STET और UPTET में क्या अंतर है? | STET and UPTET Difference in Hindi 2023

वर्तमान समय में अधिकांश युवा कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक पढ़ाने वाले शिक्षक बनना चाहते हैं। इस पद पर अच्छा वेतन दिया जाता है तथा यह एक सरकारी नौकरी है जिसे लेकर समाज में अत्यधिक सम्मान मिलता है। लेकिन आज के समय में यहां पर बढ़ती प्रतिस्पर्धा के कारण अपना स्थान बनाए रखना काफी मुश्किल हो जाता है। आज के समय में बढ़ती प्रतिस्पर्धा के कारण इन सभी परीक्षाओं को भी कठिन कर दिया गया है तथा प्रत्येक राज्य के अनुसार और पद के अनुसार विभिन्न प्रकार की परीक्षाओं का आयोजन करवाया जाता है, जिससे विद्यार्थी असमंजस में भी पड़ जाते हैं और अधिकांश विद्यार्थियों को तो इन सभी परीक्षाओं के बारे में पता भी नहीं होता है।

इन दिनों शिक्षक बनने की तैयारी करने वाले विद्यार्थी सच में इस बात से वाकिफ ही नहीं है कि शिक्षक बनने के लिए कौन-कौन सी परीक्षाएं देनी होती है तथा शिक्षक बनने के लिए कौन-कौन सी परीक्षाओं में समानता है? कौन-कौन सी परीक्षाए है? हमारे लिए शिक्षक बनने के लिए कौन सी परीक्षा सही है? शिक्षक बनने के लिए हमारे लिए कौन सी परीक्षा सही नहीं है? इस बारे में भी विद्यार्थियों को अधिक जानकारी पता नहीं है या तो वे शिक्षक बनने वाली अधिक परीक्षाओं के बारे में जानते ही नहीं है और जो लोग थोड़ा बहुत जानते हैं उन्हें सभी परीक्षाओं में केवल समानता ही नजर आती है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। प्रत्येक परीक्षा का एक अलग पैटर्न होता है और आज के समय में तो सभी राज्य के अनुसार अलग-अलग परीक्षाओं का आयोजन करवाया जाता है।

राज्य के अनुसार शिक्षक परीक्षाओं का आयोजन करवाया जाता है जैसे उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती के लिए UP-TET परीक्षा होती है, वैसे ही राजस्थान में REET की परीक्षा होती है। इसी प्रकार भारत के सभी राज्यों के अनुसार राज्य शिक्षा बोर्ड द्वारा अलग-अलग परीक्षाओं का आयोजन करवाया जाता है। लेकिन संपूर्ण भारत में प्रत्येक राज्य के अंतर्गत एक राज्यस्तरीय प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा भी आयोजित करवाई जाती है जिसे STET परीक्षा कहते हैं। विशेष रूप से उत्तर प्रदेश के युवा अपने राज्य स्तरीय बोर्ड की परीक्षा और STET और UPTET परीक्षा में अंतर नहीं समझ पाते हैं, उन्हें यह दोनों एक ही परीक्षा लगती है तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको दोनों परीक्षाओं के बीच का अंतर स्पष्ट रूप से बताने वाले हैं। तो चलिए शुरू करते हैं:

STET परीक्षा क्या होती है? —

STET एक राज्यस्तरीय शिक्षक भर्ती परीक्षा है, जिसका आयोजन शिक्षक बनने की नियुक्ति के लिए करवाया जाता है। यह परीक्षा राज्य सरकारों द्वारा शिक्षक भर्ती के लिए आयोजित करवाई जाती है। प्रत्येक वर्ष में इस परीक्षा का आयोजन सामान्य तौर पर दो बार करवाया जाता है। कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने वाले शिक्षकों के लिए यह परीक्षा आयोजित करवाई जाती है। STET का full form State Teacher Eligibility Test होता है जिस का हिंदी में अर्थ जाने तो “राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा” होता है। अगर आपको भी शिक्षक बनाना चाहते हैं तो आपको यह परीक्षा पास करनी होगी।

