प्रयोगशाला शिक्षक कैसे बने? | 2022 में Lab Teacher से जुड़ी पूरी जानकारी

हमारे भारत में किसी भी प्रकार की सरकारी नौकरी को बहुत ही ज्यादा सम्मान दिया जाता है। क्योंकि सरकारी नौकरी पाने के बाद लोगों को ऐसा लगता है, कि उन्होंने सब कुछ पा लिया है। हमारे देश के बुजुर्ग भी सरकारी नौकरी पाने वाले व्यक्ति को बहुत ज्यादा सम्मान देते हैं। इतना ही नहीं सरकारी नौकरी हासिल करने के बाद उम्मीदवार पैसा कमाने के साथ-साथ सम्मान भी बहुत अधिक कमाता है। खासतौर से हमारे आस पास Teacher पद काम करने वाले व्यक्ति को अच्छा सामान मिलता है। आज के आर्टिकल में हम आपको प्रयोगशाला टीचर कैसे बने? (How to become lab Teacher in Hindi) इसके बारे में details में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

प्रयोगशाला शिक्षक कौन होता है? (Laboratory Teacher in Hindi)

Lab Teacher kaise bane

विद्यार्थियों के लिए पढ़ाई पूरी करने के बाद किसी ने किसी पद पर नौकरी हासिल करने का हमेशा एक मुख्य target रहता है। इतना ही नहीं विद्यार्थी के माता-पिता भी बच्चे को किसी न किसी सरकारी पद पर नौकरी प्राप्त करने के लिए उत्साहित करते हैं। प्रयोगशाला टीचर उच्च कक्षाओं में जो प्रयोगशाला होती है। उन प्रयोगशालाओं में अध्यापक के तौर पर प्रैक्टिकल करवाने वाले उम्मीदवार को कहा जाता है। प्रयोगशाला टीचर उच्च कक्षाओं यानी कि 10वीं 11वीं और 12वीं कक्षाओं में जो विज्ञान वर्ग के विषयों में प्रैक्टिकल करवाने का काम करते हैं, उनको कहा जाता है।

प्रयोगशाला अध्यापक Lab में विद्यार्थियों को Practical करके हर चीज सिद्धांत के साथ समझाते हैं। विज्ञान विषय में Practical काफी महत्वपूर्ण होता है। विज्ञान की Theory पढ़ने के साथ-साथ Practical के माध्यम से उस Reaction और गतिविधि के बारे में संपूर्ण जानकारी विद्यार्थी लेते हैं और यह जानकारी देने का काम Lab Teacher करता है।

प्रयोगशाला अध्यापक बनने के लिए जरूरी योग्यता (Lab Teacher Eligibility in Hindi 2022)

जो विद्यार्थी प्रयोगशाला टीचर बनने का सपना देख रहे हैं। और प्रयोगशाला टीचर बनने के लिए मेहनत कर रहे हैं। उन विद्यार्थियों को सबसे पहले Lab Teacher बनने के लिए जरूरी योग्यता को पूरा करना होगा योग्यता को पूरा करके ही आप प्रयोगशाला टीचर की भर्ती में आवेदन लगा सकते हैं और टीचर बनने के सपने को पूरा कर सकते हैं। प्रयोगशाला टीचर बनने के लिए जरूरी योग्यता नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई हैः

  • उम्मीदवार 12 वीं कक्षा विज्ञान वर्ग के साथ पास किया हुआ होना अनिवार्य है।
  • उम्मीदवार को उच्च शिक्षा के तौर पर आगे ग्रेजुएशन और मास्टर ग्रेजुएशन करना जरूरी है।
  • B.Ed की डिग्री हासिल करें।

प्रयोगशाला शिक्षक कैसे बने? (Lab Teacher kaise bane in 2022)

प्रयोगशाला टीचर बनने के लिए विद्यार्थियों को सबसे पहले 12 वीं कक्षा विज्ञान वर्ग के साथ पास करनी होगी। विज्ञान वर्ग के साथ जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास कर लेता है। उसको नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करते हुए आगे बढ़ना होगाः

1. ग्रेजुएशन पूरा करें

12 वीं कक्षा विज्ञान वर्ग में पूरा कर चुके विद्यार्थी किसी भी सब्जेक्ट के साथ ग्रेजुएशन कर सकता है। ग्रेजुएशन विज्ञान वर्ग से संबंधित होना अनिवार्य है। Graduation की Degree न्यूनतम 50% अंक के साथ पास करना काफी महत्वपूर्ण रहता है।

2. B.Ed की डिग्री हासिल करें

शिक्षक के लिए B.Ed की Degree बहुत ही ज्यादा जरूरी है। ग्रेजुएशन करने के बाद B.Ed की डिग्री करके विद्यार्थी पढ़ाने के तरीके को सीखता है। यह डिग्री हर विषय वर्ग के विद्यार्थी के लिए जरूरी है और हर टीचर के लिए जरूरी है।

3. मास्टर डिग्री यानी की पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा करें

ग्रेजुएशन और B.Ed की डिग्री लेने के पश्चात उम्मीदवार को Post Graduation की Degree लेनी होती है। पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री लेने पर विद्यार्थी किसी भी एक विषय में मास्टर डिग्री हासिल कर लेता है और उस विषय से संबंधित प्रयोगशाला शिक्षक बनने के लिए योग्य भी हो जाता है। मास्टर डिग्री लेने वाले उम्मीदवार को अब आने वाली प्रयोग शाला शिक्षक भर्ती में आवेदन करने के लिए योग्यता मिल जाती है।

