SHO Kaise Bane? 2022 में SHO की full form से Salary तक की पूरी जानकारी

विद्यार्थी अपने जीवन में कई तरह से अलग अलग सपने पूरे करने के लिए पीछे रहता है। विद्यार्थी को अपने जीवन में सपनों को पूरा करने के लिए कई तरह की डिग्री व डिप्लोमा कोर्स करने की जरूरत होती है। विद्यार्थी हमेशा खुद को एक अच्छी post पर पहुंचाने के लिए बेहतर प्रयास करता है।

विद्यार्थी के सामने SHO बनने का एक सुनहरा अवसर होता है। इस तरह के करियर को बनाकर विद्यार्थी अच्छा पैसा भी कमा सकता है और नाम भी कमा सकता है आज के आर्टिकल में हम आपको SHO kaise bane? इसके बारे में details में जानकारी देंगे।

SHO कौन होता है?

प्रत्येक तहसील में एक पुलिस थाना जरूर होता है और पुलिस थाने के प्रभारी को SHO कहा जाता है। SHO बनना खासतौर से राजस्थान में काफी सम्मान जनक माना जाता है। लोगों की s.h.o. बनने के बाद वैल्यू भी बढ़ जाती है।

पुलिस थाना प्रभारी बनने का सपना कई लोग देखते हैं। लेकिन आज के समय में हर जगह पर पुलिस के क्षेत्र में काफी ज्यादा प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है और इसी के चलते लोग अपने सपने को पूरा नहीं कर पाते हैं। एसएचओ बनने के बाद आपको पूरे पुलिस थाने का कामकाज बड़ी जिम्मेदारी के साथ सभालना होता है। पुलिस थाने के incharge के तौर पर आपको SHO पद पर नियुक्त किया जाता है।

SHO Full Form in Hindi/English

SHO की full form अंग्रेजी में “Station House Officer” होता है और हिंदी में एस एच ओ का पूरा नाम “पुलिस निरीक्षक” या थाना प्रभारी होता है।

SHO बनने के लिए जरूरी योग्यता

पुलिस डिपार्टमेंट में एसएचओ बनना काफी आसान बात माना जाता है। एसएचओ बनने के लिए उम्मीदवार को सबसे पहले ASI बनाना पड़ता है। एएसआई बनने के बाद उम्मीदवार को पुलिस चौकी में एसएचओ बनाकर चयनित कर दिया जाता है, या फिर प्रमोट कर के एसएचओ बना दिया जाता है। SHO बनने के लिए पहले आप SI यानी कि Sub Inspector भी बन सकते हैं और उसके बाद आपको Sub Inspector से एसएचओ के पद पर प्रमोट किया जा सकता है।

सामान्य तौर पर एसएचओ डायरेक्ट भर्ती के रूप में यदि चयनित होने का प्लान बना रहे हैं, तो ऐसे में आपको दसवीं कक्षा और बारहवीं कक्षा 60% अंकों के साथ पास करने के साथ-साथ आपके पास ग्रेजुएशन होना अनिवार्य है। ग्रेजुएशन के बाद ही आप एसएचओ भर्ती में आवेदन लगाकर चयनित हो सकते हैं।

SHO कैसे बने? (SHO kaise bane in Hindi 2022)

SHO Kaise Bane? 2022 में SHO की full form से Salary तक की पूरी जानकारी

जो उम्मीदवार SHO बनना चाहता है। उस उम्मीदवार को कई अलग अलग तरीके मिलते हैं। हालांकि सरकार के द्वारा एक परीक्षा का आयोजन भी होता है। परंतु परीक्षा के माध्यम से बहुत कम लोगों को चयनित किया जाता है। ऐसे में आप प्रमोशन के जरिए SHO बन सकते हैं। ऐसा जो बनने के लिए पहले पुलिस विभाग के अन्य पदों पर कार्यरत होकर उसके बाद एसएचओ बन सकते हैं। एसएचओ बनने की मुख्य जानकारी नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई हैंः

1. कांस्टेबल से SHO बने

उम्मीदवार को एसएचओ बनने के लिए Constable बनने के बाद भी एसएचओ बनने का मौका मिलता है। सर्वप्रथम उम्मीदवार को दसवीं कक्षा और बारहवीं कक्षा पास करने के बाद पुलिस कांस्टेबल भर्ती में अपना आवेदन लगाना होगा और पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा होगा। उसके बाद उम्मीदवार को वर्क की रिपोर्ट पर future में आगे से आगे Permotion मिलते रहते हैं और ऐसे उम्मीदवार एसएचओ पद पर पहुंच जाता है।

