Biology Teacher कैसे बने? 2022 में भूगोल अध्यापक बनने की पूरी जानकारी

आज के समय में हर व्यक्ति जब दसवीं कक्षा उत्तीर्ण कर लेता है तो उसके बाद अपने करियर के ख्वाब देखना शुरु कर लेता है। अपने करियर में आगे उस व्यक्ति को क्या करना है। इसके बारे में व्यक्ति पहले से ही योजना बना लेता है कि मुझे 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद इस क्षेत्र में अपनी पढ़ाई करनी है और इस एग्जाम की तैयारी करके मुझे यह बनना है।

टीचर बनने का सपना भी लाखों लोग रखते हैं। लोग अपने इस सपने को पूरा करने के लिए मेहनत भी करते हैं टीचर अलग-अलग विषय के अलग-अलग होते हैं। बायोलॉजी टीचर कैसे बने या भूगोल टीचर कैसे बने इसके बारे में आज के इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

बायोलॉजी टीचर क्या होता है?

दसवीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद विद्यार्थी को 11वीं और 12वीं कक्षा में जीव विज्ञान पढ़ाने वाला अध्यापक बायोलॉजी टीचर कहलाता है। बायोलॉजी टीचर बनने की प्रक्रिया सभी टीचर की तरह समान ही होती है। जिस प्रकार से अलग-अलग विषय के अलग-अलग पिक्चर बनते हैं उसी प्रकार से बायोलॉजी टीचर बना जा सकता है बायोलॉजी टीचर कैसे बने? इसके बारे में नीचे जानकारी हम आपको डिटेल में बताने का प्रयास करेंगे।

बायोलॉजी टीचर बनने के लिए जरूरी योग्यता

बायोलॉजी के टीचर 2 लेवल के होते हैं। एक फर्स्ट ग्रेड टीचर के तौर पर जो यारी और बारहवीं कक्षा को पढ़ाते हैं और दूसरे जो कॉलेज में विद्यार्थियों को पढ़ाते हैं।

फर्स्ट ग्रेड बायोलॉजी टीचर बनने के लिए आपके पास अंडर ग्रेजुएशन डिग्री के साथ-साथ पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री एमएससी जो जीव विज्ञान से होनी चाहिए।

कॉलेज लेक्चरर बनने के लिए आपके पास अंडर ग्रेजुएशन डिग्री के साथ-साथ पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री और उसके बाद नेट यानी पीएचडी की डिग्री होनी चाहिए। उसके बाद आप कॉलेज लेक्चरर पद के तौर पर जीव विज्ञान की पढ़ाई करवा सकते हैं।

बायोलॉजी टीचर बनने की प्रक्रिया

जो विद्यार्थी बायोलॉजी टीचर बनने का सपना देख रहा है। उस विद्यार्थी को नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करना होगा। नीचे दिए गए चरणों को फॉलो करते हुए आप बायोलॉजी टीचर बन सकते हैंः

1. 11वीं और 12वीं कक्षा में विज्ञान वर्ग का चयन करें

जब विद्यार्थी 10 वीं कक्षा उत्तीर्ण कर लेता है तो उसके पश्चात विद्यार्थी कोई 11वीं और 12वीं कक्षा में एडमिशन लेते समय विज्ञान वर्ग का चयन करना होगा। विज्ञान वर्ग में आपको जीव विज्ञान सब्जेक्ट का सलेक्ट करना होगा। 11वीं और 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आपको अगले चरण के तौर पर अंडर ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी होती है।

2. बीएससी डिग्री कंप्लीट करें

जब विद्यार्थी जीव विज्ञान के साथ 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर लेता है तो उसके पश्चात आपको BSC की डिग्री जिसे अंडर ग्रेजुएशन डिग्री कहते हैं। उसे कंप्लीट करना होता है या 3 साल की डिग्री होती है जिसमें आपको जूलॉजी, बॉटनी और केमिस्ट्री के साथ डिग्री को कंप्लीट करना होगा। जब आप 3 साल की या डिग्री कंप्लीट कर लेते हैं तो उसके पश्चात आपको मास्टर डिग्री लेने के लिए अगले चरण के लिए आगे बढ़ना होगा।

3. Under ग्रेजुएशन डिग्री यानी

कंप्लीट करने के बाद आपको Master डिग्री लेनी होती है। मास्टर डिग्री के दौरान आपको बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री के किसी भी एक सब्जेक्ट से मास्टर डिग्री लेनी होती है। यदि आप को वनस्पति विज्ञान में ज्यादा रुचि है तो आप वनस्पति विज्ञान से M.SC की डिग्री ले सकते हैं और यदि आपको जंतु विज्ञान में ज्यादा रुचि है तो आप जंतु विज्ञान के मास्टर डिग्री ले सकते हैं।

4. मास्टर डिग्री कंप्लीट करने के बाद आपको B.Ed की डिग्री लेनी होगी जो प्रशिक्षक के लिए जरूरी होती हैः शिक्षक बनने के लिए B.Ed की डिग्री और Internship का होना जरूरी है। एड की डिग्री लेकर आप इंटरशिप कर सकते हैं। यह डिग्री आफ बीएससी कंप्लीट करने के बाद भी कर सकते हैं।

5. फर्स्ट ग्रेड टीचर बनने के लिए आपको इतना अधिक और कुछ नहीं करना होगा। लेकिन यह क्या कॉलेज लेक्चरर के तौर पर बायोलॉजी के टीचर बनना चाहते हैं तो आपको अब जिस विषय में आप मास्टर डिग्री करते हैं। उस विषय के किसी भी एक भाग में PHD करनी होगी और पीएचडी करने के बाद आपको कॉलेज लेक्चरर बनने का मौका मिलता है।

College Lecturer कैसे बनते हैं? पूरी जानकारी।

Biology/भूगोल अध्यापक कैसे बने?

