Lab Technician कैसे बने? 2023 में Full Details in Hindi

Lab Technician का नाम तो आपने सुना ही होगा। अगर आप विज्ञान विषय से संबंध रखते हैं तो यह नाम आपको कहीं बाहर सुनने के लिए मिल जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि विज्ञान विषय के अंतर्गत आप Lab Technician बनकर एक बेहतरीन करियर विकल्प का चयन कर सकते हैं और अच्छी Salary पा सकते हैं। आज के समय में बढ़ती जनसंख्या तथा दुनिया भर में फैल रहे तरह-तरह की बीमारियां और तरह तरह के रोगों की वजह से विज्ञान ने भी अपने पांव जमा दिए है और हर प्रकार का इलाज करना संभव कर दिया है। ऐसी स्थिति में लैब टेक्नीशियन की भी आवश्यकता होती है।

अक्सर हम किसी ना किसी वजह से बीमार हो जाते हैं और जब एक दो बार ट्रीटमेंट लेने के बाद ठीक नहीं होते हैं तो Doctor हमें Blood Test के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के Test करवाने के लिए कहता है। डॉक्टर द्वारा लिखे गए Test को हम अपने नजदीकी Laboratory में Test करवाते हैं। वहां पर Lab Technician और उसकी पूरी टीम होती है जो हमारे ब्लड का सैंपल लेकर डॉक्टर द्वारा लिखे गए विभिन्न प्रकार की जांच की जाती हैं। इस जांच में यह साफ हो जाता है के व्यक्ति को कौन सी बीमारी है या शरीर में क्या समस्या है। इसके आधार पर Lab Technician एक Report तैयार करता है।

जब हम Lab Technician द्वारा दी गई जांच Report को Doctor को सौंपते हैं तो Doctor उस आधार पर हमें दवाइयां और Medicine तथा Treatment देता है। उसके आधार पर ही Doctor हमारा इलाज करता है जिससे हम सही समय पर जल्द से जल्द ठीक हो जाते हैं तो अब आप समझ गए होंगे कि लैब टेक्नीशियन कहां पर काम करता है। इस प्रकार देश और दुनिया में करोड़ों की संख्या में लैबोरेट्री बनी हुई है। जहां पर विभिन्न प्रकार के टेस्ट किए जाते हैं। यहां पर ब्लड के अलावा सिटी स्कैन x-ray तथा विभिन्न प्रकार के टेस्ट किए जाते हैं। यहां पर मुख्य रूप से लैब टेक्नीशियन की बड़ी मात्रा में आवश्यकता होती है।

Lab Technician क्या होता है? (Lab Technician in Hindi)

Lab Technician in Hindi

Lab Technician वह व्यक्ति होता है, जो चिकित्सा से संबंधित मशीनरी के साथ काम करके मेडिकल के क्षेत्र में विभिन्न प्रकार के टेस्ट करने में एक्सपर्ट होता है। लैब टेक्नीशियन दुनिया भर में किसी भी देश में सरकारी अथवा प्राइवेट सेक्टर में किसी भी प्रकार के लैबोरेट्री में टेस्ट कर सकता है। Lab Technician Laboratory में मौजूद विभिन्न प्रकार की मशीनों के माध्यम से तथा विभिन्न प्रकार के ऊपर आओ के माध्यम से ब्लड के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के टेस्ट करता है तथा City Scan, X-Ray, MRI Scan इस प्रकार के विभिन्न तरह के Test करता है।

आज के समय में दुनिया भर में विभिन्न प्रकार की बीमारियां और विभिन्न प्रकार के रोग उत्पन्न हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में दुनिया भर में प्राइवेट और सरकारी दोनों ही सेक्टर में लैब टेक्नीशियन की भारी मांग देखने को मिलती है। यही वजह है कि आज के समय में अधिकांश युवा एक बेहतरीन करियर विकल्प और अच्छी सैलरी की तलाश में लैब टेक्नीशियन बनना चाहते हैं। लेकिन यह विज्ञान विषय से संबंध रखता है तथा इसमें जटिल चिकित्सा मशीनरी का कार्य होता है। इसीलिए आपको इसका कोर्स करना होगा और उस कोर्स के अंतर्गत आपको इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी बताई जाएगी।

Lab Technician Course क्या है?

