BSC Course क्या होता है? 2022 में बीएससी की पूरी जानकारी।

विद्यार्थी जब 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करता है, तो विद्यार्थी के अगली पढ़ाई यानी कुछ शिक्षा के लिए कई तरह के अलग-अलग रास्ते होते हैं। जिसमें से विद्यार्थी को एक रास्ते का चयन करते हुए आगे बढ़ना होता है। लेकिन विशेष वर्ग के आधार पर ही आपको अपना रास्ता चुनना होगा। यदि आपने 12वीं कक्षा में विज्ञान वर्ग लिया है और उसके पश्चात आगे के बारे में सोचते हैं, तो ग्रेजुएशन के तौर पर बीएससी की डिग्री आप हासिल कर सकते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको BSC Course Kya Hota Hai? इसके बारे में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

BSC Course क्या होता है?

bsc course kya hota hai

बीएससी 1 ग्रेजुएशन की डिग्री है। जो साइंस से 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर चुके विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध करवाई जाती है। बीएससी की डिग्री विज्ञान वर्ग के 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर चुके विद्यार्थी ले सकते हैं या डिग्री 3 साल की होती है और इसमें छह सेमेस्टर होते हैं। बीएससी की डिग्री जॉब आज के समय के एक लोकप्रिय डिग्री या ग्रेजुएशन कोर्स माना जाता है। विज्ञान विषय में बीएससी की डिग्री लेकर विद्यार्थी आगे अपने करियर को बना सकता है।

BSC की full form क्या है?

हर अंग्रेजी शब्द का एक अर्थ होता है। उसी प्रकार BSC शब्द की भी फुल फॉर्म है। बीएससी की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ साइंस है। जिसे हिंदी में विज्ञान में स्नातक कहा जाता है।

BSC के लिए कौनसा कॉलेज सही है? प्राइवेट या सरकारी।

बीएससी करने के लिए जरूरी Qualification in Hindi

जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद बीएससी की डिग्री हासिल करना चाहता है। उस विद्यार्थी के पास नीचे दिए गए निम्नलिखित क्वालिफिकेशन क्या योग्यता होनी जरूरी हैः

  1. BSC की डिग्री लेने वाले विद्यार्थी के पास 12वीं कक्षा का सर्टिफिकेट होना जरूरी है। मान्यता प्राप्त विद्यालय से 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर चुके विद्यार्थी BSC की डिग्री हासिल कर सकते हैं। लेकिन विद्यार्थी का 11वीं और 12वीं कक्षा में विज्ञान वर्ग होना जरूरी है।
  2. कई विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है। ऐसे में आपको BSC की डिग्री लेने के लिए उन प्रवेश परीक्षा में शामिल होना होगा।
  3. BSC की डिग्री लेने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थी के यदि अच्छे नंबर है। तो उसे गवर्नमेंट विश्व विद्यालय में एडमिशन मिल जाता है। अन्यथा आप इसे प्राइवेट कॉलेज से भी कर सकते हैं।

B.Sc करने के लिए उम्र

जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास करने के बाद भी यदि की डिग्री लेना चाहते हैं। उन विद्यार्थियों के लिए शिक्षा विभाग द्वारा आयु वर्ग निर्धारित किया गया हैं। Bechlor Of Science डिग्री लेने के लिए प्रवेश लेने वाले विद्यार्थी की न्यूनतम उम्र 17 साल से लेकर अधिकतम उम्र 23 साल के बीच होना अनिवार्य है।

बीएससी के प्रकार (Types of Bsc in Hindi)

विज्ञान वर्ग में जीव विज्ञान और मैथमेटिक्स के आधार पर BSC की डिग्री को दो भागों में बांटा गया है।

  1. मैथमेटिक्स से बीएससी
  2. जीव विज्ञान से बीएससी

आप बायलॉजी या मैथमेटिक किसी भी सब्जेक्ट से बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री लेते हैं। तब केमिस्ट्री सब्जेक्ट दोनों में कोमन बनाता है।

बैचलर ऑफ साइंस के Course की सूची

विद्यार्थी 12वीं कक्षा विज्ञान वर्ग से उत्तीर्ण करता है तब विद्यार्थी या तो गणित या फिर जीव विज्ञान से बारहवीं तथा वितरण कर रहा होता है। उसके पश्चात उसके लिए बीएससी की डिग्री एक बेहतरीन ऑप्शन होता है। लेकिन बैचलर ऑफ साइंस के अलग-अलग प्रकार के बहुत सारे कोर्स होते हैं जिसकी सूची कुछ इस प्रकार से हैंः

