WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

फाइनेंस मैनेजर कैसे बनें? 2024 में Finance Manager की पूरी जानकारी

आज के समय में हम अपने आसपास जितने भी बड़ी-बड़ी कंपनियां देख रहे हैं। उनमें Finance Manager के तौर पर कई कर्मचारी कार्यरत होते हैं। Finance Manager की पोस्ट हर department और हर कंपनी के लिए होती है। Finance Manager कंपनी को Finance के तौर पर मजबूत बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

किसी भी कंपनी में एक फाइनेंस मैनेजर होना बहुत ही ज्यादा जरूरी है। कंपनी का सारा लेखा-जोखा फाइनेंस मैनेजर ही संभालता है। फाइनेंस मैनेजर कैसे बने इसके बारे में कई लोगों के मन में सवाल पैदा होते हैं। आज के आर्टिकल में हम आपको फाइनेंस मैनेजर कैसे बने इसके बारे में डिटेल में जानकारी देने का पूरा प्रयास करेंगे।

फाइनेंस मैनेजर कौन होता है?

किसी भी कंपनी के अंदर पैसों की लेनदेन और Transaction की निगरानी के लिए काम करने वाला व्यक्ति फाइनेंस मैनेजर कहलाता है। फाइनेंस मैनेजर कंपनी में रहते हुए कंपनी को अधिक से अधिक मुनाफा कैसे हो इसके बारे में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है साथ ही साथ कंपनी के खर्चो और कंपनी की जिम्मेदारियों को भी महत्व पूर्ण तरीके से निभाता है।

Finance Manager kaise bane

फाइनेंस मैनेजर कहो ना कंपनी के लिए इसलिए अनिवार्य माना जाता है क्योंकि फाइनेंस मैनेजर जो कंपनी से ज्यादा कर्ज में डूबने पर उसे बाहर निकालने में मदद करता है या फिर कंपनी को अधिक मुनाफा कमाने में भी अपनी मदद करता है। जिस प्रकार से BBA डिग्री करने के पश्चात विद्यार्थी Business Ideas दान करके कंपनी को बिजनेस में सफल बनाते हैं। उसी प्रकार से फाइनेंस मैनेजर फाइनेंसियल मैनेजमेंट करने से संबंधित संपूर्ण जानकारी कंपनी के मालिक को देते हैं और जिस से कंपनी का फाइनेंशियल मैनेजमेंट नियत रहता है।

फाइनेंस मैनेजर बनने के तीन तरीके हैं

फाइनेंस मैनेजर बनने के लिए किसी भी एक तरीके में बंद कर पढ़ाई करना या आगे बढ़ना कोई जरूरी नहीं है। फाइनेंस मैनेजर बनने के कुल 3 तरीके के बारे में नीचे जानकारी दे रहे हैं। आप अपनी इच्छा अनुसार किसी भी एक तरीके का चयन करते हुए फाइनेंस मैनेजर बन सकते हैं जो कुछ इस प्रकार से हैं:

Finance Manager बनने का (पहला तरीका)

फाइनेंस मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवारों को 12वीं कक्षा पास करने के बाद ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी है और उसके पश्चात मास्टर ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी है। ग्रेजुएशन और मास्टर ग्रेजुएशन डिग्री के लिए होने वाले एग्जाम में भी आवेदन कर सकते हैं। इन एंट्रेंस एग्जाम के जरिए आपको भारत के टॉप फाइनेंस मैनेजर बनने के कॉलेज में दाखिला मिल जाएगा।

Finance Manager बनने का (दूसरा तरीका)

बारहवीं कक्षा पास करने के बाद B.com की डिग्री लेकर बैचलर इन फाइनेंशियल इन्वेस्टमेंट एनालिसिस की डिग्री ले सकते हैं, या फिर सीए फाउंडेशन B- Econ की डिग्री लेकर मास्टर इन फाइनेंस कंट्रोल की डिग्री प्राप्त करते हुए आप फाइनेंस मैनेजर की पोस्ट हासिल कर सकते हैं।

Finance Manager बनने का (तीसरा तरीका)

विज्ञान वर्ग से 12वीं कक्षा पास करने वाले विद्यार्थी b.a. इन इकोनामिक या बिजनेस इकोनॉमिक्स की डिग्री लेते हुए या फिर BSC मैथमेटिक्स से ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद फाइनेंस मैनेजमेंट के तहत मास्टर फाइनेंस कंट्रोल का कोर्स कर सकते हैं और इसके जरिए फाइनेंस मैनेजर पद तक पहुंच सकते हैं।

फाइनेंस मैनेजर कैसे बने?

