WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

एम फिल क्या है, कैसे करें? 2024 M.Phil में करियर कैसे बनाएं पूरी जानकारी

M Phil कोर्स के बारे में अधिक विद्यार्थियों को जानकारी नहीं है। इसीलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको M Phil Course की पूरी जानकारी बताएंगे, जिसके बाद आपको पता चल जाएगा कि m phil kya hai? M Phil कोर्स करने से क्या होता है? एमफिल कोर्स करने की प्रक्रिया क्या है तथा M Phil कोर्स में क्या क्या सिखाया जाता है? उसके बाद आप यह तय कर पाएंगे कि M Phil कोर्स आपको करना चाहिए या नहीं, क्या आप के लिए M Phil कोर्स बेहतरीन साबित हो सकता है या नहीं। साथ ही आप M Phil कोर्स के बारे में पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक प्राप्त कर लेंगे और M Phil कोर्स को करने के बाद होने वाले फायदों के बारे में भी जान लेंगे, तो आपके लिए आगे का रास्ता चुनना काफी आसान हो जाएगा।

दुनिया भर में फिलोसोफी पढ़ाई जाती है क्योंकि दुनिया के हर देश का अपना एक इतिहास रहा है। अपना एक धर्म रहा है। उस देश के विद्वानों ने सदियों से ही विभिन्न प्रकार की खोज की है। विभिन्न प्रकार के उद्देश्य और नियमों पर चलते हुए एक नई समाज को पेश किया है। लंबे समय तक धर्म ने समाज को चलाया है और सभी के अपने-अपने धर्म होते थे। वर्तमान समय में दुनिया भर में फिलॉसफी के विभिन्न प्रकार के कोर्स देखने को मिल जाते हैं। विभिन्न प्रकार की पुस्तकें देखने को मिल जाती है। इन पुस्तकों को एक आम आदमी के लिए पढ़ना बहुत जरूरी है। ज्ञान के साथ-साथ वर्तमान समय में आप फिलॉसफी के इस कोर्स को करके विभिन्न क्षेत्रों में वित्तीय रूप से सफल भी हो सकते हैं और विभिन्न प्रकार के कार्य कर सकते हैं।

M Phil Kya Hai? (M phil Meaning in Hindi)—

m phil kya hai

M.Phil का फुल फॉर्म Master of Philosophy होता है और हिंदी में फ़िलॉसफ़ी के तहत मास्टर की डिग्री हासिल करना होता है। आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि एम.फिल एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है। किसी भी स्ट्रीम जैसे साइंस, कॉमर्स, ह्यूमैनिटीज, लॉ के छात्र टीचिंग कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स को आप 2 साल में पूरा कर सकते हैं। इस कोर्स के अंतर्गत विद्यार्थियों को प्रैक्टिकल के साथ-साथ थ्योरी भी पढ़ाई जाती है। जिससे विद्यार्थियों को इस विषय में रुचि आने लगती है और वे आगे के चैप्टर को पढ़ने के लिए उत्सुक रहते हैं बता देते हैं कि इस विषय में रिसर्च भी करनी होती है और उसे प्रकाशित भी करना होता है। M Phil कोर्स करने के बाद अपने सब्जेक्ट में पीएचडी भी कर सकते हैं।

M Phil कोर्स करने के फायदे —

M Phil कोर्स के अंतर्गत निर्धारित किए गए पाठ्यक्रम को लंबे समय से एक मास्टर डिग्री और पीएचडी कार्यक्रम के बीच एक क्रॉस के रूप में देखा गया है। यह पाठ्यक्रम उम्मीदवारों को विभिन्न प्रकार के निर्माण विभिन्न प्रकार के अनुसंधान की बारीकियों के बारे में ज्ञान देता है। विभिन्न प्रकार के विषय के बारे में छात्रों के मस्तिष्क को प्रशिक्षित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस विषय के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के अनुसंधान कौशल को सिखाया जाता है। विभिन्न प्रकार के बड़े पैमाने पर ज्ञान को प्रदर्शित किया जाता है। इसीलिए यह पाठ्यक्रम और यह काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। अगर आप इस परीक्षा को करते हैं तो एक सफल व्यक्ति बन जाते हैं साथ ही आपकी बुद्धि का विकास हो जाता है।

M Phil कोर्स को करने के बाद आप अच्छे वेतन और अन्य विभिन्न प्रकार की सुविधाएं भी प्राप्त कर सकते हैं। बता देते हैं कि एमफिल कोर्स को आप अधिकतम ₹200000 खर्च करके कर सकते हैं। लेकिन उसके बाद आप प्रतिवर्ष ₹600000 तक भी आसानी से कमा सकते हैं। इस कोर्स के अंतर्गत इस तरह का ज्ञान दिया जाता है कि उम्मीदवार बहुत ही जल्द पढ़ाई में अपना निवेश पाकर सक्षम हो जाते हैं। M Phil उम्मीदवार डेंटल चेक अप Medical Insurance इत्यादि लाभ के भी हकदार होते हैं। इसके अलावा और भी अनेक प्रकार की सुविधाओं को प्राप्त कर सकते हैं और अपनी बुद्धि का विकास करके जीवन में काफी आगे बढ़ सकते हैं।

M Phil कोर्स को करने के बाद उम्मीदवार को नौकरी की सुरक्षा मिल जाती है क्योंकि यह एक महत्वपूर्ण और विशेष कोर्स है, जिस उम्मीदवार ने अपना एमफिल कोर्स पूरा कर लिया है। वह आमतौर पर शिक्षण व्यवसाय या अनुसंधान सुविधाओं में कार्यरत हो जाता है। शिक्षक की नौकरी की भूमिका में लग जाता है और इस तरह की नौकरियां भारत में सबसे सुरक्षित मानी जाती है। वर्ष 2018 में भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने भारत में शैक्षणिक स्तरों पर सभी शिक्षकों के लिए नौकरी की सुविधा पर जोर दिया था। इसीलिए अगर आप इस कोर्स को करते हैं तो यहां पर आपको नौकरी की सुरक्षा भी देखने के लिए मिल जाती है।

आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि M Phil कोर्स करने के बाद बड़ी संख्या में ऐसे उम्मीदवार निकलते हैं जिनमें विशेषज्ञ की भांति ज्ञान होता है। वह अपने ज्ञान को दूसरे लोगों के साथ शेयर करते हैं। विभिन्न प्रकार के प्रोग्राम आयोजित करते हैं विभिन्न प्रकार के अनुसंधान में काम करते हैं। शैक्षणिक संस्थान में काम करते हैं या एक अध्यापक की तरह विद्यार्थियों को पढ़ा कर अपना ध्यान देते हैं। इस कोर्स को करने के बाद उम्मीदवार के मस्तिष्क की क्षमता बढ़ जाती है। सोचने की क्षमता बढ़ जाती है जिसके बाद उसे आसानी से कोई भी व्यक्ति बेवकूफ नहीं बना सकता। वर्तमान समय में भारत में बड़े पैमाने पर लोग इस कोर्स का चयन कर रहे हैं।

वर्तमान समय में इस कोर्स को करने वाले उम्मीदवारों को जनता के अवसर भी देखने को मिल रहे हैं। बता देते हैं कि इस कोर्स को करने के बाद अधिकतर उम्मीदवार शिक्षण के क्षेत्र में जाते हैं और वर्तमान समय में आपको देखने को मिल जाता है कि शिक्षण का क्षेत्र कितना बड़ा हो चुका है। यहां पर विभिन्न प्रकार के पद और विभिन्न प्रकार की नौकरियां देखने को मिल जाती है। यहां पर अपने आईडिया से आपने उद्योग स्थापित कर सकते हैं और करोड़ों रुपए की कंपनियां खड़ी कर सकते हैं। इसके अलावा विद्यार्थियों को ट्यूशन पढ़ाने के लिए भी विभिन्न प्रकार की कंपनियां वर्तमान समय में आ चुकी है। तो आज के समय में शिक्षा क्षेत्र में इस कोर्स को करने के बाद काफी अच्छा स्कोप देखने को मिल जाता है।

M Phil Subjects List in Hindi 2024—

एमफिल कोर्स में एक से अधिक विषय हैं। इन अलग-अलग विषयों के आधार पर एमफिल कोर्स को कराया जाता है, जिसमें आपको फिलॉसफी पढ़ाया जाता है इसमें एजुकेशन से लेकर इकोनामिक और मैनेजमेंट से लेकर इंग्लिश तथा साइकोलॉजि भी शामिल है। तो एमफिल कोर्स के लिए निर्धारित किए गए सब्जेक्ट इस प्रकार है —

  • MPhil in Psychology
  • MPhil in Economics
  • MPhil in Management
  • MPhil in English
  • MPhil in Education

M Phil के लिए योग्यता —

एमफिल कोर्स को करने के लिए कुछ योग्यताएं निर्धारित की गई है। इन पात्रता के आधार पर कोई भी उम्मीदवार एमफिल कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है और एमफिल कोर्स को करके जीवन में सफल हो सकता है। अगर आप भी इस कोर्स को करना चाहते हैं तो एमफिल कोर्स के लिए निर्धारित की गई योग्यता को देख लीजिए —