  1. BSc Physics
  2. BSc Mathematics
  3. BSc Maths Hons
  4. BSc Chemistry
  5. BSc Chemistry Hons
  6. BSc Agriculture
  7. BSc Home Science
  8. BSc Home Science Hons
  9. BSc Medical
  10. BSc Nursing
  11. BSc Llb
  12. BSc Computer Science
  13. BSc Computer Applications
  14. BSc Computer Science Hons
  15. BSc Hotel Management
  16. BSc Biochemistry
  17. BSc Physical Sciences
  18. BSc Geography
  19. BSc Geology
  20. BSc Animation
  21. BSc Astrophysics
  22. BSc Hons
  23. BSc Audiology
  24. BSc Horticulture
  25. BSc Aviation
  26. BSc In Beauty Cosmetology
  27. BSc Industrial Chemistry
  28. BSc ITBSc Biology
  29. BSc Interior Design
  30. BSc Biotechnology
  31. BSc Botany
  32. BSc Botany Honours
  33. BSc Perfusion Technology
  34. BSc Medical Lab Technology
  35. BSc Microbiology
  36. BSc Nautical Science
  37. BSc Non Medical
  38. BSc Economics
  39. BSc Nutrition And Dietetics
  40. BSc Forestry
  41. BSc Physician Assistant
  42. BSc Genetics
  43. BSc Electronics
  44. BSc Occupational Therapy
  45. BSc Environmental Science
  46. BSc Operation Theatre Technology
  47. BSc Fashion Design
  48. BSc Pathology
  49. BSc Finance
  50. BSc Perfusion Technology
  51. BSc Food Technology

BSC में एडमिशन कैसे लें?

जो विद्यार्थी बीएससी में एडमिशन लेना चाहते हैं। उन विद्यार्थियों को नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करना होगा:

  1. विद्यार्थी को सबसे पहले बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री में एडमिशन लेने से पहले 12 वीं कक्षा विज्ञान वर्ग के साथ उत्तीर्ण करनी होगी।
  2. यदि आप के 12वीं कक्षा में अच्छे अंक है, तो आप सीधा सरकारी कॉलेज में आवेदन कर सकते हैं और मेरिट लिस्ट के अनुसार आपको एडमिशन दे दिया जाएगा।
  3. कई विश्वविद्यालय में BSC में एडमिशन लेने से पहले एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन होता है। ऐसे में आपको इंटरेस्ट एग्जाम में आवेदन कर के उसे पास करना होगा और फिर आपको बीएससी में एडमिशन दिया जाएगा।
  4. कई प्राइवेट विश्वविद्यालय में बीएससी की डिग्री का एडमिशन डायरेक्ट किया जाता है। हालांकि वहां पर फीस अधिक हो सकती है। ऐसे में आप प्राइवेट विश्वविद्यालय से BSC की डिग्री के लिए एडमिशन ले सकता है।

BSC की फीस कितनी होती है?

बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री हासिल करने वाले विद्यार्थियों के मन में फीस को लेकर अक्सर सवाल पैदा होते रहते हैं। हम आपको बैचलर ऑफ साइंस के पीस के बारे में जानकारी देने का प्रयास कर रहे हैं।.बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री लेने के लिए सरकारी कॉलेज से खर्चा करीब ₹ 10000 से ₹15000 प्रतिवर्ष के बीच में आता है।

सरकारी कॉलेज में फीस का आकलन आपके बारहवीं कक्षा के प्रतिशत के आधार पर भी किया जाता है। कई सरकारी कॉलेज जहां पर बैचलर ऑफ साइंस की फीस प्रति वर्ष ₹2000 से ₹3000 तक भी हो सकती है।

लेकिन यदि प्राइवेट कॉलेज सेव द चिल्ड्रन ऑफ साइंस की डिग्री लेते हैं, तो ऐसे में डिग्री लेने का पूरा खर्चा करीब 30,000 प्रति वर्ष से लेकर 45000 प्रति वर्ष के अनुसार आ सकता है।

BSC कोर्स की तैयारी कैसे करें?

