LLB क्या है और कैसे करें? 2022 में एलएलबी कोर्स की पूरी जानकारी।

हर व्यक्ति अपने जीवन में किसी न किसी सपने के लिए मेहनत करता है। व्यक्ति को अपने जीवन में सपना पूरा करने के लिए कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। व्यक्ति अपने जीवन में सपने को पूरा करने के लिए कई प्रकार के डिग्री व डिप्लोमा कोर्स देने के लिए भी प्रयास करता है। जब व्यक्ति सरकारी पदों के लिए प्रयास करता है। तो व्यक्ति को डिग्री व डिप्लोमा करने के साथ-साथ अन्य कई प्रकार की परीक्षा की तैयारियां भी करनी होती है।

उसी के बाद ही व्यक्ति अच्छी गवर्नमेंट जॉब प्राप्त कर सकता है। जिस तरह से लोगों के मन में Doctor, इंजीनियर बनने का सपना होता है। उसी तरह से लोगों के मन में वकील बनने का भी सपना होता है वकील बनना एक आम बात है। लेकिन वकील कैसे बने यह सवाल हर व्यक्ति के मन में खटकता रहता है। आज क्या आर्टिकल में हम आपको LLB Course Kaise Kare? इसके बारे में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

एलएलबी क्या है ? (LLB kya hai in Hindi)

एलएलबी जो ग्रेजुएशन डिग्री है। यह डिग्री वकील बनने के लिए जरूरी होती है। वकील और कानून की पढ़ाई के लिए सभी विद्यार्थी एलएलबी की डिग्री करते हैं। एलएलबी की डिग्री करने के बाद व्यक्ति कई प्रकार के सरकारी कानून विभाग में अपनी नौकरी प्राप्त कर सकता है। हालांकि मजिस्ट्रेट बनने के लिए और जज बनने के लिए भी न्यूनतम शुरुआत एलएलबी की डिग्री से ही होती है। एलएलबी कोर्स करने के बाद ही आप वकील बन सकते हैं और वकील के तौर पर अनुभव प्राप्त करके आगे मजिस्ट्रेट और जज बन सकते हैं।

एलएलबी ग्रेजुएशन डिग्री दो-तीन साल की होती है। 3 साल में विद्यार्थी के लिए 6 सेमेस्टर उपलब्ध करवाए जाते हैं। विद्यार्थी 3 साल में कुल 6 सेमेस्टर की पढ़ाई करते हुए ग्रेजुएशन डिग्री के तौर पर b.a. एलएलबी की डिग्री प्राप्त कर सकता है।

LLB Full Form In Hindi

अंग्रेजी में प्रयोग होने वाला एलएलबी शब्द प्रचलित शब्द है। लेकिन एलएलबी की फुल फॉर्म के बारे में कई लोगों को जानकारी नहीं है। लोग अक्सर एलएलबी की फुल फॉर्म क्या होती है। इसके बारे में जानकारी लेने के लिए गूगल पर सर्च करते रहते हैं। एलएलबी फुल फॉर्म की बात की जाए तो एलएलबी की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लॉ (Bachelor of law) होता है।

 LLB कोर्स के प्रकार

विद्यार्थियों के मन में एलएलबी कोर्स करने से पहले भी कई सवाल पैदा होते हैं, कि एलएलबी कोर्स कितने प्रकार का होता है। कौन सा कोर्स करना सही रहता है, तो आपको बताना चाहेंगे कि एलएलबी कोर्स दो तरह का होता है। एक 5 साल की अवधि के लिए विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध करवाए जाने वाला एलएलबी कोर्स है और दूसरा 3 साल की अवधि के लिए उपलब्ध होने वाला कोर्स है।

यदि कोई विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास करने के बाद सीधा एलएलबी की डिग्री लेने के लिए एलएलबी कॉलेज में एडमिशन ले लेता है, तो उस विद्यार्थी को 5 साल वाले एलएलबी कोर्स को करना होता है। यानी कि विद्यार्थी को 5 साल में कुल 10 सेमेस्टर की पढ़ाई करते हुए एलएलबी का सर्टिफिकेट हासिल करना होगा।

लेकिन यदि कोई विद्यार्थी ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करने के बाद एलएलबी के लिए अपना आवेदन लगाता है तो ऐसे में विद्यार्थी के लिए 3 साल की अवधि वाला कोर्स उपलब्ध करवाया जाता है।

LLB कोर्स करने के लिए जरूरी योग्यता

कोई भी डिग्री व डिप्लोमा लेने के लिए सबसे पहले विद्यार्थी को मापदंड को पूरा करना होगा। जब एलएलबी कोर्स करने के बारे में विद्यार्थी आगे बढ़ते हैं, तो विद्यार्थियों को सबसे पहले नीचे दी गई निम्नलिखित योग्यता को पूरा करना होगाः

