BNYS क्या है कैसे करें? | BNYS Course Details in Hindi 2023

आज के समय में पढ़ाई के क्षेत्र में लोग अलग-अलग प्रकार की डिग्री व डिप्लोमा लेकर अपने करियर को सक्सेस बनाने के होड़ में लगे हुए हैं। व्यक्ति अपने जिंदगी को सफल बनाने के लिए कई प्रकार के प्रयास करता है और जिंदगी में आने वाली अनगिनत परेशानियों की वजह से लाखों लोग तनावग्रस्त भी हो जाते हैं। पढ़ाई के क्षेत्र में बहुत सारे डिग्री व डिप्लोमा कोर्स मौजूद हैं।

जिनके माध्यम से आप अपने कैरियर को बेहतर बना सकते हैं। BNYS कोर्स जो बीमारियों से बचने और हानिकारक दवाओं का प्रयोग कैसे करना है। साथ ही साथ प्राकृतिक तरीकों से शरीर को स्वस्थ रखने के बारे में संपूर्ण ज्ञान का खजाना है। आज के आर्टिकल में हम आपको BNYS Course क्या होता है। BNYS Course के बारे में full details में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

BNYS कोर्स क्या है? (BNYS Course Details in Hindi 2023)

BNYS Course Details in Hindi

BNYS Course जो शरीर के लिए प्राकृतिक तरीकों के माध्यम से शरीर को स्वस्थ रखने के बारे में विद्यार्थियों को पढ़ाया जाने वाला एक अद्भुत ज्ञान है। जिसके माध्यम से विद्यार्थी बीमारियों से बचने की कला सीख सकता है साथ ही साथ यदि बीमार हो भी जाता है। तो उसे प्राकृतिक तरीकों के माध्यम से किस प्रकार से स्वस्थ किया जा सकता है इसके बारे में पढ़ाया जाता है।

BNYS Course योगिक विज्ञान से संबंधित पूरी शिक्षा का प्रशिक्षण प्रदान करवाता है। आधुनिक युग में योगिक विज्ञान का बहुत ही ज्यादा महत्व रहता है। क्योंकि आज की व्यस्त दुनिया में लोग अपने शरीर का ध्यान नहीं रख पाते हैं। जिसकी वजह से लोगों को दिन प्रतिदिन किसी न किसी बीमारी का सामना करना पड़ता है और एलोपैथिक की दवाइयां खाने से बीमारी ठीक होने के साथ-साथ कई प्रकार के साइड इफेक्ट भी हो जाते हैं। जिसके चलते आदमी और अधिक कमजोर हो जाता है। इसीलिए BNYS Course के जरिए प्राकृतिक तरीकों से मरीज को योगा व्यायाम के माध्यम से प्राकृतिक ढंग को अपनाते हुए स्वस्थ बनाना इस BNYS Course के जरिए सिखाया जाता है।

इस BNYS Course को पूरा करने के बाद यानी कि यह कोर्स जब विद्यार्थी कंप्लीट कर लेता है। तो विद्यार्थी स्टूडेंट के करियर को खत्म करके योगा प्रशिक्षण फिजियोथैरेपिस्ट और प्राकृतिक चिकित्सा के तौर पर अपना करियर बना सकता है। बी एन वाई एस कोर्स के बारे में और अधिक महत्वपूर्ण जानकारी नीचे प्रदान कराई जा रही है।

BNYS Full Form in Hindi

BNYS का full form यानि पूरा नाम Bachelor of Naturopathy and Yogic Science होता है। हिंदी भाषा में यदि से उच्चारित किया जाए तो इसे बैचलर ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगिक साइंस कहा जाता है। और सामान्य शब्दों में इसका अर्थ प्राकृतिक चिकित्सा और योग विज्ञान होता है। योगिक विज्ञान और प्राकृतिक चिकित्सा के तहत बैचलर की डिग्री प्राप्त करके इस तरह तक कंप्लीट करना विद्यार्थियों के लिए भविष्य में एक सुनहरा अवसर हो सकता है विद्यार्थी फिजियोथैरेपी या योग प्रशिक्षक के तौर पर अपने करियर को सुरक्षित और सफल बना सकते हैं।

BNYS Course करने के लिए जरूरी योग्यता

यह कोर्स करने के लिए विद्यार्थी को योगिक विज्ञान से संबंधित कॉलेज में एडमिशन लेना होता है और उससे पहले विद्यार्थी के पास नीचे दी गई निम्नलिखित योग्यता होना भी अनिवार्य है।

  • विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है विद्यार्थी का 12 वीं कक्षा विज्ञान वर्ग के पास करना भी जरूरी है।
  • जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास कर चुके हैं। उन विद्यार्थियों के विषय वर्ग में जीव विज्ञान का होना अनिवार्य है।
  • विद्यार्थियों के लिए 12 वीं कक्षा के लिए न्यूनतम 50% अंक अनिवार्य किए गए हैं कॉलेज में 45% अंक वाले विद्यार्थियों को भी BNYS Course के लिए योग्य माना जा रहा है।
  • BNYS डिग्री के लिए आवेदन करने वाले विद्यार्थी उम्र 17 वर्ष से लेकर 25 वर्ष के बीच होना अनिवार्य रखा गया है।
  • कुछ कॉलेजों में 12वीं कक्षा के नंबर के आधार पर मेरिट निकाली जाती है और ज्यादा नंबर वाले विद्यार्थियों को ही कॉलेज में चयन मिलता है।
  • एडमिशन के लिए विद्यार्थी को प्रवेश परीक्षा पास करना अनिवार्य रखा गया है।
  • जो विद्यार्थी बी एन वाई एस कोर्स में दाखिला लेना चाहता है वह विद्यार्थी शारीरिक और मानसिक तौर से पूरी तरह से स्वस्थ होना चाहिए।

BNYS Course के लिए आवेदन प्रक्रिया

जिन विद्यार्थियों को  BNYS Course के तहत दाखिला लेना है उन विद्यार्थियों को नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करते हुए चलना होगा:

  • सर्वप्रथम विद्यार्थी को मान्यता प्राप्त विद्यालय से 12वीं कक्षा पास करनी है।
  • उसके पश्चात विद्यार्थी को बीएनवाईएस कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा में अपना आवेदन लगाना है।
  • प्रवेश परीक्षा में आवेदन लगाने के पश्चात आपको सिलेबस के आधार पर प्रवेश परीक्षा की तैयारी करते हुए प्रवेश परीक्षा को पास करना है।
  • प्रवेश परीक्षा में पास होने के बाद आप की मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी और उस में विद्यार्थियों का नाम उपलब्ध होगा जो विद्यार्थी चयनित हो चुके हैं और सामने विद्यार्थियों को कौन सा कॉलेज मिला है।
  • उसकी जानकारी दी जाएगी कई कॉलेज में सिर्फ बारहवीं कक्षा के प्राप्तांक के आधार पर ही मेरिट लिस्ट की घोषणा की जाती है और इस कोर्स के लिए दाखिला दे दिया जाता है।
  • यह कोर्स करने के लिए विद्यार्थियों को 4 वर्ष और 6 महीने का समय लगता है।
  • उसके पश्चात विद्यार्थी को 1 साल तक इंटरशिप के तौर पर प्रशिक्षण का अनुभव लेना होता है।
  • एनवाईएस कोर्स करने के लिए विद्यार्थी को कुल 5 साल और 6 महीने पढ़ाई करनी होती है।
  • उसके पश्चात विद्यार्थी योगिक विज्ञान और चिकित्सा के क्षेत्र में निपुण माना जाता है।
  • कॉलेज में दाखिला मिलने के पश्चात आपको सभी सेमेस्टर में अच्छे से पढ़ाई करते हुए इस डिग्री को पूरा करना है और सर्टिफिकेट हासिल करना है।

BNYS Course के महत्वपूर्ण फायदे

जो विद्यार्थी बी एन वाई एस कोर्स कर रहे हैं। उन विद्यार्थियों को इस कोर्स के क्या-क्या फायदे हैं। उसके बारे में नीचे कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दी जा रही है।

  • विद्यार्थी अपने कैरियर के लिए एक नया विकल्प खोल सकते हैं।
  • यह कोर्स करने के बाद विद्यार्थियों के कैरियर के लिए एक बेहतरीन विकल्प खुल जाता है जिसके जरिए विद्यार्थी अपने करियर को सुरक्षित कर सकते हैं।
  • बी एन वाई एस कोर्स करने के लिए प्रतिस्पर्धा बहुत कम है यहां जॉब मिलने के चांस भी बढ़ जाते हैं।
  • जॉब के अलावा भी विद्यार्थी अपने खुद के करियर के साथ-साथ शारीरिक बीमारियों से छुटकारा पा सकता है।
  • इस कोर्स को करने के बाद विद्यार्थी सरकारी व प्राइवेट दफ्तर मे जॉब करने के लिए दाखिला ले सकता है।
  • इस कोर्स को करने पर आपको योगिक विज्ञान का बहुत ही ज्यादा नॉलेज मिल जाता है।

