सरकारी टीचर कैसे बने? 2022 में Govt. Teacher की संपूर्ण जानकारी

आज के समय में हमारे देश में सरकारी टीचर का मान सम्मान बहुत अधिक होता है। हर व्यक्ति सरकारी टीचर पद पर नौकरी हासिल करने की चाहत में रहता है। विद्यार्थी दसवीं कक्षा के बाद ही सरकारी टीचर बनने के सपने देखना शुरु हो जाता है। क्योंकि हमारे देश में टीचर पद को बड़ा ऊंचा और सम्मानजनक पद बताया जाता है।

हमारे देश में सरकारी टीचर का बहुत बड़ा दर्जा होता है और इसीलिए सभी विद्यार्थी टीचर बनने के पीछे भाग रहे हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको सरकारी टीचर कैसे बने इसके बारे में डिटेल में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

सरकारी टीचर क्या होता है?

Sarkari Teacher Kaise Bane

किसी भी स्कूल में विद्यार्थियों को पढ़ाने का काम करने वाले उम्मीदवार को टीचर कहा जाता है और जब वह टीचर किसी भी सरकारी भर्ती के द्वारा चयनित होता है। तो उस उम्मीदवार को सरकारी टीचर कहा जाता है।

विद्यार्थियों को सरकारी टीचर बनने के लिए कई प्रकार से सरकार के द्वारा प्रतिवर्ष रिक्त पदों के आधार पर नई भर्तियों का आयोजन किया जाता है। सरकार के द्वारा निकाली जाने वाली भर्तियों के आधार पर आप टीचर बन सकते हैं। सरकार के द्वारा निकाली गई भर्तियों में आवेदन करते यदि आप चयनित होते हैं तो आपको भी सरकारी टीचर का दर्जा मिल जाएगा।

Sarkari Teacher Kaise Bane in 2022

सरकारी टीचर कितने प्रकार के होते हैं

  • प्राथमिक टीचर (PRT)
  • ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (TGT)
  • पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (PGT)

प्राथमिक टीचर कैसे बने? (PRT Teacher Kaise Bane)

सरकार के द्वारा प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालय तक टीचर बनने के लिए अलग प्रकार की भर्ती का आयोजन किया जाता है। जैसे: राजस्थान में वर्तमान समय में रीट भर्ती का आयोजन किया जाता है और इस जीत भर्ती से चयनित होने वाले उम्मीदवार को प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालय में सरकारी टीचर बनने का मौका मिलता है।

प्राथमिक टीचर बनने के लिए योग्यता कि यदि हम बात करें तो विद्यार्थी के पास 12वीं कक्षा में न्यूनतम 50% अंक होने जरूरी है। उसके पश्चात विद्यार्थी को ग्रेजुएशन और बीएड कंप्लीट करना होगा।

विद्यार्थी BSTC का Course करके भी प्राइमरी टीचर बन सकता है और प्राइमरी स्कूल और उच्च प्राइमरी स्कूल तक के विद्यार्थियों को पढ़ा सकता है।

ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर कैसे बने? (TGT Teacher Kaise Bane)

जो भारती कक्षा 6 से लेकर कक्षा 10 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए टीचर बनना चाहता है या सेकंड ग्रेड टीचर के तौर पर कार्यरत होना चाहता है।

उन विद्यार्थियों को ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करने के पश्चात बैचलर ऑफ एजुकेशन एनी B.Ed की डिग्री लेनी होगी और उसके पश्चात सरकार के द्वारा निकाली जाने वाली भर्ती में आवेदन लगाकर आपको उस परीक्षा को पास करना है। ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर को सेकंड ग्रेड टीचर भी कहा जाता है।

इसके लिए विद्यार्थी के पास 12वीं कक्षा होने के साथ-साथ ग्रेजुएशन की डिग्री और बैचलर ऑफ एजुकेशन यानी कि B.Ed की डिग्री होना जरूरी है।

पोस्ट ग्रेजुएट टीचर कैसे बने? (PGT Teacher Kaise Bane)

स्कूल में पोस्ट ग्रेजुएट टीचर को स्कूल लेक्चरर के तौर पर भी पहचाना जाता है। इसके अलावा पोस्ट ग्रैजुएट टीचर को First Grade Teacher भी कहते हैं। जो एक स्कूल लेवल का हाई स्टैंडर्ड टीचर का पद है। इस टीचर के पद को हासिल करने के पश्चात उम्मीदवारी 11वीं व 12वीं के विद्यार्थियों को पढ़ा सकता है।

