College में Professor कैसे बने | Assistant Professor पूरी जानकारी

अगर आप भी सोच रहें हैं कि college me Professor kaise bane तो सबसे पहले हम जानेंगे कि प्रोफेसर किसे कहते हैं? कॉलेज में प्रोफेसर बनने के लिए योग्यता क्या होती है, प्रोफेसर की सैलरी क्या होती है और प्रोफेसर बनने से जुडी हर संभव जानकारी आपको इस ब्लॉग पोस्ट में मिलेगी।

जिंदगी में अगर एक सफल इंसान बनना चाहते हैं तो आपको पढाई के साथ दोस्ती करनी होगी और यह दोस्ती न सिर्फ आपको एक कामयाब इंसान बनाएगी बल्कि आपके बढ़े सपने भी पुरे करेगी। वो सपने जिनको आप अपना honor समझते हो और उनको पाने की चाहत करते हो। जिस इंसान को पढाई में दिलचस्पी होती है वो हर असंभव चीज को पाने की क्षमता रखता है। यह तो बात होगी पढाई की तो वहीँ पर कुछ लोगों को पढाई में इतना लगाव होता है कि वह इसको अपना करियर बनाना चाहते है मतलब उनको पढ़ाना अच्छा लगता है और वह एक perfect टीचर बनने की चाहत रखते हैं। 

कुछ लोग ऊँचे पद पर नौकरी कर पढ़ाना चाहते हैं तो उनके लिए सबसे बेहतर चुनाव होगा कॉलेज में प्रोफेसर के पद पर जॉब करना। पर कहियों को प्रोफेसर की नौकरी के बारे में प्रॉपर जानकारी नहीं होती है और वह यहीं सोचते हैं कि college me professor kaise bane (How to become a college professor in Hindi) और Assistant Professor बनने के लिए क्या क्या योग्यता होती है अदि सभी सवालों के जवाब आपको इस लेख में मिलेंगे। तो दोस्तो, चलिए college me professor kaise bane के बारे में और detail में जानने की कोशिश करें।

College Professor किसे कहते हैं?

college me professor kaise bane
college me professor kaise bane

एक कॉलेज प्रोफेसर को किसी particular subject में मुहारत हासिल होती है मतलब वो अपने subject में specialist होते हैं। आप कभी भी direct प्रोफेसर नहीं बन सकते हैं, इसके लिए आपको कई सारी परीक्षा देनी पड़ती है। सबसे पहले आपको कॉलेज में एक Assistant Professor के पद पर कार्यरत किया जाता है और बाद में जब आपका experience बढ़ता है तो आपको प्रोफेसर का पद मिलता है।

College me professor kaise bane in 2022

कॉलेज प्रोफेसर क्या होता है यह आप जान चुके हैं और अब समझते हैं कि 2022 में college me professor kaise bane और इसके लिए क्या क्या करना होगा। एक प्रोफेसर की जॉब को पाना इतना आसान नहीं है इसके लिए आपको बहुत सारी मेहनत करनी होती है और exams को क्लियर करना होता है। अगर आपका पढाई में बहुत interest है, आप अपने हासिल किए ज्ञान को दूसरों तक बाँटना चाहते हैं और एक ऊँचे पद पर जॉब करना चाहते हैं तो आप कॉलेज में professor की job कर सकते हैं। India में किसी कॉलेज में Lecturer बनने के लिए आपको NET की परीक्षा पास करनी होती है पर एक प्रोफेसर बनने के लिए आपको एक परीक्षा ही काफी नहीं है। इसके बिना UGC की नई guide lines लागू हो गई हैं। कॉलेज में प्रोफेसर बनने के लिए आपको क्या क्या योग्यता की जरुरत पड़ेगी इस लेख में आगे बात करते हैं तो पोस्ट को पूरा पढ़ें।

प्रोफेसर बनने के लिए योग्यता (college professor qualification in hindi)

1. चुनिंदा विषय में 12th करें:

लगभग सभी छात्र दसवीं पास करने के बाद सोच लेते हैं कि उनको आगे क्या करना है जैसे आगे की पढाई किस स्ट्रीम में करनी है और क्या बनना है। इसलिए अगर आपने सोच लिया है कि कॉलेज में professor ही बनना है तो आप अपनी पसंद के विषय में 12वीं पास करें, ताकि आगे की पढाई आप उसी विषय में कर सकें जिसका आप प्रोफेसर बनना चाहते हैं।

2. चुनिंदा विषय से स्नातक (Graduation) करें:

यह तो आपको पता ही होगा कि किसी भी सरकारी जॉब को पाने के लिए ग्रेजुएशन यानि कि स्नातक clear करना बहुत जरुरी है और ग्रेजुएशन कोई भी higher study का बेस भी होती है। इसलिए अपने पसंदिता सब्जेक्ट से ग्रेजुएशन जरूर करें। ग्रेजुएशन के दौरान आपको यह भी पता चल जाएगा कि किस विषय में आपका ज्यादा interest है और उसी से आप आगे की पढाई करें। ग्रेजुएशन के दौरान ही आप अपनी स्ट्रीम बदलना चाहे तो बदल सकते हैं। ग्रेजुएशन की डिग्री में आपके काम से काम 55% मार्क्स होने ही चाहिए।

3. अब Post Graduation करें:

ग्रेजुएशन पूरी होने के बाद अब बारी आती है पोस्ट ग्रेजुएशन यानि कि master degree की तो यह भी बहुत जरुरी है प्रोफेसर बनने के लिए। ग्रेजुएशन के दौरान जो सब्जेक्ट आपको सबसे ज्यादा अच्छा लगा उसमें आपको एक्सपर्ट बनना होगा यानि कि किसी particular सब्जेक्ट का प्रोफेसर बनने के लिए तैयार होना होगा। पोस्ट ग्रेजुएशन में आप अपने फेवरेट विषय की मुहरत हासिल करेंगे और उसकी deep study करेंगे। पोस्ट ग्रेजुएशन में भी आपको काम से काम 55% मार्क्स लाने होंगे ताकि आप इस पर्किर्य में आगे बढ़ सकें।

