WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

PGDM क्या है? PGDM Full Form से Scope की पूरी जानकारी 2024

Management Field के अंतर्गत विद्यार्थी खासतौर से करियर बनाने के लिए सोचते रहते हैं। मैनेजमेंट के क्षेत्र में MBA के अलावा PGDM kya hai जो विद्यार्थी के भविष्य को पूरी तरह से सुरक्षित करने की क्षमता रखता है। आज के आर्टिकल में हम आपको पीजीडीएम कोर्स क्या है? PGDM Course details in Hindi 2024 के बारे में जानकारी देंगे।

हर विद्यार्थी अपने करियर को संवारने के लिए प्रयास करता है। करियर बनाने के लिए उन विद्यार्थियों का प्रयास हमेशा से ही बेहतरीन रहता है जो विद्यार्थी दिन प्रतिदिन मेहनत भी करते हैं। विद्यार्थी के लिए सबसे पहले अपने करियर में सेटल होना महत्वपूर्ण रहता है। करियर बनाने के बहुत सारे अलग-अलग क्षेत्र है। जहां पर विद्यार्थी अपना करियर बना सकता है। आइए PGDM (Post Graduate Diploma in Management) की पढ़ाई के बारे में और ज्यादा बेहतर तरीके से समझते हैं।

PGDM Kya Hai और PGDM Full Form In Hindi 2024

PGDM एक Diploma Course है जो मैनेजमेंट के क्षेत्र में विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध कराया जाता है। विद्यार्थी की इस पोस्ट को करती मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपने करियर को सुरक्षित कर सकते हैं। पी जी डी एम का पूरा नाम Post Graduate Diploma in Management होता है।

PGDM full form

भारत में बहुत सारे कॉलेज मौजूद है जो PGDM Course उपलब्ध करवाते हैं। भारत में All India Council of Technical Education के द्वारा भी पीजीडीएम कोर्स प्रदान करवाया जाता है।

PGDM के प्रकार (PGDM Types in Hindi)

अलग-अलग तरह से एक डिग्री व डिप्लोमा को अलग-अलग भागों में विभाजित किया जाता है। पीजीडीएम डिप्लोमा कोर्स को भी तीन भागों में विभाजित किया गया है। विद्यार्थी अपनी रुचि और बजट के अनुसार किसी भी एक डिप्लोमा कोर्स को कर सकता है। पीजीडीएम डिप्लोमा के तीनों प्रकार नीचे कुछ इस प्रकार से दिए गए हैं।

  1. Full Time PGDM
  2. Distance PGDM
  3. Online PGDM

1. Full Time PGDM Course

पीजीडीएम कोर्स का यह पहला प्रकार है और यह कोर्स 2 साल का होता है। पीजीडीएम कोर्स के इस प्रकार को करने के लिए आपको प्रतिदिन कॉलेज जाना होता है। इसीलिए इस पोस्ट को फुल टाइम पोस्ट कहा गया है। इस कोर्स के लिए फीस काफी ज्यादा है जो हर विद्यार्थी के लिए suitable नहीं है।

2. Distance PGDM Course

जिन विद्यार्थियों के पास पीजीडीएम कोर्स करने के लिए जाना फीस नहीं है। उन विद्यार्थियों के लिए यह डिप्लोमा बहुत ही उचित माना जाता है। इस डिप्लोमा कोर्स की फीस अनुमानित ₹30000 के आसपास होती है। लेकिन इस डिप्लोमा के लिए कॉलेज में आवेदन लेने से पहले आपको एक एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है और उसी एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर आपको आवेदन करके कॉलेज में दाखिल होने का मौका मिलता है।

3. Online PGDM Course

यह डिप्लोमा कोर्स ऑनलाइन माध्यम से करवाया जाता है इस डिप्लोमा कोर्ट में आवेदन ऑनलाइन लिया जा सकता है और ऑनलाइन घर बैठे पढ़ाई भी की जा सकती है इस डिप्लोमा को करने के लिए न्यूनतम ₹10000 से ₹15000 के आसपास खर्चा आता है।

PGDM Course के लिए क्या जरुरी है ?

