Post Master कैसे बने? 2022 में Postman या डाकिया से जुड़ी संपूर्ण जानकारी

आज के समय में हर गांव में Post Office की सुविधा उपलब्ध है। Post Office के माध्यम से लोगों को डाक वितरित किया जाता है। पोस्ट ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारियों को डाकिया (Post Master / Postman) के नाम से पहचानते हैं। Post Master बनने का सपना कई लोग लेकर बैठे हैं यानी कि लोगों को Post Master बनने में काफी रुचि रहती है। जब कोई भी व्यक्ति अपने आस-पास Post Office के कर्मचारियों को देखता है, तो खुद भी उस पद पर चयनित होने का सपना देखने लग जाता है। आज के आर्टिकल में हम आपको डाकिया कैसे बने? या Post Master kaise bane? इसके बारे में डिटेल में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

डाकिया (Post Master) कौन होता है?

भारतीय डाक विभाग में काम करने वाले कर्मचारियों को पोस्टमास्टर में कहा जाता है। यानी की पोस्ट विभाग में जो कर्मचारी अपनी सेवा देते हैं, उन लोगों को Post master या Postman कहा जाता है। हालांकि सामान्य भाषा में डाकिया भी कहते हैं। Post Master बनने के लिए उम्मीदवार को कई तरह के प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेना होता है और परीक्षाओं की तैयारी करके एग्जाम पास करना होता है।

उसी के पश्चात उम्मीदवार को पोस्ट मास्टर पद पर चयनित किया जाता है। नीचे हम पोस्ट मास्टर कैसे बने इसके बारे में पूरी डिटेल दे रहे हैं।

पोस्ट मास्टर बनने के लिए जरूरी योग्यता

जो लोग Post Master बनने का सपना देख रहे हैं। उन लोगों के लिए सबसे पहले पोस्ट मास्टर बनने के लिए जरूरी योग्यता के मापदंड को पूरा करना होगा। पोस्ट मास्टर बनने के लिए जरूरी योग्यता नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई हैः

  • पोस्ट मास्टर बनने के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 18 साल और अधिकतम उम्र 40 वर्ष निर्धारित की गई है।
  • हालांकि सरकार के द्वारा आरक्षित जातियों को आयु वर्ग में काफी छूट प्रदान करवाई जाती है।
  • पोस्ट मास्टर बनने वाले उम्मीदवार के पास भारत की नागरिकता होना अनिवार्य है, यानी कि उम्मीदवार भारत का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक मानसिक रूप से और शारीरिक रूप से पूरी तरह से स्वस्थ होना जरूरी है।
  • आवेदक को कंप्यूटर का बेहतरीन नॉलेज होना चाहिए और कंप्यूटर की बेहतरीन नॉलेज के साथ-साथ MSCIT और CCC Course करना आवश्यक है।
  • आवेदक के पास न्यूनतम ग्रेजुएशन डिग्री होना जरूरी है। ग्रेजुएशन डिग्री के बाद ही आप पोस्ट मास्टर के लिए अपना आवेदन लगा पाएंगे।

Post Master बनने के लिए जरूरी Documents

हर साल भारत सरकार के द्वारा खाली पदों को भरने के लिए  Post Master की भर्ती निकाली जाती है। सरकार के द्वारा आयोजित भर्ती मे आप अपना आवेदन लगा सकते है। लेकिन आवेदन लगाने से पहले उम्मीदवार के पास कुछ दस्तावेज होना जरूरी है। जिसकी जानकारी हम आपको नीचे प्रदान करवा रहे हैं।

  1. आवेदक का आधार कार्ड
  2. पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  3. बैंक पासबुक
  4. मूल निवास प्रमाण पत्र
  5. ग्रेजुएशन का सर्टिफिकेट
  6. कंप्यूटर डिप्लोमा का सर्टिफिकेट

पोस्ट मास्टर कैसे बने?

जो उम्मीदवार पोस्ट मास्टर करना चाहता है यानी की पोस्ट मास्टर बनने का सपना देख रहा है। उम्मीदवार को नीचे दिए गए चरणों को फॉलो करना चाहिए इन सभी स्टाफ को फॉलो करते उम्मीदवार पोस्ट मास्टर की नौकरी प्राप्त कर सकता है।

सर्वप्रथम ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करें

उम्मीदवार को सबसे पहले अपने 12वीं कक्षा पास करने के बाद किसी भी विषय वर्ग के साथ ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करनी होगी ग्रेजुएशन की डिग्री पोस्ट मास्टर पद के लिए एक न्यूनतम योग्यता के तौर पर पूछी जाती है।

सरकार द्वारा आयोजित भर्ती में आवेदन करें

सरकार प्रतिवर्ष रिक्त पदों के आधार पर आए दिन नई भर्तियों का आयोजन करती है। आपको सरकार के द्वारा आयोजित की जाने वाली पोस्ट मास्टर की भर्ती में आवेदन लगाना होगा और उस भर्ती के आधार पर तैयारी करनी होगी।

लिखित परीक्षा पास करें

पोस्ट मास्टर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को सर्वप्रथम सरकारी भर्ती में अपना आवेदन करना है। उसके बाद में उम्मीदवार को लिखित परीक्षा में भाग लेना होगा। सरकार के द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा में भाग लेकर आपको उस परीक्षा में पास होना है। पास होने के बाद आपको अगले करने के तौर पर दस्तावेज सत्यापन के लिए बुलाया जाएगा।