4. UGC NET परीक्षा पास करें:

अब आप पोस्ट ग्रेजुएशन क्लियर करने के बाद कॉलेज में लेक्चरर बनने के लिए तैयार होते हैं पर सिर्फ पोस्ट ग्रेजुएशन ही काफी नहीं होता आपको UGC नेट परीक्षा पास करनी होगी। ुगक नेट परीक्षा को पास करें और इसके बाद आप किसी भी कॉलेज में लेक्चरर के रूप में पढ़ाएं। पर आपको अगर प्रोफेसर बनना है तो सिर्फ यहीं पर सिलसिला ख़तम नहीं होता। प्रोसेसर बनने के लिए आगे का प्रोसेस निम्नलिखित दिया गया हैं।

5. SLET या SET परीक्षा पास करें:

SLET (State Level Eligibility Test) / सेट परीक्षा एक स्टेट लेवल की परीक्षा होती है। आप जिस स्टेट में यह परीक्षा पास करेंगे उसमें आने वाले सभी colleges में आप जॉब कर सकते हैं।

6. M.Phil / P.hd पास करें:

पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद आपको M.Phil या P.hd की डिग्री हासिल करनी होगी, जिसको क्लियर करने के बाद आप प्रोफेसर बनने के लिए तैयार होते हैं। छात्र इन दोनों डिग्रीज में से कोई एक चुन सकते हैं, यह पूरी तरह से आपके ऊपर निर्भर करता है। पर अगर आप M.Phil करते हैं तो आपको NET/SET परीक्षा देनी पड़ती है। इसकी जगह अगर आप P.hd को चुनते है तो UGC नेट परीक्षा देने की कोई जरुरत नहीं है। P.hd करने पर नेट परीक्षा नहीं देने के लिए कुछ गाइड लाइन्स होती हैं जैसे कि P.hd डिग्री रेगुलर होनी चाहिए और काम से काम 2 रिसर्च पेपर पब्लिश होने जरुरी हैं।

अगर यह सब क्वॉलिफिकेशन्स आप पूरी कर लेते हैं तो आपकी असिस्टेंट प्रोफेसर की जॉब मिल जाती है, जिसमे बाद में आप प्रोफेसर बन जाते हैं।

College Professor Age Limit Criteria

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि college में प्रोफेसर बनने कि लिए आपकी उम्र सीमा क्या होनी चाहिए तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रोफेसर की पोस्ट कि लिए आयु की कोई खास सीमा निर्धारित नहीं है। इंडिया के सरकारी कॉलेज में प्रोफेसर बनने के लिए आप 48 साल की age में भी जॉब पा सकते हैं। प्रोफेसर बनने के लिए आपको लंभी पर्किर्या से गुजरना होता है, इसलिए पहले आप असिस्टेंट प्रोफेसर बनते हैं और फिर प्रोफेसर तो इसमें कई साल लग जाते हैं। इसी कारन कॉलेज प्रोफेसर की जॉब को age free रखा गया है।

कॉलेज Professor Selection Process in 2022

किसी भी जॉब को हासिल करने के लिए हमें कई सारी पर्किर्या से गुजरना पड़ता है इसी तरह से एक प्रोफेसर बनने के लिए भी हमें काफी हार्डवर्क लगता है। प्रोफेसर बनने के लिए चयन पर्किर्या निम्नलिखित है:-

  • कॉलेज में स्टेट PSC पर्किर्या से भर्ती होती है।
  • लिखित परीक्षा / Written Exam
  • साक्षात्कार / Interview
  • Merit List बनाई जाती है।
  • आखिर में आपकी qualification और जरुरी कागजात की जाँच पड़ताल की जाती।

Professor की सैलरी

सभी महत्वपूर्ण पहलुओं पर बात करने के बाद अब जानेंगे कि प्रोफेसर की सैलरी क्या होती है। अब अगर प्रोफेसर बनने के लिए आपको इतनी मेहनत लगती है तो जाहिर सी बात है कि इसमें सैलरी भी अच्छी खासी होनी चाहिए

कॉलेज में प्रोफेसर बनने से पहले आप असिस्टेंट प्रोफेसर बनते हैं और फिर प्रोफेसर इसलिए असिस्टेंट प्रोफेसर की सैलरी 35,000 से लेकर 65,000 तक होती है। और प्रोफेसर की सैलरी 1 लाख से 1,80,000 तक चली जाती है। Totally एक प्रोफेसर बनने पर आपको बहुत अच्छा वेतन मिलता है।

अन्य लेख पढ़ें :-

 निष्कर्ष:-

तो दोस्तों, इस लेख में आपने पढ़ा कि College me professor kaise bane और प्रोफेसर बनने के लिए क्या क्या योग्यता होनी चाहिए। इसके साथ ही कॉलेज प्रॉफेसर Age Limit, सिलेक्शन प्रोसेस और सैलरी के बारे में भी जानकारी हासिल की। हम उम्मीद करते हैं कि आपको प्रोफेसर बनने को लेकर दी गई जानकारी हेल्पफुल रही होगी। अगर कोई क्वेरी है तो हमें निचे दिए कमेंट बॉक्स में लिखें। इस लेख को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें और इस तरह की और जानकारी के लिए हमारे Home Page में visit जरूर करें, धन्यबाद। 

3 thoughts on “College में Professor कैसे बने | Assistant Professor पूरी जानकारी”

Leave a Comment