Lab Technician चिकित्सा के सेक्टर में मशीनरी के उपयोग तथा लैबोरेट्री में काम से संबंधित कोर्स होता है जो पैरामेडिकल कोर्स की श्रेणी में आता है। यह एक उच्च कोटि का कोर्स है जिसमें व्यक्ति को लेबोरेटरी के अंदर लैब टेक्नीशियन का काम करने के लिए विभिन्न प्रकार की जानकारी दी जाती है तथा प्रैक्टिकल रूप से वह सभी कार्य करके बताए जाते हैं। लैब टेक्नीशियन बनाने के लिए लैब टेक्नीशियन का कोर्स करना होता है। इस कोर्स को करने के बाद ही आप प्राइवेट अथवा सरकारी सेक्टर में लैब टेक्नीशियन बन सकते हैं।

आज के समय में विज्ञान के सेक्टर में होने वाले नए आविष्कार तथा देश और दुनिया में हर तरह की बीमारियां और लोगों की वजह से आवश्यकता के अनुसार विभिन्न प्रकार के टेस्ट लेबोरेटरी में किए जाते हैं। इसके लिए लैब टेक्नीशियन कोर्स के अंतर्गत ब्लड बैंकिंग पैथोलॉजी बायोकेमेस्ट्री तथा माइक्रोबायोलॉजी इत्यादि से संबंधित विषय शामिल होते हैं। इन सभी विषय के अंतर्गत लैब के अंदर की जाने वाली जांच के बारे में पढ़ाया जाता है और उसे वास्तव में करके भी दिखाया जाता है।

वर्तमान समय में Lab Technician की डिमांड काफी ज्यादा देखने को मिलती है क्योंकि आमतौर पर शहरी क्षेत्रों में तथा नगरीय क्षेत्रों में बहुत सारे अस्पताल और चिकित्सालय देखने के लिए मिल जाते हैं, लेकिन बहुत ही कम अस्पताल और चिकित्सालय में लाभ होता है। जबकि अधिकांश अस्पतालों और चिकित्सालय जांच करवाने के लिए लैबोरेट्री का सुझाव देते हैं। ऐसी स्थिति में हमें बहुत ही कम लैबोरेट्री शहरों में देखने को मिलती है अगर आप लैब टेक्नीशियन बन जाते हैं तो यह आपके लिए एक बेहतरीन करियर विकल्प हो सकता है।

Lab Technician Course कौनसे होते हैं?

अगर आप Lab Technician बनाने का कोर्स करना चाहते हैं तो हम आपको बता देते हैं कि इसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार की डिग्रियां होती है और उन सभी के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के कोर्स उपलब्ध है। आप अपनी रूचि के अनुसार किसी भी कोर्स का चयन करके उसके अंतर्गत लैब टेक्नीशियन का अध्ययन कर सकते हैं लैब टेक्नीशियन बदलने के लिए आपको कोर्स के अंतर्गत रेडियोग्राफी, एक्स-रे, रसायन, ब्लड टेस्ट इत्यादि विभिन्न प्रकार की जानकारी दी जाती है और प्रैक्टिकल रूप से जांच करके भी बताया जाता है। लैब टेक्नीशियन कोर्स के अंतर्गत आने वाली डिग्रियां निम्नलिखित हैं —

लैब टेक्निशियन में डिप्लोमा (Diploma in Lab Technician)—

Lab Technician कोर्स के अंतर्गत अगर आप डिप्लोमा की डिग्री हासिल करते हैं तो इसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के कोर्सेज से जाते हैं। इसलिए अगर आप Lab Technician बनाना चाहते हैं तो इन सभी के बारे में आपके लिए जानना बेहद जरूरी होता है। लैब टेक्नीशियन कोर्स के अंतर्गत डिप्लोमा की डिग्री के अंदर आने वाले कोर्सेज इस प्रकार है—

  • Diploma in Medical Laboratory Technology
  • Radiography Technology Diploma
  • CVT Technician Diploma
  • Diploma in ECG Technology
  • Medical Imaging Technology Diploma
  • Certificate course in Medical Laboratory Technology
  • Diploma in Medical Laboratory Assistants
  • Diploma in Clinical Analysis
  • Certificate in Laboratory Techniques

लैब टेक्निशियन में बैचलर्स (Bachelor in Lab Technician)—

अगर आप Lab Technician का कोर्स करना चाहते हैं तो आपको लैब टेक्नीशियन कोर्स के अंतर्गत आने वाले बैचलर की डिग्री में सभी कोर्सेज के बारे में जान लेना चाहिए। लैब टेक्नीशियन कोर्स के अंतर्गत बैचलर की डिग्री के अंदर आने वाले कोर्सेज इस प्रकार है —