4. प्रयोगशाला टीचर भर्ती में आवेदन करें

Lab Teacher बनने के लिए उम्मीदवार को सरकार के द्वारा नियमित तौर पर निकाले जाने वाली प्रयोगशाला टीचर भर्ती में अपना आवेदन लगाना होगा। हालांकि जो विद्यार्थी प्राइवेट विद्यालय में प्रयोगशाला टीचर बनना चाहता है। उस विद्यार्थी के लिए किसी भी भर्ती में आवेदन लगाने की जरूरत नहीं है।

विद्यार्थी degree complete करने के बाद सीधा किसी भी प्राइवेट विद्यालय में join होकर प्रयोगशाला टीचर पद पर कार्यरत हो सकता है। लेकिन सरकारी प्रयोगशाला टीचर बनने के लिए विद्यार्थी को प्रयोगशाला टीचर भर्ती में अपना आवेदन लगाना होगा। जब विद्यार्थी प्रयोगशाला टीचर भर्ती में आवेदन लगाता है। तो विद्यार्थी को प्रयोगशाला टीचर की selection प्रक्रिया से गुजरते हुए इस पद को हासिल करना होता है।

प्रयोगशाला टीचर के क्या कार्य होते हैं?

प्रयोगशाला टीचर के कार्य कि यदि बात की जाए तो प्रयोगशाला टीचर शब्द से ही यह अंदाजा लगाया जा सकता है, कि ऐसा अध्यापक जो प्रयोगशाला में होने वाली गतिविधियों को सुचारू रूप से चलाने में अपनी मदद करता है। Lab Teacher के मुख्य कार्य नीचे कुछ इस प्रकार से दिए गए हैंः

प्रयोगशाला में विद्यार्थियों को नए नए प्रयोग सिखाने और उनके बारे में जानकारी देने में प्रयोगशाला टीचर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

विद्यार्थियों को विज्ञान की कई प्रकार की reaction और गतिविधियों से अवगत करवाता है।

प्रयोगशाला टीचर विद्यार्थियों को प्रयोग सिखाता है और लैब की परीक्षाओं में एग्जाम करवाने का काम भी करता है।

प्रयोगशाला टीचर की सैलरी कितनी होती है? (Lab Teacher Salary in India 2022)

हर उम्मीदवार जब किसी पद के लिए तैयारी करता है तो उससे पहले विद्यार्थी उस पद पर नौकरी प्राप्त करने के बाद कितनी सैलरी मिल जाएगी इसके बारे में जानकारी लेने की इच्छा रखता है उम्मीदवार जब प्रयोगशाला टीचर बन जाता है तो प्राइवेट विद्यालय में प्रयोगशाला टीचर को ₹15,000 से ₹25,000 तक की सैलरी मिल जाती है।

प्राइवेट विद्यालय में यह सैलरी कोई फिक्स नहीं है। उच्च स्तरीय प्राइवेट विद्यालय में प्रयोगशाला टीचर की सैलरी ₹50,000 तक भी हो सकते हैं। सरकारी प्रयोगशाला टीचर बनने के बाद उम्मीदवार की सैलरी की बात की जाए तो उम्मीदवार को शुरुआत में ₹40,000 तक की सैलरी मिलती है और 2 साल की अवधि पूरी होने के बाद उम्मीदवार को पहला प्रमोशन मिलता है। उसके बाद उम्मीदवार को 50,000 से 70,000 की सैलरी और ग्रेड पे के साथ-साथ अन्य कई प्रकार के सरकारी भत्ते की सुविधाएं भी मिलती है।

People Also Read:-

सरकारी अध्यापक (Govt. Teacher) कैसे बने पूरी जानकारी?

पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद क्या करें पूरी जानकारी?

अतिथि शिक्षक (Guest Teacher) कैसे बनते हैं संपूर्ण जानकारी?

भारत में Top 10 Highest Salary Jobs 2022.

निष्कर्ष

विद्यार्थी जब छोटी कक्षाओं में पड़ता है, तो विद्यार्थी को आगे जाकर किसी एक पद पर नौकरी हासिल करने का सपना होता है। हालांकि ज्यादातर विद्यार्थी को छोटी कक्षाओं में Doctor और Engineer बनने का सपना होता है। लेकिन उच्च कक्षाओं में जाते-जाते विद्यार्थियों के confidence टूट जाते हैं और विद्यार्थी किसी भी सरकारी नौकरी को हासिल करने के पीछे पड़ जाते हैं।

Lab Teacher बनना विज्ञान वर्ग के विद्यार्थियों के लिए एक बेहतरीन oppertunity मानी जाती है। विद्यार्थी विज्ञान वर्ग से ग्रेजुएशन और मास्टर डिग्री करके प्रयोगशाला शिक्षक बन सकते हैं। आज के आर्टिकल में हमने आपको प्रयोगशाला शिक्षक कैसे बने इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी।

1 thought on “प्रयोगशाला शिक्षक कैसे बने? | 2022 में Lab Teacher से जुड़ी पूरी जानकारी”

Leave a Comment