बैचलर ऑफ साइंस डिग्री की तैयारी कि यदि हम बात करें तो आपको नीचे दिए गए निम्नलिखित तथ्यों को ध्यान में रखते हुए बैचलर ऑफ साइंस डिग्री की तैयारी करनी चाहिए।

1. बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री लेते समय आपको पढ़ाई पर मुख्य रुप से ध्यान देना है और अपनी पढ़ाई को डिसिप्लिन के साथ और टाइम टेबल के साथ सुचारु रुप से प्लानिंग करके करना होगा।

2. बारहवीं कक्षा का परिणाम आते ही आप BSC परीक्षा में प्रवेश की तैयारी करना शुरू कर दें बारहवीं कक्षा के एग्जाम के बाद भी आप भी ऐसी के लिए तैयारी कर सकते हैं जो आपके लिए और भी ज्यादा फायदेमंद रहेगा।

3. कॉलेज में जो आप को पढ़ाया जाता है। उसका रिवीजन घर आकर पूनः करें अच्छे से खुद का नोट्स तैयार करें और प्रैक्टिकल पर मुख्य रुप से फोकस करें।

4. बीएससी की पढ़ाई के लिए आप भूतपूर्व छात्रों से सहायता ले सकते हैं या भूतपूर्व छात्रों की नोट पढ़कर अच्छा अनुभव हासिल कर सकते हैं।

5. कई विश्वविद्यालय में BSC की डिग्री से पहले एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी भी आपको करनी पड़ सकती है उसके लिए भी आपको अलग से ध्यान केंद्रित करके तैयारी करनी चाहिए।

6. परीक्षा होने से पहले खुद को एकदम तैयार करें परीक्षा पेपर के पैटर्न को समझें और उस हिसाब से तैयारी करें।

7. परीक्षा में भाग लेने से पहले पिछले 3 साल के पेपर अवश्य तौर पर पढ़ें और उनको पूरा हल करने का कोशिश करें क्योंकि पिछले साल के पेपर जो आपको किस प्रकार के सवाल परीक्षा में पूछे जाते हैं, इस जानकारी से अवगत करवाएंगे।

8. अधिकतर परीक्षाओं में पिछले 5 साल में से काफी सवाल रिपीट किए जाते हैं। ऐसे में आपको 5 साल के सवाल पढ़कर परीक्षा के लिए बेहतर तैयारी करनी चाहिए।

9. बीएससी की डिग्री लेते समय आप पढ़ाई को बिल्कुल नजरअंदाज ना करें, ध्यान लगाकर अपने पढ़ाई पर पूरा फोकस करें प्रैक्टिकल पर मुख्य रुप से ध्यान रखें। फाइल को एकदम पर्फेक्ट तरीके से तैयार करें और नया सीखने का पूरा प्रयास करें।

10. BSC की डिग्री लेने के लिए आपको प्रैक्टिकल को अच्छे नंबर से पास करना जरूरी होता है। प्रैक्टिकल के लिए Viva की तैयारी अच्छे से करें।

BSC के बाद क्या करें?

अब यदि BSC की डिग्री लेने के बाद विद्यार्थियों के मन में आता है कि BSC के बाद हम क्या कर सकते हैं तो बीएससी के बाद क्या करें। इसके बारे में जानकारी कुछ विशेष प्रकार से प्रदान कराई गई है।

1. B.Ed की डिग्री हासिल करें
2. मास्टर डिग्री ले सकते हैं
3. नर्सिंग कर सकते हैं
4. न्यूनतम ग्रेजुएशन क्वालिफिकेशन जरूरी सरकारी भर्तियों में आवेदन कर सकते हैं
5. अध्यापक बनने के लिए आगे की पढ़ाई कर सकते हैं

BSC के बाद जॉब के अवसर

BSC की डिग्री लेने के बाद यदि आप जॉब करना चाहते हैं तो जॉब के लिए आपके सामने कई सारे विकल्प मौजूद हो जाते हैं BSC के बाद जॉब के अवसर की सूची कुछ इस प्रकार से नीचे दी गई हैः

  • बैंकिंग
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • मार्केटिंग
  • एनिमेशन
  • जेनेटिक रिसर्च
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूट
  • स्पेस रिसर्च इंस्टीट्यूट
  • बायो टेक्नोलॉजी
  • एग्रीकल्चर
  • बायो रिसर्च
  • टेक्निकल राइटर
  • सर्विस कंसलटेंट
  • फाइनेंशियल ऑफिसर

यह भी देखें:-

निष्कर्ष

बैचलर ऑफ आर्ट्स की तरह ही बैचलर ऑफ साइंस जो विज्ञान वर्ग के विद्यार्थियों के लिए डिग्री लेने का एक जरिया है। विज्ञान वर्ग के विद्यार्थी जो 12 वी कक्षा उत्तीर्ण करके बीएससी की डिग्री ले सकता है। BSC की डिग्री लेकर उसके बाद उच्च शिक्षा करके आप अपने करियर को संभाल सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको BSC क्या होता है? इसके बारे में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी यदि किसी व्यक्ति को हमारे इस आर्टिकल से जुड़ा हुआ कोई भी सवाल है तो वह हमें कमेंट के माध्यम से बता सकता है।

Leave a Comment