किसी भी डिप्लोमा कोर्स करने से पहले विद्यार्थी के पास एक खास तौर की योग्यता होनी अनिवार्य है। उसी योग्यता के आधार पर विद्यार्थी उस डिप्लोमा कोर्स को कर सकता है। हालांकि कई विद्यार्थी बिना योग्यता के भी डिप्लोमा कोर्स के लिए आवेदन कर देते हैं। परंतु उन्हें आगे जाकर भी कोई फायदा नहीं होता है। पीजीडीएम डिप्लोमा कोर्स के लिए जरूरी योग्यता नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई हैः

1. Communication skill

पीजीडीएम कोर्स एक ऐसा कोर्स है जिसके माध्यम से आपको अपने स्किल को अच्छी तरह से सुनिश्चित करना होता है। क्योंकि मैनेजमेंट में आप कोई भी कोई नया यूनिक तरीका अपनाते हैं तो आपका स्किल उभर कर बाहर आता है।

2. Leadership Skill

पीजीडीएम कोर्स करने के बाद आपको लीडरशिप स्किल को प्रदर्शित करना भी बहुत ज्यादा जरूरी होता है। इसलिए आपके अंदर यह क्वालिटी पहले से ही होना चाहिए। ताकि आप अपने नीचे लोगों को काम देकर लीडरशिप स्किल के तहत हर प्रकार का मैनेजमेंट अच्छे से कर सकते हैं।

3. Strategic Thinking

यह एक मुख्य थिंकिंग मानी जाती है क्योंकि स्ट्रैटेजिक थिंकिंग जो विद्यार्थी और उम्मीदवार के अंदर एक अनूठी कला को उभारने और बाहर लाने का काम करती है। यह थिंकिंग आपके पास यदि मौजूद है तो आप मैनेजमेंट का कोर्स आराम से कर सकते हैं और मैनेजमेंट का काम भी संभाल सकते हैं।

PGDM Diploma में Admission लेने के लिए जरूरी योग्यता

जब विद्यार्थी किसी भी डिप्लोमा व डिग्री के लिए कॉलेज में एडमिशन लेने हेतु अपने आवेदन लगाता है। तो विद्यार्थी के पास आवेदन फॉर्म के साथ कई प्रकार की शैक्षणिक योग्यता के दस्तावेज भी होने अनिवार्य है। पीजीडीएम डिप्लोमा करने के लिए विद्यार्थी को कौन कौन से दस्तावेज और कौन-कौन सी योग्यता होना जरूरी है उसकी जानकारी नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई हैः

  • पीजीडीएम कोर्स करने के लिए विद्यार्थी के पास 12वीं कक्षा के न्यूनतम 60% अंक होने अनिवार्य है।
  • विद्यार्थी को इस डिप्लोमा लेने से पहले होने वाले एंट्रेंस एग्जाम में न्यूनतम 50% अंक लाना अनिवार्य है।
  • विद्यार्थी के पास बारहवीं कक्षा के बाद बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री पूरी होने का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है।
  • हालांकि आफ मैनेजमेंट के क्षेत्र में किसी अन्य डिग्री को करके भी पीजीडीएम कोर्स कर सकते हैं।

पीजीडीएम कोर्स के लिए होने वाले Entrance Exam

PGDM Course करने के लिए उम्मीदवार को कई प्रकार के Entrance Exam में भी भाग लेना पड़ता है। Entrance Exam के माध्यम से ही विद्यार्थी को कॉलेज उपलब्ध करवाकर PGDM Course करने का मौका दिया जाता है। PGDM Course करने के लिए जरूरी एंट्रेंस एग्जाम की सूची नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई हैः

  • CAT
  • MAT
  • CMAT
  • GMAT
  • NMAT
  • ATMA
  • XAT

PGDM में कौन से Subject होते हैं?

पीजीडीएम डिप्लोमा जो एक मैनेजमेंट क्षेत्र का सबसे टॉप लेवल डिप्लोमा है। इस डिप्लोमा को करते समय विद्यार्थी को कौन-कौन से सब्जेक्ट पढ़ने होते हैं या ऐसा कह सकते हैं कि इस डिप्लोमा कोर्स में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं। उसके बारे में जानकारी हम आपको नीचे कुछ इस प्रकार से दे रहे हैं।

पीजीडीएम डिप्लोमा में मुख्य तौर पर दो प्रकार के सब्जेक्ट देखने को मिलते हैं।

  • Core subjects
  • Elective Subjects

1. Core subjects

Core Subjects अनिवार्य विषय होते हैं जिन्हें विद्यार्थी अपनी मर्जी से नहीं चुन सकता है। कहने का मतलब यह है कि पीजीडीएम डिप्लोमा कोर्स करते समय इन सब्जेक्ट को पढ़ना आपके लिए अनिवार्य कर दिया गया है।

भारत के अधिकतर कॉलेजों में पीजीडीएम कोर्स में Core Subjects list 2024 इस प्रकार है –