UP-TET परीक्षा क्या होती है? —

UP-TET परीक्षा को उत्तर प्रदेश के नागरिकों के शिक्षक बनने के लिए आयोजित करवाया जाता है। इस परीक्षा का आयोजन मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश के अंतर्गत शिक्षक भर्ती के लिए करवाया जाता है जैसा कि हमने आपको बताया है। प्रत्येक राज्य के अंतर्गत एक से अधिक प्रकार की शिक्षक भर्ती परीक्षाएं होती है। ठीक उसी प्रकार उत्तर प्रदेश राज्य में भी उत्तर प्रदेश राज्य शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रदेश में नए शिक्षकों की नियुक्ति के लिए UP-TET परीक्षा का आयोजन करवाया जाता है। UP-TET का full form Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test होता है। UP-TET का हिंदी में फुल फॉर्म उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा होता है। UP-TET की परीक्षा दो भागों में करवाई जाती है।

STET Aur UPTET Me Kya Anter Hai? (STET vs UPTET in Hindi 2023)

STET aur UPTET me kya anter hai

UP-TET एवं STET परीक्षा के प्रकार —

UP-TET एवं STET दोनों ही परीक्षाओं के दो प्रकार होते हैं। दोनों ही प्रकार अलग-अलग अभ्यर्थियों के लिए होते हैं। UP-TET एवं STET परीक्षा के प्रथम प्रकार के अंतर्गत Paper -1 आता है। इस परीक्षा के अंतर्गत बनने वाले शिक्षक कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5 तक के बच्चों को पढ़ाते हैं जबकि UP-TET एवं STET परीक्षा के दूसरे प्रकार को Paper-2 कहते हैं। इस परीक्षा के अंतर्गत पास होने वाले उम्मीदवार शिक्षक के रूप में कक्षा 6 से लेकर कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाते हैं। इसके अलावा इन दोनों ही परीक्षाओं की समानता यह है कि इसके अंतर्गत राज्य स्तरीय शिक्षक नियुक्तियां होती है।

UP-TET के लिए योग्यता —

UP-TET परीक्षा देने के लिए आपको पहले अपनी योग्यता सिद्ध करनी होगी। उसके बाद ही आप उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा को दे सकते हैं। इस परीक्षा के लिए निर्धारित की गई योग्यता निम्नलिखित हैं —

  • UP-TET परीक्षा देने के लिए अभ्यर्थी किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास होना चाहिए।
  • बारहवीं कक्षा किसी भी विषय के अंतर्गत किसी भी वर्ष में पास कर सकते हैं।
  • अभ्यर्थी के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।
  • ग्रेजुएशन की डिग्री अभ्यर्थी BA, BSC, B.COM आदि किसी भी विषय से भी कर सकते हैं।
  • Graduation में कम से कम 45% मार्क्स से पास होना चाहिए।
  • UP-TET परीक्षा देने वाला अभ्यर्थी D.El.Ed पास होना चाहिए।
  • इस जॉब में अप्लाई करने के लिए आपको Graduation, और D.El.Ed में पास होना चाहिए।
  • अगर आप Graduation या D.El.Ed की लास्ट ईयर में है तो आप इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं।
  • UP-TET के लिए Post Graduation या B.Ed होना कंपलसरी नहीं है।

STET के लिए योग्यता —

राज्य स्तरीय शिक्षक पात्रता परीक्षा STET देने के लिए आपके पास कुछ योग्यता का होना जरूरी है। इस परीक्षा को देने के लिए और कुछ योग्यता निर्धारित की गई है। इन योग्यताओं के नाम इस प्रकार हैं —

  • अभ्यर्थी का किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है।
  • 12वीं को किसी भी विषय के अंतर्गत कर सकते हैं लेकिन 50% अंक प्राप्त करना अनिवार्य है।
  • विद्यार्थी के पास 2 साल का डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन होना चाहिए।
  • 2 साल का डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन नहीं है तो विद्यार्थी को 12वीं कक्षा में 50% अंकों के साथ 4 साल का बैचलर ऑफ एलिमेंट्री एजुकेशन होना चाहिए।
  • विद्यार्थी 12वीं कक्षा में 50% अंकों के साथ 2 साल का डिप्लोमा इन एजुकेशन के साथ भी अपनी योग्यता सिद्ध कर सकता है।