दस्तावेज सत्यापन प्रक्रिया में भाग ले

जो व्यक्ति लिखित परीक्षा में पास हो जाते हैं। उम्मीदवारों को अगले चरण के तौर पर दस्तावेज सत्यापन प्रक्रिया के लिए बुलाया जाता है। दस्तावेज सत्यापन होने के बाद आपको जॉइनिंग लेटर प्रदान करवा दिया जाता है। इस तरह से आप पोस्ट मास्टर बन सकते हैं।

जॉइनिंग लेटर प्राप्त करें

मुख्य परीक्षा पास करने के बाद उम्मीदवार को दस्तावेज सत्यापन प्रक्रिया से गुजरना होता है। जब उम्मीदवार के दस्तावेज सत्यापन हो जाते हैं, तो उम्मीदवार के लिए अगली कड़ी में जॉइनिंग लेटर मिलता है और जॉइनिंग लेटर को प्राप्त करके आप ड्यूटी ज्वाइन कर सकते हैं।

अवश्य पढ़ें:-

Post Officer कैसे बने पूरी जानकारी।

तहसीलदार कैसे बने पूरी जानकारी?

Judge कैसे बने? जज से जुड़ी संपूर्ण जानकारी हिंदी 2022.

Notry Vakil क्या होता है और कैसे बने?

पोस्ट मास्टर की सैलरी कितनी होती है?

पोस्ट मास्टर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को सबसे पहले पोस्ट मास्टर की सैलरी के बारे में जानकारी लेने की रूचि होती है। क्योंकि हर उम्मीदवार अपने सरकारी पद को हासिल करने से पहले सैलरी के बारे में गणना करना उचित समझता है, जो उम्मीदवार पोस्ट मास्टर की सैलरी कितनी होती है, इस सवाल से परेशान है।

उन लोगों को बताना चाहूंगा कि पोस्ट मास्टर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को प्रति महीने ₹12000 से लेकर ₹20000 शुरुआत में बेसिक सैलरी प्लान करवाई जाती है। सरकार के द्वारा इस बेसिक सैलरी के साथ-साथ कई प्रकार के सरकारी भत्ते भी प्रदान कराए जाते हैं।

2 साल की अवधि पूरी होने के बाद उम्मीदवार का पहला प्रमोशन होता है और उस प्रमोशन के बाद उम्मीदवार को बेसिक सैलरी ₹20000 प्रति महीना से लेकर ₹28000 प्रति महीना मिलना शुरू होती है और साथ ही साथ ₹2400 ग्रेड पे भी दिया जाता है।

पोस्ट मास्टर का भविष्य में प्रमोशन

जो उम्मीदवार पोस्ट मास्टर पद पर कार्यरत है। उम्मीदवारों को पहले 2 साल ट्रेनिंग अवधि के तौर पर गुजरात में होते हैं। उसके बाद उन्हें मुख्य पोस्ट मास्टर पद पर कार्यरत किया जाता है। उसके बाद कार्य की वार्षिक रिपोर्ट के आधार पर उम्मीदवार को आगे प्रमोशन पे मिलते हैं और प्रमोशन का उच्च लेवल ब्रांच मैनेजर पहुंच सकता है।

पोस्ट मास्टर के कार्य

पोस्ट मास्टर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को नीचे दिए गए निम्नलिखित कार्यों और जिम्मेदारियों को संभालना होता है।

  • एक पोस्टमास्टर एक क्षेत्रीय डाकघर या मेल स्टेशन का प्रबंधन करता है।
  • मेल सेवा में इस और अन्य प्रबंधन पदों के बीच अंतर करने के लिए, एक पूरे राष्ट्रीय मेल सिस्टम के प्रमुख को आमतौर पर पोस्टमास्टर जनरल के रूप में जाना जाता है।
  • इस कार्य में विभिन्न प्रबंधकीय कार्यों को पूरा करना शामिल हो सकता है।
  • जबकि डाकघर में कानूनी अनुपालन के मुद्दों को संबोधित करना और सरकारी एजेंसियों के साथ व्यवहार करना जो डाक सेवा के साथ बातचीत कर सकते हैं।
  • पोस्टमास्टर बनने के लिए, किसी व्यक्ति के लिए परीक्षा उत्तीर्ण करना और रैंक के माध्यम से काम करना आम तौर पर आवश्यक है।
  • दिन-प्रतिदिन के आधार पर, पोस्टमास्टर कर्मचारी कार्यक्रम, मध्यम विवाद, प्रशिक्षण का पर्यवेक्षण और कार्यस्थल को व्यवस्थित कर सकते हैं।
  • यह काम पोस्ट ऑफिस को पर्दे के पीछे आसानी से चला रहा है और विनियामक अनुपालन की जांच करने का अवसर प्रदान करता है।
  • जब कानून अद्यतन या परिवर्तित किए जाते हैं, तो स्टाफ का यह सदस्य पोस्ट ऑफिस को बदले हुए कानून के अनुपालन में लाने और यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार होता है। कि सभी कार्मिक किसी भी प्रासंगिक कानूनों से परिचित हों।

निष्कर्ष

वर्तमान समय में हर प्रकार की सरकारी नौकरी के लिए प्रतिस्पर्धा बहुत अधिक है। किसी भी पद पर सरकार के द्वारा भर्ती का आयोजन होता है तो लाखों की संख्या में लोग आवेदन करते हैं। पोस्ट विभाग और भारतीय डाक विभाग के द्वारा खाली पदों के आधार पर आए दिन बच्चों का आयोजन होता है।

जिसमें पोस्ट मास्टर भर्ती भी शामिल है। पोस्ट मास्टर पद पर नौकरी हासिल करके आप अपने करियर को सेटल कर सकते हैं। आज के आर्टिकल में हमने आपको पोस्ट मास्टर कैसे बने इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी।

Leave a Comment