  1. Managerial Economics
  2. Finance & Accounting
  3. Organizational Behavior
  4. Research Methodology
  5. Business Ethics And Communication

2. Elective Subjects

यह सब्जेक्ट आप अपनी मर्जी से चुन सकते हैं। 2 साल की अवधि में आपको कोई चार सब्जेक्ट को चुनना होता है। प्रत्येक वर्ष 2 elective subject का चयन करते हुए अपने आवेदन फॉर्म को भरना होता है। आप अपनी रूचि के अनुसार किसी भी सब्जेक्ट में रुचि दिखा कर उसका चयन कर सकते हैं।

PGDM Diploma के लिए बेहतरीन कॉलेज

जनसंख्या की दृष्टि से भारत बहुत बड़ा देश है और भारत में जनसंख्या के आधार पर कॉलेज और विश्वविद्यालयों की संख्या भी बहुत अधिक है। लेकिन जब top level के विश्वविद्यालय की बात आती है तो हजारों की संख्या में कॉलेजों के नाम उस सूची से बाहर चले जाते हैं। हम आपको नीचे पीजीडीएम डिप्लोमा के लिए सबसे लोकप्रिय कॉलेज की सूची प्रदान करवा रहे हैंः

  1. NMIMS University, Maharashtra
  2. NDIM Delhi – New Delhi Institute of Management
  3. XLRI Jamshedpur – XLRI-Xavier School of Management
  4. Welingkar Institute of Management Development and Research, Mumbai
  5. SPJIMR, Mumbai
  6. Doon Business School, Dehradun
  7. PSGIM Coimbatore – PSG Institute of Management
  8. MDI Gurgaon – Management Development Institute
  9. ITM Navi Mumbai – ITM Business School
  10. Best PGDM Government Colleges/Institute
  11. IIMs
  12. Vaikunth Mehta National Institute of Cooperative Management, Pune
  13. Assam Institute of Management, Guwahati
  14. IISWBM Kolkata
  15. Ch Charan Singh NIAM, Jaipur
  16. STEP – HBTI, Kanpur
  17. Indian Institute of Plantation Management, Bangalore
  18. AIMA Centre for Management Education, Delhi
  19. Chandragupt Institute of Management, Patna

पीजीडीएम (PGDM) की फीस कितनी है? (PGDM Course Fees 2024)

पीजीडीएम कोर्स की फीस की बात हर विद्यार्थी के दिमाग में पहले आते हैं। जब विद्यार्थी पीजीडीएम कोर्स करने के बारे में सोचना है। तब से विद्यार्थी उस कोर्से संबंधित फीस के बारे में आकलन लगाना शुरू कर देता है। पीजीडीएम कोर्स करने के लिए ऑनलाइन कोर्स करके आपका ही पैसे बचा भी सकते हैं। पीजीडीएम का ऑनलाइन को ₹10000 से लेकर ₹25000 किस चीज के साथ हो सकता है। लेकिन यदि आप ऑफलाइन ईवीएम का कोर्स करते हैं। तो अच्छी कॉलेज में इसकी फीस ₹100000 से लेकर ₹500000 तक होती है।

पीजीडीएम के बाद क्या करें?

जब विधार्थी PGDM का डिप्लोमा ले लेता है तो उसके बाद मुख्य रूप से विधार्थी आगे के बारे में सोचता है। PGDM  का डिप्लोमा लेने के बाद में विधार्थी जॉब करके भी अपना करियर बना सकता है और आगे पढाई  भी जारी रख सकता है। हम आपको PGDM  के बाद क्या करे इसके बारे में निचे बता रहे है।

1. आगे की पढाई करे

PGDM का डिप्लोमा मैनेजमेंट के अंदर होता है। इसके बाद विधार्थी आगे मेनेजमेंट में Phd कर सकते है और मैनेजमेंट में डॉक्टर डिग्री हासिल कर सकते है। PGDM डिप्लोमा के बाद में PHD डिग्री करके आप अच्छा पैसा कमा सकते है

2. जॉब करे

PGDM का डिप्लोमा लेने के बाद आपको मैनेजमेंट में कई तरह की जॉब मिल जाती है। आप जॉब करके भी अपने करियर को सेट कर सकते है। PGDM का डिप्लोमा करके व्यक्ति आसानी से जॉब हासिल कर सकता है। क्योकि इस पद पर ज्यादा कॉम्पिटिशन नहीं है। PGDM डिप्लोमा लेने के बाद कौन कौनसे पद पर आप जॉब कर सकते में नीचे जानकारी दी गयी है।