2. ASI से SHO कैसे बने

यदि उम्मीदवार ASI (Assistant Sub Inspector) पद पर कार्यरत हो जाता है, तो उसके बाद भविष्य में उम्मीदवार को सब इंस्पेक्टर पद पर प्रमोट किया जाता है और उसे अगला प्रमोशन उम्मीदवार का एसएचओ के तौर पर होता है। इस प्रकार से उम्मीदवार असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर से SHO बन सकता है।

3. SI से SHO कैसे बने

पुलिस विभाग में एस आई यानी की सब इंस्पेक्टर पद की भर्ती का आयोजन मुख्य रूप से होता रहता है। सब इंस्पेक्टर बनने के लिए उम्मीदवार को सरकार के द्वारा आयोजित होने वाली सीधी भर्ती में आवेदन लगाकर सब इंस्पेक्टर का पद join करना होगा। उसके बाद उम्मीदवार को अगले चरण में promotion के द्वार पर एसएचओ पद पर promote कर दिया जाता है।

4. परीक्षा और भर्ती के माध्यम से SHO कैसे बने

जो उम्मीदवार सीधी भर्ती के माध्यम से SHO पद पर कार्यरत होना चाहते हैं। उम्मीदवारों को बताना चाहेंगे कि SHO के लिए सरकार के द्वारा बहुत ही कम भर्तियों का आयोजन किया जाता है। लेकिन फिर भी आप ग्रेजुएशन के बाद एसएचओ की भर्ती में अपना आवेदन लगाकर एसएचओ बन सकते हैं।

SDM कैसे बने, SDM से जुड़ी पूरी जानकारी?

Police Inspector कैसे बने, इंस्पेक्टर बनने को लेकर संपूर्ण जानकारी?

Tehsildar क्या होता है और तहसीलदार कैसे बने?

Income Tax Inspector क्या होता है और कैसे कैसे बने पूरी जानकारी?

SHO का काम क्या होता है?

एसएचओ पद पर कार्यरत उम्मीदवार को कई तरीके से अपनी भूमिका निभानी होती है। जिसकी जानकारी हम आपको नीचे कुछ इस प्रकार से दे रहे हैंः

  • जो उम्मीदवार SHO पद पर कार्यरत है। उस उम्मीदवार को अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था को बनाए रखने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी को निभाना होता है।
  • एसएचओ बनाने के पश्चात उम्मीदवार को अपने अंदर सभी कांस्टेबल को उनके कार्य के बारे में अवगत करवाना और उनके कार्य की रिपोर्ट की निगरानी करना होता है।
  • एसएचओ पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को समय-समय पर अपने क्षेत्र में निरीक्षण करना और सभी activity पर अपनी नजर रखना होता है।
  • एसएचओ पद पर कार्यरत उम्मीदवार को अपने पुलिस थाने में आने वाले किसी भी केस के बारे में जानकारी लेना और उसे हल करने और गुनहगार को सजा दिलाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाना होता है।

SHO की सैलरी कितनी होती है?

पुलिस थाने में जितने भी कर्मचारी काम करते हैं। उनमें से सबसे ऊंचा पद एसएचओ का होता है। एसएचओ पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को सरकार के द्वारा बेहतरीन बेसिक सैलरी के साथ-साथ अन्य कई प्रकार के सरकारी भत्ते भी उपलब्ध करवाए जाते हैं। एसएचओ पद पर काम करने वाले उम्मीदवार की सैलरी की बात की जाए, तो इस पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को प्रति महीना वेतन ₹45000 से लेकर ₹60000 दिया जाता है। इसके साथ ही साथ इस पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को कई प्रकार के सरकारी भत्ते भी मिलते हैं।

निष्कर्ष

देश में बहुत सारे उम्मीदवार अपने करियर को सुरक्षित करने के लिए कई तरीके से प्रयास करते हैं। SHO पद पर काम करने वाले सभी उम्मीदवारों को सैलरी के साथ साथ सम्मान भी मिलता है। आज के आर्टिकल में हमने आपको SHO kaise bane? इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई।

Leave a Comment