  • Bachelor Of Medical Laboratory Technology
  • X-Ray Technology BSc
  • BSc Medical Imaging Technology
  • BSc Clinical Laboratory Technology
  • BSc In Medical Laboratory Technology
  • BSc ECG and Cardiovascular Technology

लैब टेक्निशियन में मास्टर्स (Masters in Lab Technician)—

अगर आप Lab Technician का कोर्स करने वाले हैं और इस कोर्स के अंतर्गत आपने लैब टेक्नीशियन मास्टर की डिग्री का चयन किया है तो इस मास्टर की डिग्री के अंतर्गत कौन कौन से कोर्सेज आते हैं, इस बारे में भी आपको जान लेना चाहिए। लैब टेक्नीशियन में मास्टर डिग्री के अंतर्गत आने वाले कोर्सेज के नाम इस प्रकार हैं —

  1. MSc. ECG and CVT
  2. M.Sc. Medical Imaging Technology
  3. MSc. Medical Laboratory
  4. Master of Medical Laboratory Technology
  5. X-Ray Technology M.Sc.

लैब टेक्निशियन बनने के लिए योग्यता (Lab Technician Eligibility in Hindi 2023)—

Lab Technician बनाने के लिए आप को विशेष रूप से विज्ञान से अपना गहरा संबंध जोड़ देना चाहिए और शुरुआत से ही विज्ञान से संबंधित पाठ्यक्रम पढ़ना शुरू कर देना चाहिए। ताकि आप अच्छी तरह से शौक के आधार पर काम कर सके लैब टेक्नीशियन बनने के लिए निर्धारित की गई योग्यता कुछ इस प्रकार है —

  • लैब टेक्नीशियन बदलने के लिए आप को कम से कम 12वीं कक्षा पास करनी होगी।
  • किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं क्लास पास कर सकते हैं।
  • लैब टेक्नीशियन बनाने के लिए 12th कक्षा साइंस स्ट्रीम से ही पास करनी होगी।
  • लैब टेक्नीशियन बनाने के लिए आपको 12th कक्षा के अंतर्गत कम से कम 50% से लेकर 60% अंक प्राप्त करने होंगे।
  • कुछ शिक्षण संस्थान Lab Technician Course के अंतर्गत आवेदन के लिए Entrance Exam का आयोजन करवाते हैं।

People Also Read:-

भारत की Top 10 नौकरियां जो सबसे ज्यादा सैलरी देती हैं।

Medical Line में करियर कैसे बनाएं पूरी जानकारी?

B.Pharmacy Course क्या है कैसे करें?

Medicine Doctor क्या होता है कैसे बने संपूर्ण जानकारी?

Nursing Course क्या है Nursing Course से जुड़ी पूरी जानकारी?

Lab Technician कोर्स के लिए शिक्षण संस्थान —

भारत में Lab Technician का कोर्स करने के लिए आपको प्रत्येक राज्य और प्रत्येक शहर में विभिन्न प्रकार के कॉलेज विश्वविद्यालय और शिक्षण संस्थान देखने के लिए मिल जाएंगे। लेकिन हम आपको यहां पर कुछ लोकप्रिय भारत के ऐसे शिक्षण संस्थान के बारे में बता रहे हैं जो लैब टेक्नीशियन का कोर्स करवाने के लिए जाने जाते हैं। लैब टेक्नीशियन कोर्स कराने वाले भारत के प्रमुख शिक्षण संस्थानों के नाम इस प्रकार हैं —

  • एम्स दिल्ली, दिल्ली
  • आर्म्ड फोर्सेज मेडिकल कॉलेज, पुणे
  • मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, दिल्ली
  • सीएमसी वेल्लोर, वेल्लोर
  • जवाहरलाल इंस्टिट्यूट ऑफ़ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई
  • श्री रामचंद्र मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टिट्यूट, चेन्नई
  • एंड रिसर्च, पांडिचेरी
  • जीजीएसआईपीयू, नई दिल्ली

Lab Technician Course के लिए Apply कैसे करें —

लैब टेक्नीशियन का कोर्स करने के लिए आप ऑनलाइन ही आवेदन करके अपने पसंदीदा शिक्षण संस्थान से लैब टेक्नीशियन का कोर्स कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया इस प्रकार है —

