PGDCA क्या होता है? | PGDCA Course Details In Hindi 2023

जो व्यक्ति कंप्यूटर के क्षेत्र में अपने भविष्य को बनाना चाहता है। उस उम्मीदवार के पास PGDCA Course करना एक बेहतरीन विकल्प माना जा सकता है। क्योंकि DCA Course करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन के तौर पर पीजीडीसीए कोर्स करना आपके ग्रेजुएशन लेवल को बढ़ा देगा और आपके कंप्यूटर के क्षेत्र में मजबूती प्रदान करवाने में भी मदद करेगा।

PGDCA कोर्स करने के बाद आप प्राइवेट और सरकारी नौकरी हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा अपना खुद का बिजनेस खोलने में अभी समर्थ हो सकते हैं। PGDCA कोर्स क्या होता है और PGDCA कोर्स कैसे करें इसके बारे में डिटेल में जानकारी आज के इस आर्टिकल में हम आपको देने का प्रयास करेंगे।

PGDCA Kya Hai?

PGDCA एक Post Graduation Diploma Course है जो DCA diploma करने के बाद मास्टर डिग्री के तौर पर या मास्टर डिप्लोमा के तौर पर प्रदान कराया जाता है। इसके लिए न्यूनतम योग्यता डीसीए डिप्लोमा होना अनिवार्य है। डीसीए डिप्लोमा करने के बाद विद्यार्थियों के लिए 1 वर्षीय पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा जिसे पीजीडीसीए कहा जाता है।

यह डिप्लोमा जो आपको कंप्यूटर के क्षेत्र में और अधिक परफेक्ट बनाने में मदद करता है। क्योंकि डीसीए डिप्लोमा में आप कंप्यूटर के बारे में बेसिक जानकारी हासिल करते हैं। लेकिन PGDCA डिप्लोमा में आप कंप्यूटर के बारे में एडवांस लेवल का ज्ञान हासिल कर सकते हैं।

PGDCA Full Form क्या है?

PGDCA ka full form Post Graduate Diploma In Computer Application होता है। PGDCA full form in Hindi पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स होता है।

PGDCA Course करने के लिए जरूरी योग्यता

जो उम्मीदवार PGDCA कोर्स करना चाहता है उस उम्मीदवार के पास जरूरी योग्यता के तौर पर दीजिए कि ग्रेजुएशन डिग्री होना अनिवार्य है। मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन डिग्री के तौर पर डीसीए डिप्लोमा कोर्स यह कंप्यूटर का कोई भी डिग्री होना जरूरी है।

यदि आपके डिप्लोमा व डिग्री में अच्छे अंक है। तो आपको PGDCA कोर्स करने के लिए बेहतर कॉलेज मिल जाएगा। PGDCA कोर्स करने के लिए ग्रेजुएशन पूरा करना सबसे मुख्य योग्यता के तौर पर माना जाता है।

PGDCA Diploma का Syllabus क्या होता है? PGDCA Me Kitne Subject Hote Hai

PGDCA Diploma 1 साल का होता है। इसे पोस्ट ग्रेजुएशन डीसीए डिप्लोमा भी कहते हैं। इस डिप्लोमा में कुछ सब्जेक्ट को निर्धारित किया गया है। हालांकि यह सब्जेक्ट DCA Diploma के समान ही है। लेकिन इन subjects में आपको advance लेवल का पाठ्यक्रम पढ़ने का मौका मिलता है। PGDCA Diploma Syllabus की जानकारी नीचे दी गई हैः

  • इंटरनेट और ई-कॉमर्स
  • प्रोग्रामिंग लैंग्वेज
  • डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम
  • वेब डिजाइनिंग
  • एचटीएमएल और सीएसएस
  • इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी
  • सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट
  • एमएस ऑफिस
  • प्रोजेक्ट वर्क
  • Tally
  • एमएस एक्सेस
  • फंडामेंटल ऑफ कंप्यूटर
  • ऑपरेटिंग सिस्टम
  • Window और DOS

PGDCA Diploma कैसे करे? (PGDCA Course Details In Hindi 2023)

अब बात आती है PGDCA डिप्लोमा कैसे करें तो इसके लिए आपको नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करना चाहिएः

  • सर्वप्रथम आपको ग्रेजुएशन कोर्स करने के बाद पीजीडीसीए कोर्स के लिए किसी भी विश्वविद्यालय में आवेदन करना होगा जो पीजीडीसीए डिप्लोमा कोर्स उपलब्ध कराता है।
  • कई विश्वविद्यालय में पीजीडीसीए कोर्स करने के लिए एडमिशन से पहले एक प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है। आपको इस प्रवेश परीक्षा से गुजरना होगा।
  • प्रवेश परीक्षा में पास होने के बाद आपको पीजीडीसीए कोर्स करने के लिए कॉलेज मिल जाएगा।
  • अब आपको 2 Semester यानी कि 1 साल की अवधि के लिए अच्छे से पढ़ाई करते हुए पीजीडीसीए सिलेबस को पढ़ना है और सर्टिफिकेट हासिल करना है।
  • अब आप इस तरह से PGDCA Course का diploma certificate हासिल कर सकते हैं।

पीजीडीसीए डिप्लोमा की फीस कितनी होती है?