  • आवेदक का किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं कक्षा पास होना चाहिए।
  • आवेदक किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा को किसी भी स्ट्रीम से पास कर सकता है।
  • उम्मीदवार किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त कर सकता है।
  • लेकिन 12वीं कक्षा पास करने के बाद स्नातक की डिग्री का होना आवश्यक है।
  • एमफिल कोर्स करने के लिए स्नातक डिग्री 55% अंक के साथ प्राप्त करनी होगी।
  • इस कोर्स के लिए आवेदन करने वाले आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को 5% की छूट मिल जाती है।
  • NET, SET या GATE जैसी परीक्षाएं करने के बाद भी न्यूनतम निर्धारित संख्या में कुछ छूट है।
  • बता देना कि इस कोर्स के लिए आवेदन करने की कोई उम्र सीमा निर्धारित नहीं की गई है।
  • एमफिल करने की कोई उम्र सीमा नहीं है।
  • कुछ शिक्षण संस्थानों द्वारा या कभी-कभी इस कोर्स के लिए GPA की आवश्यकता होती है।
  • कुछ विश्वविद्यालयों द्वारा स्नातक के लिए एसएटी/एसीटी को निर्धारित किया गया है।
  • मास्टर और जीमेट स्कोर भी प्रबंधन पाठ्यक्रमों के लिए आवश्यक हो सकता है।
  • कुछ विश्वविद्यालय ऐसे छात्रों को ही स्वीकार करते हैं जिनका संबंधित क्षेत्र में पिछला कार्य अनुभव रहा हो।

M Phil आवेदन प्रक्रिया —

एमफिल कोर्स के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया काफी आसान है। आपको घर बैठे इंटरनेट की मदद से ऑनलाइन ही अपने मोबाइल फोन से एमफिल कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं तो आइए जानते हैं —

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले एक विश्वविद्यालय का चयन करें।
  • अब उस विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंचे।
  • ऑफिशल वेबसाइट पर पंजीकरण करके अपना अकाउंट बनाएं।
  • वेबसाइट पर अकाउंट बनाने के बाद username और password प्राप्त होगा।
  • अब वेबसाइट पर यूजर नेम और पासवर्ड की मदद से log on करें।
  • अब वेबसाइट पर दर्शाए गए सभी को समय से अपने कोर्स का चयन करें।
  • अब आपके सामने एक आवेदन फार्म ओपन हो जाएगा।
  • अब इस आवेदन फार्म को सही ढंग से भरे।
  • आवेदन फार्म में पहुंची हुई सभी जरूरी जानकारी जैसे शैक्षणिक योग्यता, नाम, पता, श्रेणी इत्यादि दर्ज करें।
  • अब एक बार आवेदन फार्म की जांच कर लें और जमा करें।
  • अब आवश्यक पर जरूरी दस्तावेजों के साथ आवेदन फार्म को सबमिट कर दें।
  • अब आपको आवेदन के लिए निर्धारित किए गए शुल्क का भुगतान करना होगा।
  • शुल्क ऑनलाइन माध्यम से भुगतान कर सकते हैं जिसके लिए आप को विभिन्न तरह के विकल्प मिल जाते हैं।
  • अगर प्रवेश परीक्षा बरही आवेदन दिया जाता है तो आपको पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्टर करना होगा।
  • रजिस्टर करने के बाद परीक्षा के लिए जाना होगा।
  • परीक्षा में पास होने और मेरिट में स्थान बनाने पर ही आवेदन स्वीकार किया जाएगा।
  • अगर प्रवेश परीक्षा नहीं है तो आपको आवेदन की तिथि देखने को मिल जाएगी।
  • निर्धारित तारीख को विश्व विद्यालय पहुंचकर कोर्स में भाग ले।

People Also Read:-

बिना निवेश छात्र ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए असली तरीके जानिए

साइकोलॉजिस्ट क्या होता है कैसे बने?

कॉलेज में प्रोफेसर कैसे बनते हैं पूरी जानकारी

Fellowship, Scholarship और Internship इन तीनों में क्या अंतर होता है?

Conclusion

तो इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक अंत तक पढ़ने के बाद आपको पता चल जाएगा कि M Phil एग्जाम क्या होता है? और एमफिल एग्जाम कैसे पास करते हैं? एम फिल एग्जाम के लिए कौन-कौन सी योग्यता निर्धारित की गई है? किस तरह से M Phil एग्जाम के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होता है? इत्यादि संपूर्ण जानकारी आज के इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार पूर्वक बता चुके हैं। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए जरूरी उपयोगी साबित हुई होगी। अगर आपका इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम पूरी कोशिश करेंगे कि आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न का जल्द से जल्द उत्तर दे सकें।