Railway Ticket collector कैसे बने? रेलवे TC/TT/TTE से जुड़ी पूरी जानकारी।

रेल का सफर तो आपने कभी ना कभी किया ही होगा। इस दौरान आपने रेल के अंदर टिकट चेक करने वाले रेल अधिकारी पहुंच जरूर देखा होगा, जो रेल में उपस्थित सभी लोगों का टिकट चेक करता है और जिन लोगों के पास टिकट नहीं है उन्हें टिकट मुहैया कराता है या उन पर जुर्माना लगाता है। अगर कोई जुर्माना भी ना दे तो उन्हें पुलिस को फोन करके पुलिस के हवाले करता है, तो क्या आपने कभी सोचा है कि रेलवे टिकट कलेक्टर कैसे बनें? यानी कि रेलवे टिकट चेक करने वाला अधिकारी कैसे बनते हैं? आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रेलवे के अंदर गदिया एक महत्वपूर्ण पद है।

आज के समय में भारत में बढ़ती जनसंख्या को देखते हुए रेलवे ने अपने नियोक्ताओं की संख्या भी बढ़ा दी है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय रेलवे देश का सबसे बड़ा नियोक्ता है यानी कि देश में सबसे अधिक नौकरियां भारतीय रेलवे प्रदान करता है। इस बात से आप समझ सकते हैं कि भारतीय रेलवे नेटवर्क इतना बड़ा है और यहां पर नौकरी की संभावना कितनी है? इसीलिए अधिकांश युवा आज के समय में भारतीय रेलवे में नौकरी करना चाहते हैं। भारतीय रेलवे में नौकरी करने के लिए रेलवे द्वारा विभिन्न प्रकार के अलग-अलग ग्रुप बनाए गए हैं। अलग-अलग रूप के अनुसार उनकी योग्यता और अंकों के आधार पर नौकरी उपलब्ध कराई जाती है।

भारत में वर्तमान समय में रेल की महत्वता काफी ज्यादा बढ़ चुकी है क्योंकि हर दिन पड़ती जनसंख्या की वजह से लोगों को यातायात में परेशानी होती है। इसीलिए भारतीय रेलवे द्वारा समय-समय पर ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाती है और उन ट्रेनों में ड्राइवर से लेकर सफाई कर्मचारी तक विभिन्न प्रकार के पदों पर नियुक्तियां दी जाती है‌। भारतीय रेलवे में नौकरी करके आप एक बेहतरीन करियर विकल्प चुन सकते हैं। इसीलिए अधिकांश युवा आज के समय में भारतीय रेलवे में नौकरी करना चाहते हैं। तो आज हम आपको बताएंगे कि भारतीय रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बनें?

रेल में टिकट कलेक्टर कौन होता है?

ट्रेन के अंदर एक ऐसा अधिकारी जो सफर कर रहे लोगों का टिकट चेक करता है जो लोग भागदौड़ की वजह से टिकट नहीं ले पाए हैं। उन्हें ट्रेन में ही टिकट प्रदान किया जाता है। इसके अलावा जो लोग बिना टिकट के यात्रा कर रहे है उनके ऊपर जुर्माना लगाया जाता है जो लोग जुर्माना भी नहीं भरते हैं उन्हें पुलिस के हवाले किया जाता है। इस तरह से रेल के अंदर टिकट की जांच करने वाले अधिकारी को रेलवे टिकट कलेक्टर कहते हैं। यह एक अत्यंत महत्वपूर्ण पद माना जाता है। यहां पर नौकरी करने वालों को अच्छी सैलरी दी जाती है।

भारतीय रेलवे द्वारा टिकट कलेक्टर को विभिन्न प्रकार की सुविधा भी प्रदान की जाती है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय रेल हर समय चलती है। इसीलिए यहां पर दिन तथा रात के अनुसार अलग-अलग अधिकारियों को ड्यूटी पर कार्यरत किया जाता है। इसीलिए यहां पर नौकरी करने वालों की संख्या भी बढ़ जाती है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय रेलवे हर रोज 2 करोड से भी अधिक लोगों को उनकी मंजिल तक पहुंचाता है। इसलिए यहां पर नौकरी के पर्याप्त अवसर हैं।

रेल के अंदर टिकट चेक करने वाला रेलवे टिकट कलेक्टर यात्रियों का टिकट चेक करता है। इसके अलावा जिन यात्रियों को उनके टिकट के अनुसार सीट नहीं मिल रही है उन्हें उचित स्थान दिखाना तथा यात्रियों के सामान की जांच करना भी शामिल है। इस तरह के कार्य रेल के अंतर्गत एक अधिकारी करता है जिसे टिकट कलेक्टर कहते हैं। आज के समय में अधिकांश युवा टिकट कलेक्टर बनना चाहते हैं क्योंकि टिकट कलेक्टर बन कर एक बेहतरीन करियर विकल्प देखा जा रहा है। तो आइए जानते हैं कि टिकट कलेक्टर कैसे बनते हैं?

