Stenographer कैसे बने? 2022 में स्टेनोग्राफर की पूरी जानकारी

सरकारी पद पर नौकरी हासिल करने का सपना हर व्यक्ति का रहता है। हर विद्यार्थी दसवीं कक्षा में होता है, तब से सरकारी नौकरी पाने का सपना देखना लग जाता है। लेकिन कई बार ऐसा होता है, कि विद्यार्थी सपने तो उसे देखता है। लेकिन जैसे-जैसे आगे बढ़ता है, तो व्यक्ति को हर सरकारी नौकरी की तलाश शुरू हो जाती है।

उसके मन में एक बात खटकती रहती है, कि जो भी सरकारी नौकरी मिल जाए खुश हूं। ऐसे में मास्टर डिग्री किए हुए बंदे भी Stenographer जैसी नौकरी पर अपना आवेदन लगाते हैं। और कई लोग मास्टर डिग्री के बाद स्टेनोग्राफर बनते भी है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको Stenographer kaise bane? इसके बारे में details में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

स्टेनोग्राफर क्या होता है? (Stenographer kya hota hai?)

Stenographer कैसे बने? 2022 में स्टेनोग्राफर की पूरी जानकारी

एजुकेशन के क्षेत्र में स्टेनोग्राफर का नाम तो आपने भी सुना ही होगा। स्टेनोग्राफर का मतलब आशुलिपि होता है हिंदी में इसे आशुलिपि कहते हैं और अंग्रेजी में इसे शॉर्टहैंड भी कहा जाता है। स्टेनोग्राफर के इस अर्थ का सारांश देखा जाए तो यह एक प्रकार का लिखने का तरीका है। स्टेनोग्राफर इसी कार्य को किया करते हैं।

स्टेनोग्राफर के माध्यम से कॉलेज और अदालत में किसी भी व्यक्ति द्वारा बोले गए शब्दों को कम समय में टाइप किया जाता है। आपने देखा होगा कि आज के समय में कंप्यूटर का जमाना बढ़ता जा रहा है। ऐसे में अदालत में होने वाले गवाहों के बयान को कंप्यूटर के माध्यम से ही टाइप किया जाता है और उन टाइप करने वाले उम्मीदवार को स्टेनोग्राफर कहा जाता है।

स्टेनोग्राफर का कार्य सिर्फ अदालत में ही नहीं कॉलेज और अन्य सरकारी संस्थानों में होता है और सभी सरकारी संस्थान जहां पर स्टेनोग्राफर की जरूरत होती है। वहां स्टेनोग्राफर अवश्य कार्यरत होते हैं। स्टेनोग्राफर जो उच्च गति में टाइपिंग करके कम समय में हर किसी भाषण या बयान को जल्द से जल्द लिख लेते हैं।

अवश्य पढ़ें:-

स्टेनोग्राफर बनने के लिए जरूरी योग्यता

हर सरकारी नौकरी को हासिल करने के लिए विद्यार्थी के पास सरकारी नौकरी के लायक योग्यता होनी जरूरी है और स्टेनोग्राफर बनने के लिए विद्यार्थी के पास क्या योग्यता होनी चाहिए। उसकी जानकारी हम आपको नीचे दे रहे हैंः

1. विद्यार्थी 12वीं कक्षा में पास होना अनिवार्य है 12वीं कक्षा पास करने के पश्चात विद्यार्थी के पास स्टेनोग्राफी से संबंधित 1 साल का डिप्लोमा होना जरूरी है। स्टेनोग्राफर के लिए डिप्लोमा सी और डी ग्रेड दोनों तरह के मौजूद होते हैं।

2.लेकिन यदि आपके पास डी ग्रेड डिप्लोमा है, तो उसके पश्चात आपको 12वीं के बाद ग्रेजुएशन की डिग्री भी लेनी होगी।

3. स्टेनोग्राफर बनने के लिए उम्र का भी निर्धारण किया गया है। यहां आयु 18 वर्ष से लेकर 30 वर्ष के बीच रखी गई है और सरकार के द्वारा आरक्षित जातियों को अलग से छूट प्रदान कर रही गई है।

स्टेनोग्राफर का सिलेबस

हर सरकारी नौकरी के लिए पहले से ही एक निर्धारित सिलेबस की घोषणा होती है और उसी सिलेबस के आधार पर विद्यार्थियों को परीक्षा में सवाल पूछे जाते हैं। स्टेनोग्राफर का सिलेबस क्या है इसकी जानकारी नीचे दी गई हैः

  • इंग्लिश व्याकरण
  • हिंदी ग्रामर
  • इंग्लिश एक्टिव एंड पैसिव वॉइस
  • डायरेक्ट एंड इनडायरेक्ट
  • फिल इन द ब्लैंक्स
  • वोकैबलरी
  • सामान्य जागरूकता
  • इतिहास
  • भूगोल
  • संविधान
  • सामान्य जीके
  • करंट अफेयर
  • तर्कशक्ति के रिजनिंग सवाल
  • गणित

स्टेनोग्राफर कैसे बने? (Stenographer kaise bane?)

