैन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च, मुंबई
  • नेशनल इंस्टियूट ऑफ मैनेजमेंट, राजस्थान
  • बी.आई.टी.एस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, ग्रेटर नॉएडा

अवश्य देखें:-

MCA Course क्या होता है और कैसे करें पूरी जानकारी?

B.Sc कोर्स क्या होता है और कैसे करें संपूर्ण जानकारी?

Accounting Software क्या होता है पूरी जानकारी?

ग्रेजुएशन के बाद best Courses की पूरी जानकारी.

बीबीए के बाद विद्यार्थी को सैलरी कितनी मिलती है?

बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्टर की डिग्री लेने के बाद जब विद्यार्थी किसी भी पद पर कार्यरत होता है, तो विद्यार्थी को कितनी सैलरी मिल सकती है। इसके बारे में विद्यार्थी पहले से ही आकलन करने शुरू कर देता है। विद्यार्थी को हमेशा किसी भी पद पर नौकरी हासिल करने का मकसद उस पद पर कार्यरत रहते हुए पैसे कमाना होता है।

बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन री लेने के बाद विद्यार्थी कई पदों पर नौकरी हासिल कर सकता है और उन सभी पदों की सैलरी कितनी है। इसके बारे में हम आपको नीचे महत्वपूर्ण जानकारी दे रहे हैंः

  • बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन डिग्री लेने के बाद यदि आप बिजनेस डेवलपमेंट एग्जीक्यूटिव के पद पर काम करते हैं, तो आपको ₹300000 से लेकर ₹500000 सालाना वेतन मिल सकता है।
  • मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव को बिजनेस ऑफ एडमिनिस्टर की डिग्री लेने के बाद ₹600000 से लेकर ₹800000 प्रति वर्ष सैलरी के तौर पर मिल सकता है।
  • एग्जीक्यूटिव असिस्टेंट के पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को ₹250000 से लेकर ₹300000 सालाना मिल जाता है।
  • यात्रा एवं पर्यटक मैनेजर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को ₹350000 से लेकर ₹500000 प्रति वर्ष वेतन के तौर पर उम्मीदवार कमा सकता हैं।
  • अकाउंट मैनेजमेंट के पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को ₹400000 से लेकर ₹500000 प्रतिवर्ष तक की सैलरी प्रदान करवाई जाती है।
  • ब्रांड मैनेजर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को ₹500000 से लेकर ₹700000 प्रति वर्ष सैलरी प्रदान करवाई जाती है।
  • इवेंट मैनेजमेंट पद पर काम करने वाले बीबीए कोर्स धारी विद्यार्थी को ₹450000 से लेकर ₹600000 सालाना पैकेज मिल जाता है।

निष्कर्ष

देश में कई ऐसे पद है, जिन पर नौकरी हासिल करना विद्यार्थियों का सौभाग्य माना जाता है। बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन डिग्री लेने के बाद विद्यार्थी के सामने कई ऐसे जॉब और करियर को संवारने के ऑप्शन मौजूद हो जाते हैं। जिन्हें हासिल करके विद्यार्थी अच्छा खासा पैसा सालाना कमा सकता है।

लेकिन वर्तमान में बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स करके नौकरी हासिल करने की प्रतिस्पर्धा थोड़ी बढ़ गई है। परंतु फिर भी आज भी और भविष्य में बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विद्यार्थियों की डिमांड बढ़ती जाएगी।

आज के आर्टिकल में हमने आपको BBA Course क्या होता है? और BBA Course कैसे करें? इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है, हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा की जानकारी आपको पसंद आई होगी।

Leave a Comment