बी एन वाई एस कोर्स के बाद नौकरीयां

BNYS Course करने के बाद विद्यार्थी को नौकरी के लिए कोई चिंता करने की जरूरत नहीं रहती है। क्योंकि यहां बहुत ही कम प्रतिस्पर्धा के साथ अलग-अलग क्षेत्र में आपको अलग-अलग पदों पर नौकरी मिलने की गुंजाइश होती है। साथ ही साथ आप प्राइवेट नौकरी भी कर सकते हैं। बी एन वाई एस सपोर्ट करने के बाद विद्यार्थी नीचे दिए गए निम्नलिखित पदों पर नौकरी प्राप्त कर सकता है

  • प्राकृतिक चिकित्सक
  • आयुष प्रोफेसर
  • पोषण और आहार विशेषज्ञ
  • पैराक्लिनिकल एक्सपर्ट
  • योगा ट्रेनर
  • आयुर्वेद सलाहकार
  • आयुष प्रैक्टिशनर
  • रिसर्चर

BNYS Course की फीस कितनी होती है

ज्यादातर विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास करने के बाद इसके आधार पर ही डिग्री व डिप्लोमा कोर्स का चयन करते हैं क्योंकि आर्थिक तंगी के चलते ज्यादा फीस लेने के लिए विद्यार्थी सक्षम नहीं होते हैं। बी एन वाई एस करने के बाद आपका कैरियर पूरी तरह से सुरक्षित हो जाएगा। लेकिन बी एन वाई एस सपोर्ट करने के लिए फीस कितनी लगेगी। इसके बारे में यदि हम बात करें तो सरकारी कॉलेज में यदि आप प्रवेश परीक्षा के जरिए शामिल होते हैं। तो आपको ₹15000 से लेकर ₹40000 तक की प्रति वर्ष फीस जमा करवानी होगी। लेकिन यदि आप प्राइवेट कॉलेज में दाखिला लेते हैं तो यहां की का कोई परफेक्ट आंकड़ा नहीं बताया जा सकता है। प्राइवेट कॉलेज की फीस कॉलेज पर निर्भर करती है। अनुमानित फीस ₹50000 से लेकर ₹300000 प्रति वर्ष हो सकती है।

BNYS के बाद सैलरी कितनी होती है?

जो विद्यार्थी बी एन वाई एस पोस्ट करने के बाद किसी भी पद पर कार्यरत रहते हुए सैलरी कितनी होगी। इसके बारे में जानकारी लेना चाहते हैं। तो उनको बताना चाहूंगा कि भारत में बी एन वाई एस डिग्री हासिल कर चुके विद्यार्थी को शुरुआती दौर में दो लाख प्रति वर्ष से लेकर 450000 वार्षिक पैकेज मिल जाता है। उसके पश्चात जैसे-जैसे आप का अनुभव बढ़ता है। आपकी सैलरी में भी इजाफा होता रहता है। यहां आप सरकारी नौकरी हासिल करने के साथ-साथ अपना प्राइवेट क्लीनिक भी कर सकते हैं और अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

अनुभव के पश्चात सैलरी मैं यहां कोई कमी नहीं आती है आप अपना खुद का योगा केंद्र खोलकर 1000000 से 15 लाख प्रति वर्ष या इससे अधिक भी कमा सकते हैं।

People Also Read:-

B.Pharma Course क्या है कैसे करें पूरी जानकारी?

GNM Course क्या होता है full details in Hindi 2003?

ANM Course Details in Hindi 2023.

मेडिकल लाइन में करियर कैसे बनाते हैं पूरी जानकारी?

निष्कर्ष

आज के समय में 12वीं कक्षा पास करने के बाद युवा वर्ग पूरी तरह से विचलित हो जाता है कि हमें आगे क्या करना चाहिए और हमारे लिए आगे कौन सी डिग्री व डिप्लोमा लेना बेहतर होगा। 12वीं कक्षा पास करने के बाद जो विद्यार्थी विज्ञान वर्ग और जीव विज्ञान से 12वीं कक्षा पास कर चुके हैं। उनके लिए BNYS Course करना एक सुनहरा मौका माना जा सकता है। आज के आर्टिकल में हमने आपको BNYS Course details in Hindi के बारे में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी यदि किसी व्यक्ति को हमारी इस आर्टिकल से जुड़ा हुआ कोई भी सवाल है तो वह हमें कमेंट के जरिए बता सकता है।