आज के समय में फाइनेंस मैनेजर बनने और फाइनेंस मैनेजर के तौर पर अपनी भूमिका निभाने वाले उम्मीदवारों की डिमांड बाजार में बढ़ती जा रही है। दिन प्रतिदिन हर कंपनी के लिए फाइनेंस मैनेजर का होना अनिवार्य माना जा रहा है। फाइनेंस मैनेजर बनने के लिए आपको नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करना होगा। इन चरणों को फॉलो करते हुए आप फाइनेंस मैनेजर बनने तक का सफर पूरा कर सकते हैं।

1. 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करें

फाइनेंस मैनेजर बनने के लिए आपको सर्वप्रथम 12वीं कक्षा पास करनी है। जो विद्यार्थी सेकेंडरी स्कूल पूरी करने के बाद 12वीं कक्षा में एडमिशन ले रहा है। उन विद्यार्थियों को वाणिज्य वर्ग के साथ मारी कक्षा उत्तीर्ण करनी है।

2. बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्टर की पढ़ाई करें

अब विद्यार्थियों को आगे ग्रेजुएशन की डिग्री के लिए बैचलर बिजनेस ऑफ एडमिनिस्टर की डिग्री में अपना आवेदन करना होगा। बैचलर ऑफ बिजनस एडमिनिस्टर की डिग्री लेने के लिए आपको कॉलेज लेवल पर होने वाले एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेना होगा या फिर आप अपने बारहवीं कक्षा के अंक के आधार पर भी डायरेक्ट बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन डिग्री में आवेदन ले सकते हैं।

3. मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्टर की पढ़ाई करें

अंडर ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी होने के पश्चात आपको अगले चरण के तौर पर मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन डिग्री लेनी होगी। इसके अलावा अन्य डिप्लोमा व डिग्री के माध्यम से भी फाइनेंस मैनेजर बन सकते हैं। फाइनेंस मैनेजर बनने के लिए BBA और MBA करने की बजाय आप फाइनेंसियल कंट्रोल पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा ले सकते हैं। जो 2 साल का होता है। इस डिप्लोमा को लेने के बाद इंटरव्यू के आधार पर आपको फाइनेंस मैनेजर बनने का मौका मिल जाता है।

Financial Management से जुड़ी महत्वपूर्ण किताबें (Financial Management Best Books in Hindi 2024)

फाइनेंस कोर्स करवाने वाले टॉप कॉलेज कौन से हैं?

भारत में आबादी के आधार पर बहुत सारे कॉलेज अलग-अलग डिग्री व डिप्लोमा के लिए मौजूद है। लेकिन जब फाइनेंस मैनेजर कोर्स कराने वाले टॉप कॉलेज का नाम आता है। तो कुछ कॉलेज के नाम हमारे सामने आते हैं। जिसकी जानकारी हम नीचे आपको प्रदान करवा रहे हैं:

  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी अलीगढ़,
  • एआईएमए (सेंटर फोर मैनेजमेंट एजुकेशन),
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ बिज़नेस मैनेजमेंट एंड रिसर्च (आईबीएमआर आईपीएस)
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज देवी अहिल्या विश्वविद्यालय,
  • एनएमआईएमएस स्कूल ऑफ़ मैनेजमेंट बेंगलुरु,
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड फाइनेंसियल एनालिस्ट ऑफ़ इंडिया,
  • इंदिरा गाँधी नेशनल ओप्र्ण यूनिवर्सिटी
  • सिम्बायोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ़ बिज़नेस मैनेजमेंट पुने
  • यूनिवर्सिटी ऑफ़ लखनऊ
  • आल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन
  • बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी
  • डिपार्टमेंट ऑफ़ बैंक मैनेजमेंट अलगप्पा इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट तमिलनाडु, आदि