PGDCA diploma वाले उम्मीदवार के मन में हमेशा diploma करने में कितना खर्चा आएगा इसके बारे में कई सवाल पैदा होते रहते हैं। क्योंकि आर्थिक तंगी की वजह से अधिक पैसे खर्च ज्यादातर लोग नहीं कर पाते हैं। PGDCA computer course करने के लिए अलग-अलग संस्थाओं की अलग-अलग फीस निर्धारित होती है। क्योंकि सभी कॉलेज में एक समान फीस नहीं होती है।

लेकिन फिर भी पीजीडीसीए कोर्स करने की अनुमानित fees का idea लगाया जाए, तो पीजीडीसीए कोर्स करने की अनुमानित फीस ₹15000 से लेकर ₹35000 के बीच होती है। कई प्राइवेट कॉलेज में इससे अधिक भी पीजीडीसीए कोर्स की फीस हो सकती है।

PGDCA Diploma करने के बाद Career के Option

PGDCA डिप्लोमा करने के बाद आप कंप्यूटर के क्षेत्र में मास्टर डिप्लोमा हासिल कर लेते हैं और मास्टर डिप्लोमा हासिल करने वाले उम्मीदवार को कई क्षेत्रों में अलग-अलग तरह से नौकरी के सुनहरे अवसर मिलने शुरू हो जाते हैं। पीजीडीसीए डिप्लोमा के बाद विद्यार्थी कौन से क्षेत्र में नौकरी प्राप्त कर सकता है और विद्यार्थी को कौन-कौन सी नौकरियां मिल सकती है। इसकी सूची हम आपको नीचे प्रदान कर रहे हैंः

  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • कंप्यूटर ऑपरेटर
  • प्रोजेक्ट मैनेजर
  • आईटी सलाहकार
  • इंटरफ़ेस इंजीनियर
  • जावा डेवलपर
  • सूचना सुरक्षा विश्लेषक
  • कंप्यूटर प्रोग्रामर और विश्लेषक

यह भी देखें:-

छात्रवृत्ति (Scholarship) क्या है कैसे प्राप्त करते हैं?

बेरोजगारी भत्ता क्या होता है कैसे मिलता है?

Computer Engineer कैसे बने पूरी जानकारी?

Blockchain Engineer क्या होता है कैसे बने?

सरकारी इंजीनियर क्या होता है कैसे बनते हैं?

PGDCA Diploma करने के बाद उम्मीदवार की सैलरी

हर विद्यार्थी डिप्लोमा लेने के बाद सैलरी का आकलन सबसे पहले करता है। उम्मीदवार को सैलरी के लिए ही अपने करियर को बनाने की चाहत होती है। ताकि वह उस पद पर नौकरी लेकर अच्छे पैसे कमा सके पीजीडीसीए डिप्लोमा करने के बाद आप कंप्यूटर के क्षेत्र में मास्टर डिप्लोमा धारी उम्मीदवार बन जाते हैं और ऐसे में आपको अच्छी सैलरी भी मिल जाती है।

PGDCA डिप्लोमा वाले उम्मीदवार को सॉफ्टवेयर इंजीनियर से लेकर कंप्यूटर प्रोग्रामर तक सभी पदों पर अनुमानित सैलरी ₹40000 से लेकर ₹60000 तक मिल जाती है। इसके अलावा आप अपने अनुभव और टैलेंट के दम पर अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

निष्कर्ष

अपने करियर को लेकर लाखों लोग विचलित हो जाते हैं। 12वीं कक्षा पास करने के बाद लोगों को समझ नहीं आता है। कि अब हमें क्या करना चाहिए लेकिन आज के तकनीकी दौर में सरकारी सेक्टर से अधिक जॉब और कमाई के ऑप्शन प्राइवेट सेक्टर में मौजूद है।

कंप्यूटर आज के समय का सबसे लोकप्रिय करियर ऑप्शन बन चुका है। कंप्यूटर में बहुत सारे पद है जो प्राइवेट सेक्टर में मौजूद है और उन पदों पर नौकरी हासिल करके आप अच्छे पैसे कमा सकते हैं। आज के आर्टिकल में हमने आपको कंप्यूटर के पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा यानी कि PGDCA kya hai और PGDCA डिप्लोमा कोर्स कैसे करें ? इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी।

Leave a Comment