इसके लिए विद्यार्थी के पास Post Graduation की डिग्री और B.Ed की डिग्री होना जरूरी है। साथ ही साथ विद्यार्थी को इन डिग्री के साथ सरकार के द्वारा निकाली जाने वाली भर्ती में आवेदन कर के सरकारी टीचर जॉब के लिए परीक्षा को पास करना होगा।

सरकारी टीचर बनने की प्रक्रिया

सरकारी टीचर बनने के लिए हर विद्यार्थी को नीचे दिए गए निम्नलिखित चरण को फॉलो करते हुए, अलग-अलग लेवल पर सरकारी टीचर बनने की कोशिश करनी होगी

  • सर्वप्रथम विद्यार्थी को 12वीं कक्षा पास करनी है।
  • 12वीं कक्षा में विद्यार्थी को अपने द्वारा चयनित किए गए विशेष वर्ग के आधार पर आगे ग्रेजुएशन करनी है।
  • यदि आप प्राथमिक टीचर बनने के लिए प्रयास कर रहे हैं तो आप 12वीं के पश्चात PTET का एग्जाम देकर डायरेक्ट बीएसटीसी कर सकते हैं।
  • इसके अलावा दूसरे रास्ते के माध्यम से टीचर बनने के लिए आपको ग्रेजुएशन करना होगा।
  • ग्रेजुएशन के पश्चात आपको B.Ed की डिग्री हासिल करनी है।
  • अब आपको मास्टर डिग्री पोस्ट ग्रैजुएट टीचर बनने के लिए लेनी होगी।
  • सभी डिग्रियों को हासिल करने के बाद यदि आप कॉलेज टीचर बनना चाहते हैं तो आपको NET Exam को क्लियर करके कॉलेज लेक्चरर के लिए योग्य होना पड़ेगा।

सरकारी टीचर की सैलेरी कितनी होती है?

सरकारी टीचर की सैलरी कि यदि बात की जाए तो सरकारी टीचर को प्राइवेट टीचर की तुलना में काफी अच्छी खासी सैलरी मिलती है और उसी वजह से सरकारी टीचर की वैल्यू समाज में और आसपास में काफी ज्यादा मानी जाती है। सरकारी टीचर बनने वाले उम्मीदवार को सैलरी के तौर पर प्रति महीना शुरुआत से ₹18000 से लेकर ₹30000 प्राथमिक टीचर को प्रदान कराए जाते हैं।

सेकंड ग्रेड टीचर यानी कि ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर को बेसिक सैलरी के तौर पर शुरुआत में ₹28000 से लेकर ₹42000 प्रति महीना प्रदान कराए जाते हैं और फर्स्ट ग्रेड टीचर यानी की पोस्ट ग्रैजुएट टीचर को प्रति महीना बेसिक सैलरी के तौर पर ₹45000 से लेकर ₹75000 प्रदान कराए जाते हैं।

सरकारी टीचर बनने के फायदे क्या क्या है?

सरकारी टीचर के फायदों की यदि बात की जाए तो सरकारी टीचर बनने के फायदे कुछ इस प्रकार के नीचे दिए गए हैंः

1. हर सरकारी नौकरी का सबसे मुख्य फायदा व्यक्ति की इज्जत और व्यक्ति का सम्मान बढ़ जाता है।

2. सरकारी नौकरी यह सरकारी टीचर बनने का दूसरा सबसे बड़ा फायदा आपको इनकम से होता है सरकारी टीचर बनने वाले विद्यार्थी को अच्छी इनकम मिलती है।

3. सरकारी टीचर बनने का तीसरा सबसे बड़ा फायदा आपको कई प्रकार की सरकारी भत्ते भी मिलते हैं।

4. सरकारी टीचर बनने के पश्चात आप सरकारी स्कूल में पढ़ाने के योग्य हो जाते हैं।

5. सरकारी टीचर बनने के पश्चात उम्मीदवार सरकारी स्कूल में पढ़ाने के साथ-साथ खुद का ट्यूशन सेंटर भी खोल सकता है।

6. सरकारी टीचर बनने के पश्चात उम्मीदवार यदि आगे कोई RAS Officer या IAS Officer की तैयारी करता है, तो उसे विशेष प्रकार की छूट भी मिलती है।

निष्कर्ष

देश भर में हर विद्यार्थी ऊंची नौकरी प्राप्त करने की चाहत में रहता है। उम्मीदवार के मन में हमेशा ऊंचे लेवल पर पद हासिल करना एक ख्वाब की तरह होता है। आज के समय में भी देश में सरकारी टीचर को काफी ऊंचा और सम्मानजनक पद माना जाता है।

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको सरकारी टीचर क्या होता है और सरकारी टीचर कैसे बने इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी।

Leave a Comment