  • लैब टेक्नीशियन का कोर्स करने के लिए आपको सबसे पहले अपने पसंदीदा विश्वविद्यालय या शिक्षण संस्थान की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा।
  • वेब पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको एक user-id तथा एक पासवर्ड मिलेगा।
  • अब यूज़र आईडी एवं पासवर्ड की मदद से शिक्षण संस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग ऑन करें।
  • अब आप होम पेज पर दिए गए सभी कोर्स में से आप जिसको स्कोर करना चाहते हैं उसका चयन करें।
  • अब आपको अपने शैक्षणिक योग्यता यहां पर पता नहीं होगी।
  • अब आपको यहां पर रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान ऑनलाइन माध्यम से करना होगा।
  • कुछ शिक्षण संस्थान प्रवेश परीक्षा के आधार पर आवेदन देते हैं।
  • कुछ शिक्षण संस्थान उस इलेक्शन के बाद ऑनलाइन इंटरव्यू लेते हैं।

Lab Technician कोर्स के बाद Job Profile—

अगर आपने Lab Technician का कोर्स कर दिया है तो अब आपको जो प्रोफाइल की बिल्कुल भी चिंता नहीं करनी चाहिए क्योंकि प्रतिवर्ष सरकारी सेक्टर के लिए लैब टेक्नीशियन भर्ती का आयोजन करवाया जाता है। जहां पर आप अप्लाई करके सरकारी सेक्टर में लैब टेक्नीशियन बन सकते हैं। इसके अलावा प्राइवेट सेक्टर में भी आपको विभिन्न प्रकार के कैरियर विकल्प देखने के लिए मिल जाते हैं। वर्तमान समय में प्राइवेट सेक्टर में बड़े पैमाने पर लैब टेक्नीशियन की डिमांड रहती है। टेक्नीशियन के अंतर्गत आप सिस्टम एनालिस्ट, हेल्थकेयर एडमिनिस्ट्रेटर, नेम असिस्टेंट मैनेजर, मेडिकल टेक्नीशियन इत्यादि विभिन्न प्रकार के पदों पर कार्य कर सकते हैं।

Lab Technician की सैलरी (Lab Technician Salary)—

लैब टेक्नीशियन के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के पद आते हैं। उन सभी पदों के लिए अलग-अलग सैलरी दी जाती है। सैलरी कितनी मिलती हैं। यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप भारत में नौकरी करते हैं या विदेशों में क्योंकि विदेशों में भारत की तुलना में अत्यधिक सैलरी दी जाती है। इसके अलावा सरकारी और प्राइवेट सेक्टर में भी अलग-अलग जरूरत के अनुसार तथा लोकेशन के अनुसार सैलरी प्रदान की जाती है।

आमतौर पर भारत में Lab Technician के विभिन्न पदों पर मिलने वाली सैलरी वार्षिक तौर पर इस प्रकार है – सिस्टम एनालिस्ट ₹6,70,000 प्रतिवर्ष, लेबोरटरी टेक्नीशियन ₹3,00,000 प्रतिवर्ष, लैब असिस्टेंट मैनेजर ₹5,50,000 प्रतिवर्ष, हेल्थकेयर एडमिनिस्ट्रेटर ₹4,80,000 प्रतिवर्ष, असिस्टेंट प्रोफेसर ₹3,50,000 प्रतिवर्ष, मेडिकल टेक्नीशियन ₹3,50,000 प्रतिवर्ष, R&D लैब असिस्टेंट ₹3,00, 000 प्रतिवर्ष, लैब मैनेजर ₹5,50,000 सालाना।

Conclusion

Lab Technician in Hindi इस बारे में हम आपको पूरी जानकारी आज के इस आर्टिकल में प्रदान कर चुके हैं। इस आर्टिकल को शुरुआत से लेकर अंत तक पढ़ने के बाद आपको पता चल जाएगा कि लैब टेक्नीशियन क्या होता है? लैब टेक्नीशियन कोर्स क्या है? लैब टेक्नीशियन कोर्स कैसे करते हैं? Lab Technician course करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए, Lab Technician के अंतर्गत कौन-कौन से क्वेश्चन आते हैं? तथा Lab Technician Course करने के बाद Job Profile और Salary किस प्रकार मिलती है। इस बारे में पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक बताएं दी गई है। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो आप नीचे कमेंट कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपके लिए यह जानकारी useful रही हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें, धन्यवाद।

Leave a Comment