Biology Teacher kaise bane

संपूर्ण डिग्री पूरी करने के पश्चात प्रति वर्ष या 1 साल बाद सरकार के द्वारा खाली पदों की पूर्ति करने के लिए भर्तियां निकाली जाती है। उन भर्तियों में आप अपना आवेदन लगाकर फर्स्ट ग्रेड टीचर बन सकते हैं या कॉलेज लेक्चरर बन सकते हैं। इसके अलावा जिन डिग्रियों का हमने जिक्र किया है। उन सभी डिग्रियों को हासिल करने के बाद आप प्राइवेट फर्स्ट ग्रेड टीचर के तौर पर भी स्कूल ज्वाइन करके पढ़ा सकते हैं या प्राइवेट कॉलेज में लेक्चरर के तौर पर भी पढ़ा सकते हैं।

Biology Teacher बनने में कितना समय लगता है?

जब बायोलॉजी टीचर बनने की प्रक्रिया शुरू होती है उसके बाद बायोलॉजी टीचर बनने तक लगभग 7 से 8 साल का समय लगता है। कॉलेज लेक्चरर बनने के लिए अनुमानित 9 साल का समय लग जाता है। 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आपको 3 साल की अंडर ग्रेजुएशन डिग्री करनी होती है।

2 साल की बीएड की डिग्री करनी होती है और 2 साल की मास्टर डिग्री करनी होती है ऐसे में 7 साल में आप फर्स्ट ग्रेड बायोलॉजी टीचर बनने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं लेकिन यदि आप कॉलेज लेक्चरर बनना चाहते हैं तो इन सभी डिग्री के साथ आप को 2 साल की पीएचडी करनी होती है।

Biology First Grade Teacher की सैलरी कितनी होती हैं?

जब कोई भी उम्मीदवार किसी अचीवमेंट को हासिल करना चाहता है, तो उससे पहले उम्मीदवार के मन में सैलरी को लेकर ख्याल आता है। हर व्यक्ति के मन में यह सवाल ही पैदा होता है कि यह पद हासिल करने के लिए मुझे कितनी सैलरी मिलेगी।

अतः बायोलॉजी फर्स्ट ग्रेड टीचर बनने वाले उम्मीदवार को भी सैलरी को लेकर एक सवाल जरूर पैदा होता है। बायोलॉजी फर्स्ट ग्रेड सैलरी कि यदि हम बात करें, तो सरकारी बायोलॉजी 1st ग्रेड टीचर की सैलरी ₹100000 प्रति महीना होती है। इसके अलावा कई प्रकार के बेसिक भत्ते और ग्रेड पे भी प्रदान करवाया जाता है।

यदि आप प्राइवेट स्कूल में फर्स्ट ग्रेड टीचर के तौर पर बायोलॉजी की पढ़ाई कर आते हैं या बायोलॉजी टीचर बनकर पढ़ाते हैं, तो आपको ₹20000 से ₹25000 की सैलरी प्रति महीना मिल सकती है। इसके अलावा स्कूल के लेवल और आपके पढ़ाने के तरीके के आधार पर कम या ज्यादा सैलरी मिल सकती है।

Biology College Lecturer की सैलरी कितनी होती है?

कॉलेज लेक्चरर पद पर कार्यरत उम्मीदवार को बेसिक सैलरी के रूप में सरकार द्वारा प्रति महीना डेढ़ लाख रुपए प्रदान करवाए जाते हैं। साथ ही साथ कई प्रकार के सरकारी भत्ते और ग्रेड पे भी दिया जाता है।

बायोलॉजी कॉलेज लेक्चरर के तौर पर यदि आप प्राइवेट कॉलेज में पढ़ाते हैं, तो आपको 40000 से ₹50000 की प्रति महिला सैलरी मिल जाती है।

Note : बायोलॉजी के टीचर बनने के बाद आप अपना खुद का कोचिंग सेंटर खोल सकते हैं और कोचिंग में बच्चों को पढ़ाकर अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

निष्कर्ष

बायोलॉजी टीचर बनने के लिए आपको सामान्य तौर पर अंडर ग्रेजुएशन और मास्टर ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करनी होती है और साथ ही साथ बीएड की हल करके फर्स्ट ग्रेड टीचर के तौर पर कार्यरत हो जाना है। टीचर और कॉलेज लेक्चरर बनने की प्रक्रिया सभी विषय के टीचर और कॉलेज लेक्चरर के समान ही होती है।

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको Biology Teacher kaise bane इसके बारे में संपूर्ण जानकारी दी है। हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी। यदि किसी व्यक्ति को इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी सवाल है तो वह हमें कमेंट के माध्यम से बता सकता है। हम आपके सवाल का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Comment