CLAT Exam क्या होता है? 2022 में CLAT परीक्षा से जुड़ी संपूर्ण जानकारी।

12वीं कक्षा पास करने के बाद विद्यार्थियों के सामने कई प्रकार के एंट्रेंस एग्जाम भी मौजूद होते हैं। उन्हीं एग्जाम को पास करने के बाद विद्यार्थी को आगे कॉलेज में एडमिशन मिलता है। विद्यार्थी अपने करियर को बनाने के लिए कई तरह की डिग्री डिप्लोमा कोर्स लेने के बारे में सोचता रहता है। डिग्री कोर्स करने के लिए विद्यार्थी को कई बार कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है।

उसके बाद में विद्यार्थी को कॉलेज में प्रवेश दिया जाता है। जिस प्रकार से विद्यार्थी लॉ कॉलेज यानी कि एलएलबी की डिग्री लेने के लिए सोच रहे हैं। उन विद्यार्थियों को मुख्य द्वार पर एंट्रेंस एग्जाम परीक्षा से गुजरना होता है। आज के आर्टिकल में हम आपको CLAT परीक्षा क्या होती है और इसकी तैयारी कैसे करें इसके बारे में डिटेल में जानकारी देने का प्रयास करेंगें।

CLAT Exam क्या होता है? (Clat Exam kya hota hai in Hindi 2022)

CLAT Exam क्या होता है? 2022 में CLAT परीक्षा से जुड़ी संपूर्ण जानकारी।

यह एक राष्ट्रीय स्तर पर एंट्रेंस एग्जाम है। जिसे आयोजित करके प्रतिवर्ष कमर्शियल ऑफ लॉ यूनिवर्सिटी में आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के लिए परीक्षा करवाई जाती है,जो विद्यार्थी कमर्शियल ऑफ लॉ यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेना चाहते हैं। उन विद्यार्थियों को CLAT एग्जाम में पास हो कर एस कॉलेज में एडमिशन लेना होगा।

CLAT का full form

अंग्रेजी भाषा में प्रयोग होने वाले सभी शब्दों की एक विशेष फुल फॉर्म होती है। उसी प्रकार से सी एल ए टी (CLAT) शब्द का फुल फॉर्म Common Law Admission Test जिसको हिंदी में ‘सामान्य लॉ प्रवेश परीक्षा’ कहा जाता है।

CLAT परीक्षा के प्रकार

सी एल ए टी एग्जाम दो तरह के होते हैं। एक एग्जाम जो अंडर ग्रेजुएशन के लिए उपलब्ध करवाया जाता है। उस एग्जाम को पास करने के बाद अंडर ग्रेजुएशन की डिग्री के लिए कॉलेज मिलता है और दूसरा एग्जाम पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए होता है। उस एग्जाम को पास करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए कॉलेज प्रदान करवाया जाता है।

1. CLAT UG

CLAT UG  जो ग्रेजुएशन स्तर के कोर्स में नामांकन के लिए आयोजित किया जाता है। किसी भी विषय वर्ग के विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास विद्यार्थी इस प्रवेश परीक्षा में शामिल हो सकते है.

2. CLAT PG

CLAT PG जो पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर के कोर्स में नामांकन के लिए आयोजित किया जाता है। इस परीक्षा में किसी भी विषय वर्ग के ग्रेजुएशनधारी विद्यार्थी शामिल हो सकते हैं।

CLAT के लिए जरूरी योग्यता

सी एल ए टी परीक्षा में आवेदन करने वाले उम्मीदवार के पास नीचे दी गई निम्नलिखित जरूरी योग्यता होना अनिवार्य है। इसी योग्यता के आधार पर आप इस परीक्षा में आवेदन लगाने के योग्य माने जाते हैंः

इस परीक्षा में आवेदन करने वाले विद्यार्थी के 12वीं कक्षा में न्यूनतम 50% अंक होने अनिवार्य है। हालांकि सरकार के द्वारा इस परीक्षा में अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों को 10% की छूट प्रदान करवा कर 40% न्यूनतम अंक निर्धारित किए गए हैं।

इस परीक्षा के लिए किसी भी आयु वर्ग का निर्धारण नहीं किया गया है। 12वीं पास करने के बाद आप किसी भी आयु वर्ग में इस परीक्षा को दे सकते हैं।

इस परीक्षा में यदि आप ग्रेजुएशन करके पीजी के लिए आवेदन करते हैं, तो आपको ग्रेजुएशन में न्यूनतम 45% अंक होना अनिवार्य है और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों को 40% अंक लाना आवश्यक है।

CLAT परीक्षा का पैटर्न

सी एल ई टी परीक्षा की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को इस परीक्षा के पैटर्न के बारे में सबसे पहले जानकारी लेना चाहिए। इस परीक्षा में 150 प्रश्न वैकल्पिक तौर पर पूछे जाते हैं और इस परीक्षा को हल करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होता है।

यदि आप सवाल का गलत जवाब देते हैं, तो 0.25 अंक काट दिया जाता है। यह परीक्षा ओएमआर शीट पर आधारित परीक्षा है। जिसमें वैकल्पिक सवालों के उत्तर एबीसीडी के तौर पर भरते हुए आपको ओएमआर शीट जमा करवानी होती है।

सरकारी वकील कैसे बने? सरकारी वकील बनने से जुड़ी संपूर्ण जानकारी

नोटरी वकील कैसे बने पूरी जानकारी?

जज क्या होता है और Judge कैसे बने?

APO परीक्षा क्या है पूरी जानकारी?