UP-TET का Syllabus

Paper-1 — इसमें 2 भाषाएं होती हैं पहली हिंदी भाषा में 30 प्रश्न होते हैं जबकि दूसरी भाषा के अंतर्गत अंग्रेजी संस्कृत एवं उर्दू के अंतर्गत 30 प्रश्न होते हैं। आप अंग्रेजी उर्दू अथवा संस्कृत इन तीनों में से किसी भी भाषा का चयन कर सकते हैं। इस परीक्षा के अंतर्गत पर्यावरण से संबंधित 30 प्रश्न पूछे जाते हैं जबकि गणित से संबंधित भी 30 प्रश्न होते हैं। कुल 150 मिनट के अंतर्गत आपको 150 प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं जिसमें बहुविकल्पी प्रश्न भी शामिल है। इस पेपर के अंतर्गत नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है।

Paper-2 — इस पेपर के अंतर्गत 2 भाषाएं होती है प्रथम हिंदी भाषा में 30 प्रश्न आते हैं जबकि द्वितीय भाषा के अंतर्गत आप संस्कृत अंग्रेजी अथवा उर्दू भाषा का चयन कर सकते हैं। इन भाषाओं के अंतर्गत द्वितीय प्रश्न पूछे जाते हैं इसके अलावा गणित और विज्ञान तथा सामाजिक विज्ञान इनमें से किसी एक का चयन करना होता है। इस विषय से संबंधित 7 प्रश्न पूछे जाते हैं। कुल 150 मिनट के अंतर्गत 150 प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं। यह पेपर बहुविकल्पी प्रश्न के साथ आता है जिसमें नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है।

STET का Syllabus—

Paper-1 — इस परीक्षा के अंतर्गत कुल 2 भाषाएं चयनित की गई है। आप किसी भी एक भाषा का चयन कर सकते हैं जिसमें प्रथम सामान्य हिंदी भाषा होती है। इसके अंतर्गत 40 अंकों के प्रश्न पूछे जाते हैं जबकि नीतियां भाषा के अंतर्गत अंग्रेजी अथवा संस्कृत भाषा का चयन कर सकते हैं। इस भाषा के अंतर्गत भी 40 अंकों के प्रश्न पूछे जाते हैं इसके अलावा बाकी सभी विषयों के अंको को मिलाकर 150 अंक होते हैं। इस प्रश्न पत्र को हल करने के लिए आपको 2.5 घंटे का समय मिल जाता है।

Paper-2 — इस परीक्षा को आप दो भाषा में से अपनी भाषा का चयन करके दे सकते हैं। प्रथम भाषा के अंतर्गत हिंदी भाषा प्राथमिक भाषा है जबकि दूसरी भाषा के अंतर्गत आप अंग्रेजी अथवा संस्कृत में से अपनी भाषा का चयन कर सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि हिंदी भाषा के अंतर्गत 40 अंकों के प्रश्न पूछे जाते हैं जबकि द्वितीय भाषा के अंतर्गत भी 40 प्रश्नों के उत्तर जाते हैं। कुल मिलाकर सभी विषयों के अंतर्गत 150 अंक होते हैं इस प्रश्न पत्र को ढाई घंटे में हल करना होता है।

Conclusion

UP-TET एवं STET दोनों ही परीक्षाएं मुख्य रूप से समानता दर्शाती है। लेकिन दोनों में कुछ छोटी-छोटी भिन्नताएं भी है जो आपके लिए जागना बेहद जरूरी है वैसे दोनो ही परीक्षाओं में मुख्य रूप से कोई बहुत बड़ा अंतर नहीं है, फिर भी UP-TET एवं STET में अंतर जानने के लिए आप इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पढ़ सकते हैं। इस आर्टिकल में दोनों ही परीक्षाओं से संबंधित पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक बताई गई है। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम पूरी कोशिश करेंगे कि आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न का उत्तर समय पर देने की पूरी कोशिश करेंगे। अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है? तो इसे आप अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया के जरिए शेयर कर सकते हैं।