1. Marketing Manager

मैनेजमेंट के मामले में मार्केटिंग मैनेजर बन सकते है। इसके लिए PGDM का डिल्पोमा करना होता है। इसके बाद में मार्केटिंग मैनेजर बन सकते है। एक मार्केटिंग मैनेजर का काम होता है किसी प्रोडक्ट या कंपनी से जुड़ी मार्केटिंग को मैनेज करना होता है और किसी भी कंपनी के सारे काम को मैनेज करके उस कंपनी को सुचारु रूप से चलना होता है।

2. Sales Manager

किसी भी कंपनी बढ़ाने के लिए भी कई लोगो को सेल्स मैनेजर के तोर पर चयनित किया जाता है। PGDM डिप्लोमा लेने के बाद में व्यत्कि सेल्स मैनेजर बन सकते है। एक सेल्स मैनेजर का काम होता है। अपने नीचे काम कर रहे सेल्स मेंन को mentor करने के काम करता है और उनको ट्रैनिन देने का काम करता है। कंपनी की सेल को बढ़ाने के नए उपाय खोजता है।

3. Supply Chain Manager

PGDM का डिप्लोमा करने के बाद में कंपनी में चैन मैनेजर बन सकता है और कच्चे मॉल की खरीदारी से लेकर पक्के माल की बिक्री तक के सारे काम संभालता है।

4. Advertising Manager

आज की ऑनलाइन की दुनिया में एड के माध्यम से अपने बिसनेस प्रमोट करवाना है। कोई व्यक्ति के पसंद करता है। एडवरटाइजिंग के माध्यम से सेल में अच्छी खासी ग्रोथ लाई जा सकती है और यह काम एडवरटाइजिंग मैनेजर का होता है। अतः पीजीडीएम डिप्लोमा करने के बाद एडवरटाइजिंग मैनेजर बन सकते हैं।

5. Account Manager

अकाउंट मैनेजमेंट के लिए भी लोगों की अक्सर जरूरत पड़ती रहती है। ऐसे में आप पीजीडीएम डिप्लोमा करके अकाउंट मैनेजमेंट का काम संभाल सकते हैं।

People Also Read:-

Digital Marketing Course क्या होता है कैसे करें?

Finance Manager क्या होता है कैसे बने?

CFO (Chief Financial Officer) क्या है कैसे बने पूरी जानकारी?

सबसे ज्यादा सैलरी देने वाली जॉब कौन सी होती है?

पीजीडीएम के बाद सैलरी (PGDM Salary In India)

हर उम्मीदवार को किसी भी डिप्लोमा को लेने से पहले उस डिप्लोमा को लेने के बाद और जॉब लगने के बाद कितनी सैलरी मिलेगी। इसके बारे में जानकारी लेना उचित लगता है। पीजीडीएम डिप्लोमा करने के बाद व्यक्ति नीचे दी गई निम्नलिखित अलग-अलग श्रेणी के आधार पर अच्छा-खासा पैसा कमा सकता है। मैनेजमेंट के बहुत सारे क्षेत्र होते हैं और अलग-अलग क्षेत्र में काम करने पर अलग-अलग सैलरी आपको प्रदान करवाई जाती है,जो कुछ इस प्रकार से हैः

  • एक मार्केटिंग मैनेजर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को सालाना ₹700000 से लेकर ₹1000000 का वार्षिक पैकेज उपलब्ध कराया जाता है।
  • सेल्स मैनेजमेंट का काम संभालने वाले व्यक्ति को ₹500000 से लेकर ₹800000 का सालाना पैकेज मिल जाता है।
  • सप्लाई चैन मैनेजमेंट का काम संभालने वाले व्यक्ति को ₹900000 से ₹1500000 तक का सालाना पैकेज आराम से मिल जाता है।
  • एडवरटाइजिंग मैनेजमेंट का काम करने वाले व्यक्ति को ₹500000 का सालाना पैकेज मिल जाता है।
  • अकाउंट मैनेजर को 4 लाख रुपए प्रतिवर्ष का पैकेज मिलता है।

निष्कर्ष

अपने करियर को संवारने के लिए व्यक्ति कई प्रकार के डिग्री व डिप्लोमा कोर्स लेता है। पीजीडीएम डिप्लोमा कोर्स करके व्यक्ति मैनेजमेंट के क्षेत्र में अच्छी खासी नौकरी प्राप्त कर सकता है। आज के आर्टिकल में हमने आपको PGDM Diploma कैसे करें, इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी।

2 thoughts on “PGDM क्या है? PGDM Full Form से Scope की पूरी जानकारी 2024”

Leave a Comment