TET, UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET में क्या अंतर है? Hindi 2022

TET, UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET एक ही उद्देश्य के लिए करवाई जाने वाली परीक्षाएं हैं जिनको स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए आयोजित करवाया जाता है। इन परीक्षाओं को करवाने का मंतव चाहे समान है लेकिन फिर भी कुछ अंतर हैं जो आपको जानना जरूरी है। TET, UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET क्या अंतर है से जुड़े सभी सवालों के जवाब बड़े ही सरल तरीके से देने की कोशिश करेंगे।

एक समय वह भी था जब शिक्षक बनने के लिए कुछ खास एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया नहीं होता था इसीलिए शिक्षक बनना काफी आसान था। लेकिन आज के समय में ऐसा नहीं है ग्रेजुएशन करने के बाद भी अलग से परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं जिनको पास करने के बाद शिक्षक का पद प्राप्त होता है। कहा जाए तो सरकारी अध्यापक बनना इतना सरल नहीं रहा क्योंकि competition का दौर काफी ज्यादा बढ़ रहा है। ऐसे में कड़ी मेहनत के साथ-साथ smart study करना भी आवश्यक हो गया है।

वैसे तो बहुत सारी सरकारी नौकरियां होते हैं लेकिन ज्यादातर लोग शिक्षक की नौकरी करना ज्यादा पसंद करते हैं क्योंकि यह नौकरी कुछ घंटों की होने के साथ ही अच्छा करियर भी होती है। एक शिक्षक ही होता है जो ज्ञान का उजाला बिखेरता है बच्चों के भविष्य को संवारता है। एक शिक्षक का पद सम्मान के साथ अच्छा career भी साबित होता है। तो चलिए दोस्तों जानते हैं एक शिक्षक बनने के लिए UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET क्यों जरूरी हैं? और इनमें क्या अंतर है?

TET क्या है in Hindi 2022?

UPTET, CTET, PTET, HTET aur Super TET

TET की full form “Teacher Eligibility test” या “अध्यापक पात्रता परीक्षा” होता है जो शिक्षकों की नियुक्ति हेतु आयोजित करवाई जाने वाली परीक्षा होती है। यह एक भारतीय Entrance Test होता है जो के सरकारी अध्यापक बनने के लिए जरूरी कर दिया गया है। तेत एग्जाम में कुल 2 पेपर होते हैं जो कक्षा 1 से 8 तक पढ़ाने के लिए करवाए जाते हैं। टेट पेपर-1 देने के बाद कक्षा 1 से 5 तक और पेपर-2 देने के बाद 6 से लेकर 8 तक पढ़ा सकते हैं।

UPTET क्या है in Hindi 2022?

UPTET की full form “Uttar Pardesh Teacher Eligibility Test” है जो कि UPBEB (Uttar Pardesh Basic Education Board) द्वारा आयोजित करवाया जाता है। यूपी टेट परीक्षा उत्तर प्रदेश के प्राइमरी और सेकेंडरी विद्यालयों में शिक्षकों की भर्ती के लिए करवाई जाती हैं।

यह भी देखें:- UP LT Grade अध्यापक कैसे बने पूरी जानकारी।

CTET क्या है?

CTET की full form “Central Teacher Eligibility Test” या “केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा” है जो कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड या CBSC (Central Board of Secondary Education) द्वारा सरकारी विद्यालयों में अध्यापकों की भर्ती के लिए आयोजित करवाई जाती है।

PTET क्या है?

PTET की full form “Pre Teacher Education Test” है जो राजस्थान B.Ed कोर्स के नाम से भी जाना जाता है। इस परीक्षा को 2nd ग्रेड और 3rd ग्रेड अध्यापकों की योग्यता को परखने के लिए करवाया जाता है। कोई भी उम्मीदवार ग्रेजुएशन करने के बाद इस कोर्स को कर सकता है। पीटीईटी एक तरह की प्रवेश परीक्षा होती है जिसे करने के बाद उम्मीदवार शिक्षक प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग ले सकता है।

HTET क्या है?

HTET का full form “Haryana Teacher Eligibility Test” या “हरियाणा शिक्षक पात्रता परीक्षा” होता है जो HSTSB (Haryana School Teacher Selection Board) द्वारा हरियाणा राज्य में शिक्षकों की भर्ती हेतु करवाई जाने वाली परीक्षा है। HTET एक तरह की प्रवेश परीक्षा होती है जिसे करने के बाद उम्मीदवारों हरियाणा में होने वाले अध्यापक प्रतियोगी परीक्षा में भाग ले सकता है।

SuperTET क्या है?

SuperTET की full form “Super Teacher Eligibility Test” होता है UP Basic Education Board द्वारा सरकारी शिक्षकों की भर्ती के लिए करवाई जाने वाली प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्तर परीक्षा होती है। सुपर टेट परीक्षा में भाग लेने के लिए उम्मीदवार द्वारा ग्रेजुएशन के बाद CTET/UPTET परीक्षा पास होना जरूरी है। अगर आपका सपना उत्तर प्रदेश में अध्यापक बनने का है तो आप सुपर टेट परीक्षा दे सकते हैं।

TET, UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET में क्या अंतर है?

अगर देखा जाए तो TET, UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET परीक्षा करवाने का मूल उद्देश्य एक ही है जोके सरकारी अध्यापकों की योग्यता को परखना है। यह सभी परीक्षाएं पास करने के बाद कोई भी उम्मीदवार शिक्षक प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने के योग्य होता है। एक तरह की प्रवेश परीक्षाएं (Entrance Test) होती हैं जिनको पास करना अनिवार्य कर दिया गया है अगर आप सरकारी अध्यापक बनने की इच्छा रखते हैं। इन अलग अलग राज्य में करवाई जाने वाली परीक्षाओं का आधार एक ही है। इन परीक्षाओं का मूल अंतर यही है कि यह सभी परीक्षाएं अलग-अलग स्टेट बोर्ड द्वारा आयोजित करवाई जाती हैं

निष्कर्ष:-

तो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट में आपने सीखा कि TET, UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET में क्या अंतर है? और यह परीक्षाएं क्यों करवाई जाती हैं। इसके साथ ही आपने इन परीक्षाओं की full form और meaning के बरे में समझा। उम्मीद करते हैं अब तक आपको क्लियर हो चुका होगा कि TET, UPTET, CTET, PTET, HTET और Super TET में क्या अंतर है? यदि फिर भी आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिखते हैं। अगर आपको यह पोस्ट थोड़ी सी भी helpful लगी है तो प्लीज हमें सपोर्ट करने के लिए इसे अपने सोशल मीडिया पर Share जरूर करें, धन्यवाद।

 

Leave a Comment