  • 5 साल की अवधि का कोर्ट का चयन करने वाले विद्यार्थियों के पास न्यूनतम योग्यता के लिए 12वीं कक्षा का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है।
  • विद्यार्थी के पास 12वीं कक्षा में न्यूनतम 50% अंक होना जरूरी है।
  • 3 साल की अवधि यह वाला कोट लेना चाहते हैं तो ऐसे में विद्यार्थी के पास न्यूनतम योग्यता के तौर पर विजिट इन की डिग्री होना अनिवार्य है।
  • ग्रेजुएशन में विद्यार्थी के न्यूनतम 50% अंक भी जरूरी किए गए हैं।

एलएलबी कोर्स कैसे करें? (LLB kaise kare in Hindi 2022)

एलएलबी कोर्स जो कानून के क्षेत्र में एक लोकप्रिय कोर्स है वकील से लेकर जज बनने के लिए सभी को एलएलबी का कोर्स करना होता है। एलएलबी कोर्स के माध्यम से विद्यार्थियों को कानून की पढ़ाई करवाई जाती है। जो  विद्यार्थी एलएलबी का कोर्स करना चाहता है। उन विद्यार्थियों को नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करना चाहिएः

1. 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करें

 सर्वप्रथम विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा पास करनी है विद्यार्थी एलएलबी कोर्स के बारे में सोचते हैं, तो उनको सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करते हुए 12वीं कक्षा में 50% अंक लाने होंगे। 50% अंक के बिना आप एलएलबी कोर्स के लिए कॉलेज में एडमिशन नहीं ले पाएंगे। लेकिन यदि आप के 12वीं कक्षा में 50% अंक नहीं है, तो आपको एक मौका मिलता है। आपको ग्रेजुएशन करने के बाद एलएलबी का चयन करना होगा।

2. ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करें

जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा के बाद सीधा एलएलबी कोर्स करने की बजाय किसी भी क्षेत्र में डिग्री लेने की सोचते हैं, तो सबसे पहले उन विद्यार्थियों को ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी चाहिए। दूसरी परिस्थिति ऐसी भी होती है, कि यदि किसी विद्यार्थी के 12वीं कक्षा में 50% अंक नहीं है,  तो उस विद्यार्थी को ग्रेजुएशन की डिग्री लेने के बाद ग्रेजुएशन में न्यूनतम 50% अंक लाने पर एलएलबी कोर्स करने का मौका मिल जाता है। आपको ग्रेजुएशन की डिग्री न्यूनतम 50% अंक के साथ पूरी करनी होगी।

3. एलएलबी कि कॉलेज में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम में भाग लें

कई प्रकार के प्राइवेट और सरकारी कॉलेज में एलएलबी के लिए जो विद्यार्थी एडमिशन लेना चाहते हैं। उन विद्यार्थियों को सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम की प्रक्रिया से गुजारा जाता है। एंट्रेंस एग्जाम में पास होने वाले उम्मीदवारों को कॉलेज में एडमिशन लिया जाता है। हालांकि कई भारत में ऐसे कॉलेज भी है जो बिना किसी एंट्रेंस एग्जाम के सीधा आपको कॉलेज में अनुमति देते हैं। कई कॉलेज ऐसे भी है जो डोनेशन के दम पर आपको सीधा एलएलबी कॉलेज में एडमिशन प्रदान करवा देते हैं।

4. एलएलबी कोर्स करें

एलएलबी की डिग्री लेने के लिए उम्मीदवार को दो रास्ते मिलते हैं। दोनों में से किसी भी रास्ते का चयन करते हुए आप एलएलबी कॉलेज में एडमिशन ले लेते हैं, तो उसके पश्चात आपको अपनी चयनित कोर्स अवधि के अनुसार पढ़ाई करनी होगी और पढ़ाई पूरी करने के बाद एलएलबी का सर्टिफिकेट हासिल करना होगा। इस तरह से आप एलएलबी का कोर्स कर सकते हैं।

DM कैसे बने डीएम से जुड़ी संपूर्ण जानकारी

नोटरी वकील क्या होता है और कैसे बने पूरी जानकारी

APO Exam क्या होता है? हिंदी में पूरी जानकारी

LLB के सब्जेक्ट के बारे में जानकारी

एलएलबी कोर्स यानी कि एलएलबी ग्रेजुएशन में बहुत सारी शाखाएं मौजूद होती है। कानून की पढ़ाई सिर्फ एकता का में सीमित होने वाली पढ़ाई नहीं है कानून की पढ़ाई में अनेक शाखाएं हैं। जिनको सिर्फ एक डिग्री में कवर करना मुश्किल होता है। इसीलिए एलएलबी की सभी शाखाओं में अलग-अलग डिग्रियां होती है, जो उम्मीदवार जिस क्षेत्र में कानून की पढ़ाई करना चाहता है। उस उम्मीदवार को उस विषय में एलएलबी की डिग्री लेनी होती है। एलएलबी के विषय के बारे में नीचे लिस्ट प्रदान करवाई गई हैः