स्टेनोग्राफर बनने के लिए जो उम्मीदवार तैयारी कर रहे हैं। उन उम्मीदवारों को बताना चाहूंगा, कि स्टेनोग्राफर की तैयारी करने के लिए आपको stenographer kaise bane? इसके बारे में जानकारी होना जरूरी है। Stenographer kaise bane? इसकी जानकारी हम आपको कुछ विशेष प्रकार से बता रहे हैंः

1. स्टेनोग्राफर बनने के लिए आपके पास 12वीं कक्षा का सर्टिफिकेट होना चाहिए आप 12वीं कक्षा के साथ ही साथ कंप्यूटर के बारे में अच्छी खासी जानकारी संग्रहित कर लें। क्योंकि स्टेनोग्राफर पद पर कार्यरत होने के बाद आपको कंप्यूटर का कार्य करना होगा।

2. 12वीं कक्षा पास करने के बाद कंप्यूटर के बारे में जब आप अच्छी जानकारी ले लेते हैं और टाइपिंग बेहतरीन कर लेते हैं, तो उसके पश्चात आपको ग्रेजुएशन करना है और स्टेनोग्राफर का डिप्लोमा करना है।

3. जब आप योग्यता मापदंड को पूरा कर लेते हैं, तो उसके पश्चात सरकार के द्वारा निकाली जाने वाली स्टेनोग्राफर भर्ती में आपको आवेदन लगाना है और उस परीक्षा भर्ती में सम्मिलित होकर स्टेनोग्राफर बनने के लिए परीक्षा को पास करना है।

4. स्टेनोग्राफर बनने वाले विद्यार्थी को हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं और दोनों भाषा में टाइपिंग स्पीड का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

स्टेनोग्राफर एग्जाम पैटर्न

स्टेनोग्राफर पद पर निकाली जाने वाली भर्ती के एग्जाम पैटर्न की बात करें, तो इस भर्ती के एग्जाम पैटर्न कुछ इस प्रकार से हैः

  • स्टेनोग्राफर में एक लिखित परीक्षा का आयोजन होता है।
  • इस लिखित परीक्षा में सामान्य ज्ञान अंग्रेजी और सामान्य तर्क शक्ति के कई प्रकार के सवाल पूछे जाते हैं।
  • जहां सामान्य ज्ञान और तर्क शक्ति के 50 50 सवाल पूछे जाते हैं।
  • सामान्य जागरूकता और अंग्रेजी के 50 का सवाल यानी कि कुल 200 सवाल का एग्जाम पेपर आपके सामने आता है।
  • एग्जाम पेपर को हल करने के लिए आपको 2 घंटे का समय मिलता है।
  • विकलांग लोगों के लिए 2 घंटे और 40 मिनट का समय इस एग्जाम पेपर को क्लियर करने के लिए दिया जाता है।

स्टेनोग्राफर की सैलरी कितनी होती है? (Stenographer Salary in Hindi)

जो भी उम्मीदवार स्टेनोग्राफर बन जाता है और उसके पश्चात उम्मीदवार को स्टेनोग्राफर पद पर कार्यरत रहते हुए कितनी सैलरी मिलेगी। इसके बारे में हर स्टेनोग्राफर की तैयारी करने वाला विद्यार्थी जानकारी लेना चाहता है।

स्टेनोग्राफर भर्ती सी ग्रेड के विद्यार्थियों को बेसिक सैलरी ₹9300 से लेकर ₹38800 मिलती है और इसके अलावा कई प्रकार के सरकारी भत्ते भी दिए जाते हैं।

 स्टेनोग्राफर के डी ग्रेड भर्ती से चयनित होने वाले विद्यार्थियों को बेसिक सैलरी ₹5200 से लेकर ₹20200 प्रति महीना दी जाती है और इसके अलावा कई प्रकार के सरकारी भत्ते दिए जाते हैं।

निष्कर्ष

देश में हर सरकारी नौकरी के लिए विद्यार्थियों की लाइनें बहुत लंबी लगी हुई है। हर सरकारी नौकरी हासिल करने वाला विद्यार्थी सरकारी नौकरी पाने के पश्चात काफी गर्व महसूस करता है। देश में स्टेनोग्राफर पद पर निश्चित तौर पर भर्तियों का आयोजन किया जाता है। रिक्त पदों के आधार पर अलग-अलग भर्तियों का आयोजन अक्सर होता रहता है।

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको Stenographer kaise bane? इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है। हमें आशा है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी।

Leave a Comment