टिकट कलेक्टर बननें के लिए योग्यता (Railway TC Eligibility in Hindi 2022)

भारतीय रेलवे विभाग द्वारा रेलवे के अंतर्गत कार्य करने वाले अधिकारियों की नियुक्ति हेतु विभिन्न प्रकार की योग्यता निर्धारित की गई है। यह योग्यता विभिन्न प्रकार के ग्रुप एवं विभिन्न प्रकार के पद के अनुसार है। रेलवे के अंदर टिकट चेक करने वाले टिकट कलेक्टर के पद पर नियुक्ति के लिए भी रेलवे द्वारा कुछ योग्यताएं निर्धारित की गई है जो निम्नलिखित है —

  • टिकट कलेक्टर बनने के लिए कम से कम 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए।
  • बारहवीं कक्षा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड शिक्षण संस्थान से होनी चाहिए।
  • बारहवीं कक्षा कम से कम 50% अंक के साथ पास होनी चाहिए।
  • जो अभ्यर्थी ग्रेजुएशन या डिप्लोमा कर चुके हैं वे भी रेलवे टिकट कलेक्टर पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • टिकट कलेक्टर बनने की न्यूनतम आयु 18 वर्ष है।
  • अधिकतम 25 वर्ष तक टिकट कलेक्टर बन सकते हैं।
  • आरक्षण वाले उम्मीदवारों को 3 वर्ष तक की आयु सीमा में छूट प्रदान की जाती है।

Ticket Collector कैसे बनें? (TC/TT/TTE kaise bane in Hindi)

Railway Ticket collector कैसे बने? रेलवे TC/TT/TTE से जुड़ी पूरी जानकारी।

टिकट कलेक्टर बनने के लिए आपको रेलवे द्वारा आयोजित परीक्षा को पास करना होगा रेलवे द्वारा हर वर्ष अलग-अलग ग्रुप के लिए तथा अलग-अलग पदों के लिए नियुक्तियां हेतु भर्ती का आयोजन करवाया जाता है। रेलवे के अंतर्गत भर्ती हेतु विभिन्न प्रकार के बोर्ड बने हुए हैं। प्रत्येक राज्य के अंतर्गत रेलवे का बना हुआ बोर्ड नियुक्तियों हेतु भर्ती का आयोजन करवाता है। इसके अंतर्गत होने वाली परीक्षा को पास करने के बाद टिकट कलेक्टर बना दिया जाता है। रेलवे द्वारा आयोजित भर्ती की सूचना ऑफिशियल वेबसाइट इसके अलावा अखबार टेलीविजन रेडियो एवं स्मार्टफोन में मिल जाती है।

रेलवे द्वारा आयोजित टिकट कलेक्टर भर्ती की सूचना मिलने के बाद आपको इस भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन करवाना होगा आप चाहे तो खुद से ही कर सकते हैं या अपने नजदीकी ई मित्र अथवा सीएससी सेंटर से जाकर भी रेलवे द्वारा आयोजित टिकट कलेक्टर की भर्ती के लिए आवेदन करवा सकते हैं। रेलवे द्वारा निर्धारित की गई योग्यता और दस्तावेजों के आधार पर आप रेलवे कलेक्टर भर्ती हेतु आवेदन करवा सकते हैं। इसके बाद आपको रेलवे द्वारा आयोजित पढ़ती हेतू परीक्षा देनी होगी। रेलवे द्वारा आयोजित टिकट कलेक्टर की भर्ती में आवेदन करने के बाद निर्धारित की गई तारीख को लिखित परीक्षा होगी।

इस परीक्षा में 150 अंकों के अंतर्गत हिंदी अंग्रेजी गणित सामान्य ज्ञान इत्यादि से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इन प्रश्नों का उत्तर देकर आप इस परीक्षा को पास कर सकते हैं इस परीक्षा को पास करने के बाद ही आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। इंटरव्यू के दौरान आपको कुछ सामान्य प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं। इसके अंतर्गत आपकी बुद्धि और आपके गुणों का पता लगाया जाता है। इंटरव्यू के अंतर्गत पास होने के बाद आपके सभी दस्तावेजों का सत्यापन किया जाता है। उसके बाद आपके मेडिकल टेस्ट होता है। मेडिकल टेस्ट के अंतर्गत आंखों की जांच कानों की जांच इत्यादि करके आपको रेलवे टिकट कलेक्टर बना दिया जाता है।

रेलवे टिकट कलेक्टर की सैलरी

रेलवे टिकट कलेक्टर की सैलरी इस बात पर निर्भर करती है कि रेलवे में टिकट चेक करने वाले अधिकारी को नियुक्ति के बाद कितना समय हुआ है। यानी कि समय के अनुसार भी रेलवे में टिकट कलेक्टर की सैलरी में बदलाव होता है। इसके अलावा रेलवे की तरफ से टिकट कलेक्टर को विभिन्न प्रकार की सुविधा एवं व्यवस्था प्रदान की जाती है। आमतौर पर रेलवे टिकट कलेक्टर की सैलरी 30000 से लेकर ₹50000 के बीच होती है। इसके अलावा अन्य प्रकार की सुविधा भी प्रदान करवाई जाती है।

Railway Group-D की नौकरी कैसे पाएं 2022 में पूरी जानकारी।

बीए के बाद महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी की जानकारी।

तहसीलदार कैसे बने पूरी जानकारी।

पटवारी कैसे बने संपूर्ण जानकारी हिंदी में।

Conclusion

भारतीय रेलवे में टिकट चेक करने वाले अधिकारी यानी टिकट कलेक्टर बनने के लिए कौन-कौन सी योग्यता होनी चाहिए? कितनी शिक्षा ग्रहण करनी होगी? किस तरह से भर्ती में आवेदन करना होगा? तथा कैसे टिकट कलेक्टर बनते हैं? इससे संबंधित महत्वपूर्ण एवं जरूरी सूचना आज के इस आर्टिकल में आप ध्यान पूर्वक पढ़ सकते हैं। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए जरूर उपयोगी साबित हुई होगी। अगर आपका इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं‌। हम पूरी कोशिश करेंगे कि आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न का जल्द से जल्द उत्तर दे सकें।

Leave a Comment