  • लीगल मेथड्स
  • कॉन्ट्रैक्ट्स
  • जुरीसप्रूडेंस
  • कोड ऑफ़ सिविल प्रोसीजर
  • लिटिगेशन एडवोकेसी
  • पोलिटिकल साइंस
  • एलएलबी के कोर्स
  • कारपोरेशन लॉ
  • सिविल लॉ
  • क्रिमिनल लॉ
  • इंटरनेशनल लॉ
  • लेबर लॉ
  • पेटेंट लॉ
  • टैक्स लॉ

LLB करने के बाद कौन सी जॉब मिलती है?

हमारी भारत में एक प्रचलन मुख्य रूप से चलता है, कि जब भी कोई विद्यार्थी कोई डिग्री लेने के बारे में सोचता है, तो उससे पहले उस डिग्री को लेने के बाद कितनी सैलरी मिलेगी। इसके बारे में और उस डिग्री को लेने के बाद कहां नौकरी कर सकते हैं। इसके बारे में सोचना शुरु कर देता है ऐसे में एलएलबी की डिग्री करने के बाद उम्मीदवार कौन से सरकारी पदों पर नौकरी हासिल कर सकता है। इसके बारे में हम आपको नीचे जानकारी प्रदान करवा रहे हैंः

  • Employment Area
  • Banks
  • Business Houses
  • Educational Industries
  • Legal Constancies
  • News channels
  • Newspapers
  • Judiciary
  • Private Practice
  • Selles Tax & Excise Department
  • Job Type
  • Attorney General
  • District & Senses Judge
  • Law Reports
  • Legal Advertiser
  • Magistrate
  • Munsiff (Sub– Magistrate)
  • Notary
  • Commissioner
  • Public Prosecutor
  • Solicitor
  • Law Teacher
  • Trustees

एलएलबी करने के बाद उम्मीदवार को कितनी सैलरी मिल जाती है??

एलएलबी करने के बाद बहुत सारे जॉब के अवसर मौजूद होते हैं और सभी प्रकार की जॉब पर आपको अलग-अलग सैलरी मिलती है। लेकिन एलएलबी के बाद मुख्य तौर पर ज्यादातर लोग वकील बनते हैं और वकील की सैलरी कि यदि बात की जाए तो सरकारी वकील को प्रति महीना ₹45000 दिया जाता है और प्राइवेट वकील प्रति महीना ₹30000 से ₹40000 कमा सकता है। उसके बाद जैसे-जैसे वक्त हालात में आपका अनुभव बढ़ता है, वैसे वैसे आपकी कमाई भी बढ़ती जाती है।

एलएलबी की फीस कितनी होती है?

एलएलबी कोर्स करने वाले सभी उम्मीदवारों को एलएलबी की फीस कितनी होती है। इसके बारे में मुख्य रूप से जानकारी लेनी चाहिए एलएलबी कोर्स की फीस सरकारी कॉलेज में अलग होती है और प्राइवेट कॉलेज में अलग निर्धारित की गई है। सरकारी कॉलेज में एलएलबी की फीस ₹20000 प्रति वर्ष के हिसाब से लगती है। लेकिन प्राइवेट कॉलेज में एलएलबी कोर्स की फीस की बात की जाए तो प्राइवेट कॉलेज में एलएलबी की फीस ₹70000 से लेकर ₹100000 प्रति वर्ष के हिसाब से लग सकते हैं।

भारत में एलएलबी के बेहतरीन कॉलेज

जनसंख्या की आधार पर भारत में हर डिग्री के लिए बहुत सारे कॉलेज मौजूद है। लेकिन एलएलबी की डिग्री के लिए भारत के बेहतरीन कॉलेज की सूची हम आपको नीचे प्रदान कर रहे हैंः

1. National Law School of India University

2. National Law University

3. Nalsar University of Law

4. Indian Institute of Technology Kharagpur

5. National Law University

6. The West Bengal National University of Juridicial Sciences

7. Gujarat National Law University

8. Symbiosis Law School

9. Faculty of Law, Jamia Millia Islamia

10. The Rajiv Gandhi National University of Law

निष्कर्ष

सरकारी नौकरी की इच्छा हर व्यक्ति रखता है और कई ऐसी डिग्रियां होती है, जो आपके लिए कई सारे सरकारी नौकरी के अवसर उपलब्ध करवा देती है। एलएलबी भी एक ऐसी ही डिग्री है। जिसको पूरा करने के बाद अब वकील से लेकर सुप्रीम कोर्ट के जज बनने तक का सफर तय कर सकते हैं। आज के आर्टिकल में हमने आपको एलएलबी कोर्स कैसे करें? इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी।

Leave a Comment