CLAT परीक्षा का सिलेबस

किसी भी परीक्षा का आयोजन होने से पहले ही उस परीक्षा के सिलेबस का निर्धारण किया जाता है और उसी सिलेबस के आधार पर उस परीक्षा में सवाल पूछे जाते हैं। इस प्रवेश परीक्षा के पाठ्यक्रम को मुख्यत: 5 भागों मे विभाजित किया गया है।

  • करेंट अफेयर्स (Current affairs)
  • समान्य ज्ञान (General knowledge)
  • इंग्लिश भाषा (English language)
  • रीजनिंग (Reasoning)
    • Legal Reasoning
    • Logical Reasoning
  • मैथेमेटिक्स (quantitative techniques)

CLAT परीक्षा के बाद Course 2022

जो विद्यार्थी लॉ कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए जरूरी प्रवेश परीक्षा को पास कर देते हैं, तो उसके पश्चात विद्यार्थियों को निम्नलिखित तरह के कोर्स उपलब्ध हो जाते हैं। विद्यार्थी इनमें से किसी भी कोर्स का अपने विषय वर्ग के आधार पर चयन करके लॉ की पढ़ाई कर सकता है।

  • BA LLB
  • B.Com LLB
  • B.Sc LLB
  • BBA LLB
  • BSW LLB (Bachelor of Social Work LLB)

CLAT परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

विद्यार्थी के मन में हमेशा किसी भी परीक्षा की तैयारी करने को लेकर कई प्रकार के सवाल पैदा होते हैं। विद्यार्थी को हमेशा लगता है, कि किस प्रकार से तैयारी की जाए परीक्षा को आसानी से पास किया जाए। CLAT परीक्षा की तैयारी कैसे करें। इसके बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी नीचे प्रदान करवाई गई हैः

  • विद्यार्थी को सर्वप्रथम इस प्रवेश परीक्षा के सिलेबस को समझना चाहिए।
  • उस सिलेबस के आधार पर एक टाइम टेबल को निर्धारित करते हुए अपने पढ़ाई को अंजाम देना है।
  • आपको अपने टाइम टेबल के अनुसार रोजाना 6 से 7 घंटे तक अच्छे से पढ़ाई करनी है,क्योंकि यह राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली परीक्षा काफी कठिन होती है।
  • हर 7 दिन में जो आप पढ़ाई करते हैं। उस पढ़ाई का सप्ताहिक रिवीजन करना बहुत ही ज्यादा जरूरी है। रिवीजन करने से आपको अंदाजा लग जाएगा कि आपने अब तक क्या पढ़ा है और क्या नहीं पढा है।
  • आत्म विश्वास को कायम रखते हुए पढ़ाई को रेगुलर रखना है। क्योंकि आत्मविश्वास बहुत ही ज्यादा जरूरी होता है।
  • विद्यार्थियों को परीक्षा हॉल में पहुंचने से पहले एडमिट कार्ड के साथ अपने पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ इत्यादि लेकर जाने हैं और परीक्षा से पहले दो बार पूरे कोर्स का रिवीजन अच्छे से कर देना।

CLAT परीक्षा की आवदेन शुल्क

एंट्रेंस एग्जाम में  आवेदन करने वाले विद्यार्थियों को आवेदन शुल्क भरनी होती है। उसी आवेदन शुल्क के आधार पर आपके आवेदन को सत्यापित करके शुरू किया जाता है। सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों के लिए सी एल ए टी परीक्षा की आवेदन की शुल्क ₹4000 निर्धारित की गई है और अनुसूचित जातियों को अनुसूचित जनजातियों के विद्यार्थियों के लिए इसकी फीस ₹3000 निर्धारित की गई है। यह फीस आफ डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड नेट बैंकिंग के माध्यम से ऑनलाइन भर सकते हैं।

भारत के 10 बेहतरीन Law College

भारत में बहुत सारे कॉलेज मौजूद है। लेकिन भारत के टॉप 10 लॉ कॉलेज के बारे में बात की जाए, तो भारत के 10 सबसे बेहतरीन लॉ कॉलेज की सूची हम आपको नीचे प्रदान करवा रहे हैंः

  • नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी (NLSIU), बंगलौर
  • नेशनल एकेडमी ऑफ लीगल स्टडीज एंड रिसर्च (NALSAR), हैदराबाद
  • नेशनल लॉ इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी (NLIU), भोपाल
  • वेस्ट बंगाल नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ ज्यूडिशियल साइंसेज (WBNUJS), कोलकाता
  • हिदायतुल्लाह नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (HNLU), रायपुर
  • नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (NLU), जोधपुर
  • गुजरात नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (GNLU), गांधीनगर
  • राम मनोहर लोहिया नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (RMLNLU), लखनऊ
  • राजीव गांधी नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (RGNLU), पटियाला
  • चाणक्य नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (CNLU), पटना

निष्कर्ष

देश में हर विद्यार्थी अपने मंजिल तक पहुंचने के लिए डिप्लोमा व डिग्री लेने के बारे में सोचता है लॉ और कानून की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों को सबसे पहले CLAT एंट्रेंस एग्जाम से गुजरना होता है और उसके बाद विद्यार्थियों को कॉलेज मिलता है। इस परीक्षा के आधार पर ही विद्यार्थियों को अलग-अलग कॉलेज में दाखिला दिया जाता है। आज के इस आर्टिकल में हमने आपको CLAT एग्जाम क्या होता है? और CLAT परीक्षा की तैयारी कैसे करें इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है।

Leave a Comment