Finance Manager के लिए नौकरियां (Finance Manager Jobs in Hindi 2024)

जो विद्यार्थी फाइनेंस मैनेजर बनने तक के सारे डिग्री व डिप्लोमा कोर्स को पूरा कर चुका है। उस विद्यार्थी के लिए भविष्य में बहुत सारी जॉब अपॉर्चुनिटी उभर कर सामने आती है। विद्यार्थी अपने करियर को किसी भी क्षेत्र में जॉब करके सुरक्षित कर सकता है। फाइनेंस मैनेजर के लिए कौन-कौन सी जॉब कौन-कौन सी कंपनियों में मौजूद रहती है। इसके बारे में जानकारी नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई हैं।

  • मैनेजर इन डायरेक्ट
  • डायरेक्ट टैक्सेशन
  • बिज़नेस मैनेजर
  • कमर्शियल मैनेजर
  • मैनेजर इंचार्ज कास्टिंग
  • टेजेरी मैनेजर नेशनल एंड इंटरनेशनल बैंक्स
  • कॉर्पोरेट और फाइनेंसियल इंस्टिट्यूशन्स
  • मैनेजर ट्रेस्यूरर
  • कंट्रोलर्स
  • ट्रेस्युरी मैनेजर्स
  • मर्चेंट बैंकर्स
  • क्रेडिट मैनेजर्स
  • कैश मैनेजर्स

फाइनेंस मैनेजर की सैलरी कितनी होती है?

हर उम्मीदवार के दिमाग में हमेशा आपसे एक ही बात चलती है, कि इस पद पर कार्यरत रहते हुए मुझे कितनी सैलरी मिल सकती है। उसी प्रकार के फाइनेंस मैनेजर का कोर्स करने वाले विद्यार्थियों के मन में भी यही सवाल पैदा होते रहते हैं।  कि आखिरी पड़ाव पर फाइनेंस मैनेजर बनने के बाद हमें कितनी सैलरी मिल जाएगी। फाइनेंस मैनेजर की सैलरी के बारे में बात करें, तो फाइनेंस मैनेजर की सैलरी उसके ऑर्गेनाइजेशन पर पूरी तरह से निर्भर करती है। क्योंकि फाइनेंस मैनेजर के लिए सरकारी पद ना के बराबर होते हैं।

फाइनेंस मैनेजर अपनी स्कील और एक्सपीरियंस के साथ-साथ ऑर्गनाइजेशन के आधार पर अच्छा पैसा कमा सकता है। फाइनेंस मैनेजर की सैलरी के बारे में बात करें तो यहां ₹400000 से लेकर ₹1800000 तक की सैलरी प्रति वर्ष आराम से कमा सकते हैं। इससे ज्यादा भी आपको कमाने का मौका मिल सकता है।

People Also Read:-

Hotel Management Course क्या होता है कैसे करते हैं?

GST Inspector क्या होता है कैसे बने पूरी जानकारी?

Blockchain Engineer क्या है कैसे बने?

बैंकिंग सेक्टर में करियर कैसे बनाएं पूरी जानकारी?

Income Tax Inspector बनने का प्रोसेस क्या होता है?

निष्कर्ष

विद्यार्थी अपने करियर को सुरक्षित करने के लिए डिग्री व डिप्लोमा कोर्स करते हैं अलग-अलग प्रकार की पढ़ाई के साथ अलग-अलग विभागों में अनुभव ग्रहण करते हैं। जो विद्यार्थी पढ़ाई करके फाइनेंस मैनेजर बनना चाहता है। तो आज के आर्टिकल में हमने आपको फाइनेंस मैनेजर कैसे बने इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी।