WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

MD क्या होता है? M.D Full Form से Salary 2024 पूरी जानकारी।

आज के समय में संपूर्ण दुनिया के लिए Doctor कितना महत्वपूर्ण पद है। यह दुनिया का प्रत्येक व्यक्ति भली भांति जानता है क्योंकि Doctor भगवान का रूप होता है। Doctor अपनी सूझबूझ से तथा अपने ज्ञान कौशल से मरीज का जीवन बचाता है, उसका उपचार करता है उसे स्वस्थ करता है। इसीलिए डॉक्टर को भगवान का रूप माना जाता है। Doctor विभिन्न प्रकार के होते हैं आज के समय में बढ़ती तकनीकी तथा बढ़ते विकास के मार्ग की राह पर चलकर विभिन्न प्रकार की पढ़ाई के आधार पर तरह-तरह के डॉक्टर के पद बन चुके हैं। यहां पर अच्छी सैलरी दी जाती है तथा मान सम्मान मिलता है। इसीलिए वर्तमान समय में अधिकांश युवा Medicine Doctor बनना चाहते हैं।

MD (Doctor of Medicine) अहम भूमिका निभाता है क्योंकि उन्हें दवाइयां से संबंधित ज्ञान दिया जाता है तथा विभिन्न प्रकार की छोटी बड़ी बीमारियां का इलाज करना सिखाया जाता है। इस आधार पर मेडिसिन डॉक्टर दूरदराज के क्षेत्रों में ग्रामीण क्षेत्रों में है तथा छोटे-छोटे कस्बों में रहकर लोगों की सेवा करता है। इसीलिए इस पद को अत्यधिक महत्वता दी जाती है और यहां पर अच्छी सैलरी मिलती है। इसके अलावा सरकारी पद पर सरकार की तरफ से विभिन्न प्रकार की सुविधाएं मिलती हैं। आज के समय में प्राइवेट अस्पताल में भी तरह-तरह की सुविधाएं और अच्छी सैलरी दी जाती है। इसलिए अधिकांश युवा Medicine Doctor बनना चाहते हैं।

Medicine Doctor की demand आज के समय में इसीलिए बढ़ रही है क्योंकि आज के समय में लगातार बढ़ रही जनसंख्या के कारण तरह तरह की बीमारियां और तरह तरह के रोग उत्पन्न हो रहे हैं। जिस वजह से प्रत्येक वस्तु की तरह मेडिसिन की डिमांड भी बढ़ रही है और मेडिसिन की जानकारी प्रदान की जाने वाले डॉक्टर की डिमांड भी बढ़ रही है। ऐसी स्थिति में अगर आप समय रहते मेडिसिन डॉक्टर की पढ़ाई करते हैं और मेडिसिन डॉक्टर बनते हैं तो यह आपके लिए एक बेहतरीन करियर विकल्प हो सकता है तो आइए जानते हैं कि Medicine Doctor क्या होता है और मेडिसिन डॉक्टर कैसे बनते हैं।

MD Kya Hota Hai? (What is MD in Hindi)

MD kya hota hai

MD ka full form “डॉक्टर ऑफ़ मेडिसिन (Doctor of Medicine)” होता है। इसे हम आसान भाषा में इस तरह से कह सकते हैं कि दवाइयों का डॉक्टर क्योंकि इस डील के तहत दवाइयों की जानकारी दी जाती है तथा विशेष रूप से छोटी-बड़ी और सामान्य बीमारियां की समस्या से निपटने का ज्ञान भी दिया जाता है। लेकिन विशेष रूप से दवाइयों की जानकारी होती है। इसीलिए वह डॉक्टर छोटी बड़ी बीमारियों के लक्षण पहचान कर उन्हें संबंधित दवाई दे देता है जिससे उनका उपचार हो जाता है और वह मरीज ठीक हो जाता है।

अक्सर हमें दूरदराज के क्षेत्रों में नगरीय क्षेत्रों में ग्रामीण क्षेत्रों में इस तरह के इलाकों में है। मेडिसिन डॉक्टर ही देखने को मिलते हैं, जो छोटी-बड़ी तथा सामान्य बीमारियों के लक्षण देखकर उससे संबंधित दवाई देकर मरीज का इलाज कर लेते हैं। वर्तमान समय में बढ़ती जनसंख्या के कारण हर जगह इस तरह के डॉक्टर की demand बढ़ रही है। इसीलिए देश में विभिन्न प्रकार के इस तरह के Doctor बनने वाले कोर्स भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। तरह-तरह के कोर्स के साथ मेडिसिन ऑफ डॉक्टर का कोर्स भी लोकप्रिय हो रहा है।

दवाइयां तथा सामान्य बीमारियों से संबंधित यह कोर्स 3 वर्ष का होता है। इसमें विभिन्न प्रकार का पाठ्यक्रम शामिल है। 6 भाग के अनुसार 3 वर्ष में इस कोर्स को पूर्ण करवाया जाता है इस कोर्स को पूर्ण करने के बाद व्यक्ति दवाइयों का डॉक्टर बन जाता है इस कोर्स के तहत पाठ्यक्रम में मुख्य रूप से – प्रैक्टिकल, मौखिक परीक्षा, सेमिनार, व्याख्यान, थीसिस, थ्योरी पेपर्स, प्रयोगशाला में भागीदारी और प्रायोगिक कार्य, जर्नल क्लब, ग्रुप डिस्कशन इत्यादी सम्मिलित हैं।

MD कैसे बनें? (MD Full Details in Hindi)

Medicine Doctor बनने के लिए आपको निर्धारित किया गया course पूरा करना होगा। इस कोर्स के अंतर्गत आपको विभिन्न प्रकार का ज्ञान दिया जाएगा तथा इस कोर्स के अंतर्गत आपको प्रैक्टिकल रूप से प्रयोग करके बताए जाएंगे। बीमारियों का इलाज करके बताया जाएगा और आपके हाथों से भी आपको कार्य करके बताया जाएगा, जिसके बाद ट्रेनिंग पूरी करके अनुभव के आधार पर आपको Medicine Doctor बना दिया जाएगा। यह 1 डिग्री होती है जिसे पूरी करने के बाद उपाधि में बदल दिया जाता है तो Doctor of Medicine की Degree कैसे करेंगे? आइए जानते हैं —

1. सबसे पहले 12वीं पास करें —

अगर आप शुरुआती समय से ही Doctor of Medicine की Degree हासिल करना चाहते हैं और डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले बारहवीं कक्षा Physics, Chemistry, Biology अथवा अंग्रेजी विषय से पास करनी होगी। बारहवीं कक्षा के अंतर्गत आप को कम से कम 50% से 60% अंक प्राप्त करने होंगे। तभी आप आगे मेडिसिन ऑफ डॉक्टर की डिग्री हासिल कर पाएंगे और MD बन सकेंगे।

2. MBBS या BHMS करें —

बारहवीं कक्षा पूर्ण करने के बाद MBBS या BHMS की पढाई पूरी करनी होगी या पढ़ाई 5 वर्ष में पूरी होती है। अब आपको मेडिसिन ऑफ डॉक्टर की डिग्री हासिल करने से पहले एक Entrance Exam देना होगा, जो आपकी योग्यता को सिद्ध करेगा इस एंट्रेंस एग्जाम के अंदर आने वाले अंकों के आधार पर तथा आप अपनी रूचि के आधार पर मेडिकल कॉलेज में प्रवेश ले सकते हैं।

3. MD की पढाई पूरी करें —

Doctor of Medicine की पढ़ाई बेहतरीन कॉलेज में करेंगे, तो यह आपके लिए बेहतर रहेगा। इसके लिए आपको Entrance Exam में अधिक से अधिक अंक प्राप्त करने होंगे। उस आधार पर आपको बेहतरीन कॉलेज में Admission दिया जाएगा। बेहतरीन कॉलेज से MD Course पूर्ण करने के बाद आप एक बेहतरीन Medicine Doctor बन जाते हैं। जहां आपके सामने विभिन्न प्रकार के कैरियर विकल्प मौजूद होते हैं।

MD Course के लिए योगयता (MD Doctor Eligibility in Hindi 2024)

MD Course करने के लिए कुछ योग्यताएं निर्धारित की गई है,  जिसके आधार पर कोई भी विद्यार्थी एवं रिकॉर्ड कर सकता है। यह योग्यता इस बात का प्रमाण है कि MD Course करने वाला विद्यार्थी योग्य है या नहीं! क्योंकि बिना योग्यता के आधार पर प्रवेश दिए जाने पर उस विद्यार्थी का और शिक्षण संस्थान का भी 3 वर्ष का समय व्यर्थ चला जाएगा। इसीलिए पहले ही योग्यता सिद्ध कर ली जाती है और उसके बाद उसे अच्छी तरह से एमडी का कोर्स करवाया जाता है। ताकि वह एक बेहतरीन Medicine Doctor बन सकें —

  • सबसे पहले 50% अंकों के साथ दसवीं कक्षा पूर्ण करें।
  • अब मान्यता प्राप्त किसी भी बोर्ड से 12वीं कक्षा पास करें।
  • बारहवीं कक्षा के अंदर कम से कम 50% से 60% अंक प्राप्त होने चाहिए।
  • 12th क्लास Chemistry, Biology, Physics और अंग्रेजी विषय के अंतर्गत पास होनी चाहिए।
  • अब विद्यार्थी को MBBS या BHMS का कोर्स करना होगा।
  • MBBS या BHMS कोर्स के अंतर्गत अच्छी रैंक प्राप्त करना जरूरी है।
  • अब MD का कोर्स करने के लिए आवेदन करें।

MD Course के विषय —

एमडी कोर्स बहुत बड़ा कोर्स है इसके अंदर विभिन्न प्रकार के विषय आते हैं जिसके अंदर आप particular किसी भी विषय पर Doctor बन सकते हैं। संपूर्ण दुनिया में मेडिसिन विभाग बहुत बड़ा है। इसके अंतर्गत आपको प्रत्येक विषय के अनुसार गहराई से जानकारी प्रदान की जाती है जिससे आप एक बेहतरीन मेडिसिन डॉक्टर बन जाते हैं। मेडिसिन डॉक्टर बनने के कोर्स के अंतर्गत आने वाले विषय निम्नलिखित हैं —

  • कार्डियोलॉजी (Cardiology)
  • क्लीनिकल हेमाटोलोग्य (Clinical Hematology)
  • क्लीनिकल फार्माकोलॉजी (Clinical Pharmacology)
  • एंडोक्रिनोलोग्य (Endocrinology)
  • गैस्ट्रोएंटरोलॉजी (Gastroenterology)
  • मेडिकल गैस्ट्रोएंटरोलॉजी (Medical Gastroenterology)
  • मेडिकल ऑन्कोलॉजी (Medical Oncology)
  • नोनटोलोग्य (Neonatology)
  • नेफ्रोलॉजी (Nephrology)
  • न्यूरोलॉजी (Neurology)
  • न्यूरो रेडियोलोजी (Neuro Radiology)
  • पल्मोनरी मेडिसिन (Pulmonary Medicine)
  • रहेउमाटोलोग्य ( Rheumatology)

MD बनने के बाद Job Profiles—

वर्तमान समय में Medicine Doctor विभिन्न प्रकार के दवाइयों के साथ तरह-तरह की सामान्य और छोटी बड़ी बीमारियों का इलाज करता है। इसलिए इन्हें आमतौर पर विभिन्न प्रकार के जॉब प्रोफाइल देखने के लिए मिल जाते हैं। वर्तमान समय में एमडी बनने के बाद सरकारी अस्पताल प्राइवेट अस्पताल इसके अलावा Online भी अपना खुद का Clinic खोल सकते हैं। जहां पर लोगों से Online Appointment लेकर उनका उपचार किया जा सकता है। एमडी बनने के बाद कौन-कौन से सत्र में job profile देखने को मिलते हैं नाम निम्नलिखित हैं —

  • Hospitals
  • Laboratories
  • Medical Collages
  • Medial Foundation
  • Non-Profit Organization
  • Nursing Homes
  • Employment Area
  • Biomedical Companies
  • Health Centres
  • जनरल सर्जन
  • गयनेकोलॉजिस्ट
  • हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेटर
  • जॉब टाइप
  • एनेस्थेटिस्ट और अनेस्थेसिओलॉजिस्ट्स
  • बक्टेरिओलॉजिस्ट
  • कार्डियोलॉजिस्ट
  • चिरोपोडिस्ट
  • चीफ मेडिकल अफसर
  • क्लीनिकल लेबोरेटरी साइंटिस्ट
  • डर्मेटोलॉजिस्ट
  • एन्टेरोलॉजिस्ट
  • गैस्ट्रोएन्टेरोलॉजिस्ट
  • जनरल प्रैक्टिशनर
  • फिजिशियन
  • फिजियोलॉजिस्ट
  • फार्मास्यूटिकल एंड बायोटेक्नोलॉजी कम्पनीज
  • पॉलीक्लीनिक्स
  • रेडियोलाजिस्ट
  • प्राइवेट प्रैक्टिस
  • रिसर्च इंस्टीटूट्स

People Also Read:-

नर्सिंग कोर्स क्या है और नर्स कैसे बने?

BDS क्या होता है और Dental Doctor कैसे बने? पूरी जानकारी।

Veterinary क्या होता है और जानवरों का डॉक्टर (Veterinary Doctor) कैसे बने?

नीट एग्जाम क्या होता है पूरी जानकारी?

Conclusion

MD का अर्थ होता है मेडिसिन ऑफ डॉक्टर यानी कि दवाइयों का डॉक्टर। जिसकी आज के समय में बड़ी डिमांड देखने को मिलती है। इस पद पर कार्यरत डॉ को अच्छी सैलरी दी जाती है तथा विभिन्न प्रकार के करियर ऑप्शन और जॉब प्रोफाइल देखने के लिए मिल जाते हैं। इसीलिए आज के अधिकांश युवा मेडिसिन ऑफ डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको पूरी जानकारी विस्तार से बता चुके हैं। हम उम्मीद करते हैं कि यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं। आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न का उत्तर हम अवश्य देंगे। अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

Leave a Comment